• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • सेमेस्टर एग्जाम को लेकर पंजाब विश्वविद्यालय ने जारी की गाइडलाइन, जुलाई में होंगे एग्जाम

सेमेस्टर एग्जाम को लेकर पंजाब विश्वविद्यालय ने जारी की गाइडलाइन, जुलाई में होंगे एग्जाम

पंजाब यूनिवर्सिटी जुलाई में सेमेस्टर एग्जाम कराएगी.

पंजाब यूनिवर्सिटी जुलाई में सेमेस्टर एग्जाम कराएगी.

रेड जोन (Red zone) इलाकों से आने वाले विद्यार्थियों (Students) को इस परीक्षा में नहीं बैठने दिया जाएगा. उनको अलग बैठाने की व्यवस्था होगी. परीक्षा (Exam) में एक कमरे में केवल 15 उम्मीदवार ही बैठ सकेंगे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पंजाब यूनिवर्सिटी (Punjab University) ने सेमेस्टर एग्जाम कराने की घोषणा कर दी है. यूनिवर्सिटी जुलाई से सेमेस्टर(Semester Exam) एग्जाम आयोजित करेगी. सेमेस्टर परीक्षाएं मानक संचालन प्रक्रियाओं (SOP) के तहत आयोजित होंगी. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार विश्वविद्यालय के प्रत्येक परीक्षा केंद्र (Exam center) पर एक सत्र में अधिकतम 150 उम्मीदवारों को परीक्षा में बैठने की अनुमति होगी. बता दें कि यह सेमेस्टर परीक्षा दो घंटे की होगी. इस दौरान एक कमरे में 15 से ज्यादा उम्मीदवार नहीं बैठ सकेंगे.

    पंजाब विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉक्टर परविंदर सिंह ने बताया कि परीक्षा के दौरान एक कमरे में 15 से ज्यादा विद्यार्थी परीक्षा नहीं दें सकेंगे. वहीं परीक्षा हाल में एक ही पर्यवेक्षक को जाने की अनुमति होगी. उन्होंने कहा कि रेड जोन वाले इलाकों के विद्यार्थियों को परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा. उनके लिए अगल से व्यवस्था की जाएगी.

    परीक्षा के दौरान मॉस्क लगाना होगा
    पंजाब विश्वविद्यालय ने अपने कर्मचारियों को कोविड-19 की स्थिति जांचने के लिए आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने के लिए भी कहा है. परीक्षा के दौरान विश्वविद्यालय के शिक्षकों, कर्मचारियों और विद्यार्थियों के लिए मॉस्क पहनना जरूरी है. परीक्षा हॉल में बैठने से पहले प्रत्येक छात्र की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और हर परीक्षा केंद्र को सही से साफ और सैनिटाइज किया जाएगा. परीक्षा नियंत्रक डॉ. परविंदर सिंह ने बताया कि इस दौरान आगर किसी छात्र या कर्मचारी में कोविड-19 के लक्षण दिखें तो उसे परीक्षा हॉल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

    लॉकडाउन ने पीछे छोड़ा
    देश में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लगा है. जो 31 मई तक लागू रहेगा. लॉकडाउन के कारण देश के स्कूल- कॉलेज और विश्वविद्यालय सभी बंद हैं. इसकी वजह से स्कूलों से लेकर विश्वविद्यालयों तक में परीक्षाएं नहीं हो पाई हैं. अब इन परीक्षाओं को पूरा कराने के लिए विश्वविद्यालय प्रयास कर रहा है, जिसके लिए नोटिफिकेशन जारी की गई है.

    अब देश में 31 जून के बाद लॉकडाउन खत्म होगा या जारी रहेगा, इस पर असमंजस बरकरार है. गृहमंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बारे में मुख्यमंत्रियों की राय के बारे में बता दिया है. इस बीच, ममता बनर्जी ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में एक जून से धार्मिक स्थल खोले जाएंगे, पर यहां एक बार में 10 से ज्यादा लोगों को जाने की इजाजत नहीं होगी.

    ये भी पढ़ें- देशभर के स्कूलों में बदल जाएगा पढ़ाई का तरीका, शिक्षा मंत्री निशंक ने किया बड़ा खुलासा

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज