Home /News /career /

Education Survey: पाकिस्तान के 90% छात्र हैं इन विषयों में कमजोर, चौंका देंगे गजब आंकड़े

Education Survey: पाकिस्तान के 90% छात्र हैं इन विषयों में कमजोर, चौंका देंगे गजब आंकड़े

Pakistan News: इस सर्वे का रिजल्ट जानकर आप चौंक जाएंगे

Pakistan News: इस सर्वे का रिजल्ट जानकर आप चौंक जाएंगे

Education Survey, Pakistan: 'द न्यूज इंटरनेशनल' (The News International) की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान (Pakistan News) के 153 सरकारी और निजी स्कूलों में कक्षा पांच, छह और आठ के 15 हजार से ज्यादा छात्रों पर एक सर्वे किया गया था. यह सर्वे पाकिस्तान के उच्च शिक्षा आयोग (Higher Education Commission Pakistan) द्वारा फंडेड था. इसमें कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. इसके मुताबिक, पाकिस्तान के 90% छात्र गणित (Math) और विज्ञान (Science) जैसे प्रमुख विषयों में कमजोर हैं. अंग्रेजी विषय (English Subject) को लेकर भी उनकी जानकारी काफी कम पाई गई.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली (Education Survey, Pakistan News). पाकिस्तान के उच्च शिक्षा आयोग (Pakistan’s Higher Education Commission) ने ‘इंस्टीट्यूट फॉर एजुकेशनल डेवलपमेंट पाकिस्तान’ (Institute for Educational Development Pakistan) को एक खास स्टडी के लिए फंडिंग दी थी. इससे पाकिस्तान की खस्ताहाल शिक्षा व्यवस्था (Education System) की  पोल खुल गई है. इस एजुकेशन सर्वे (Education Survey) में पाकिस्तान के 153 सरकारी और निजी स्कूलों में कक्षा पांच, छह और आठ के 15 हजार से ज्यादा छात्रों की असलियत सामने आ गई है (Pakistan Schools).

‘द न्यूज इंटरनेशनल’ (The News International) की खबर के अनुसार, आगा खान यूनिवर्सिटी (Aga Khan University) के ‘इंस्टीट्यूट फॉर एजुकेशनल डेवलपमेंट पाकिस्तान’ (आईईडी) ने यह स्टडी की थी. इससे इतना तो साफ हो गया है कि पाकिस्तान में छात्रों की अंग्रेजी का तो बुरा हाल है ही, अब गणित और विज्ञान में भी वे फिसड्डी पाए गए हैं. सर्वे का नतीजा जानकर आप भी चौंक जाएंगे.

बेसिक्स की नहीं है समझ
पाकिस्तान (Pakistan) में प्राइमरी और लोअर-सेकेंडरी स्कूलों के 90 प्रतिशत से ज्यादा छात्र पढ़ाई में बहुत कमजोर हैं. उनमें गणित और विज्ञान जैसे मुख्य विषयों की बुनियादी समझ की कमी है. आईईडी (IED) द्वारा की गई इस स्टडी में पाया गया कि 50 छात्रों में से सिर्फ एक के पास शब्दों में लिखी गई संख्याओं को संख्यात्मक रूपों में बदलने की बुनियादी क्षमता थी.

ये भी पढ़ें:
UP Board Exam 2022: आप भी बन जाएंगे इस साल के टॉपर, ऐसे करें यूपी बोर्ड परीक्षा की तैयारी
Bihar Board Exam 2022: ठंड में भी चप्पल पहनकर परीक्षा देंगे बिहार बोर्ड के छात्र, पढ़िए अजीब फरमान

निजी स्कूलों का रिजल्ट था बेहतर
स्टडी के अनुसार, छात्रों को गणित में औसत अंक 100 में से 27 मिले थे, जबकि विज्ञान में औसत अंक 100 में से 34 रहे. सिर्फ एक प्रतिशत छात्रों ने किसी भी विषय में 80 से अधिक अंक प्राप्त किए, जिसे शोधकर्ताओं ने उत्कृष्ट समझ कहा है. स्टडी में कहा गया है कि निजी स्कूलों में औसत स्कोर सरकारी स्कूलों की तुलना में ज्यादा था, लेकिन किसी भी विषय में 40 से अधिक नहीं था. पंजाब में औसत अंक देश के सभी क्षेत्रों में सबसे ज्यादा था. इस स्टडी में कुल 78 सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों और 75 निजी स्कूलों ने भाग लिया था.

Tags: Education, International news, Pakistan, Pakistan news, Survey, पाकिस्तान

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर