• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • काम की बात: पंजाब सरकार का निर्देश- इस वर्ष फीस न बढ़ाएं प्राइवेट स्कूल

काम की बात: पंजाब सरकार का निर्देश- इस वर्ष फीस न बढ़ाएं प्राइवेट स्कूल

देशभर के स्कूल पिछले 4 महीने से बंद हैं.

देशभर के स्कूल पिछले 4 महीने से बंद हैं.

जो स्कूलों(School) ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान ऑनलाइन शिक्षा प्रदान कर रहे हैं, वह बिल्डिंग के खर्चे, परिवहन के खर्चे, खाने के खर्चे आदि के सिवाय सिर्फ ट्यूशन फीस (Fees) ले सकते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पंजाब सरकार (Punjab Government) ने प्राइवेट स्कूलों को शैक्षणिक सत्र 2020-2021 में फीस में वृद्धि न करने के लिए कहा है. राज्य में सभी निजी और गैर सहायता प्राप्त स्कूलों के प्रबंधकों/प्रिंसिपलों को लिखे पत्र में पब्लिक इंस्ट्रक्शन (सेकेंडरी शिक्षा) सुखजीत पाल सिंह ने कहा कि यह फैसला लॉकडाउन के मद्देनजर लिया गया है. इस पत्र में स्कूलों के प्रबंधकों/प्रिंसिपलों को कहा गया है कि उनकी तरफ से बच्चों के माता-पिता को मासिक या त्रैमासिक फीस भरने की छूट दी जानी चाहिए.

    स्कूलों प्रबंधकों को उन बच्चों के मामले को सहानुभूतिपूर्वक विचार करने के लिए कहा गया है, जिनके माता-पिता की आजीविका लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुई है. ऐसे विद्यार्थियों को फीस में रियायत/फीस माफ करने के लिए भी कहा गया है. फीस न भरेने पर किसी भी बच्चे की शिक्षा (ऑनलाइन या रेगुलर) प्राप्ति को न रोकने के लिए भी कहा गया है.

    किसी का वेतन न रोंके स्कूल
    इन निदेर्शों में स्कूल प्रबंधन की तरफ से किसी भी अध्यापक को हटाने या मासिक वेतन में कटौती या टीचिंग/नॉन-टीचिंग स्टाफ के कुल खर्चों में कोई कटौती न किये जाने की बात कही गई है. स्कूल ऑनलाइन/डिस्टैंस लर्निंग प्रदान करने का प्रयास करेंगे जिससे कोविड-19 के मद्देनजऱ मौजूदा या भावी तालाबन्दी के कारण शिक्षा पर बुरा प्रभाव न पड़े.

    स्कूलों की तरफ से गर्मियों की छुट्टियों को छोड़कर तालाबंदी के दौरान कोई फीस न ली जाए. हालांकि, जिन स्कूलों ने लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन शिक्षा प्रदान की है या प्रदान कर रहे हैं, वह बिल्डिंग के खर्चे, परिवहन के खर्चे, खाने के खर्चे आदि के सिवाय सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- MP Board Exam Breaking: 10वीं के पेपर नहीं होंगे, 12वीं की परीक्षाएं 8 से 16 जून तक

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज