Rajasthan Board Result 2020: ये थे राजस्थान बोर्ड 12वीं साइंस के पिछले टॉपर, 99.40 फीसदी मिले थे अंक

Rajasthan Board Result 2020: ये थे राजस्थान बोर्ड 12वीं साइंस के पिछले टॉपर, 99.40 फीसदी मिले थे अंक
राजस्थान बोर्ड ने फिलहाल टॉपर्स लिस्ट जारी करनी बंद कर दी है.

Rajasthan Board Result 2020: साल 2018 में भरतपुर के विश्वेंद्र सिंह इंदौलिया ने 12वीं साइंस में टॉप किया था. जानिए उनके बारे में और भी डिटेल.

  • Share this:
नई दिल्ली. राजस्थान बोर्ड आज 12वीं साइंस का रिजल्ट जारी करने वाला है. हम सभी की निगाहें टॉपर्स पर टिकी हुई हैं लेकिन फिलहाल राजस्थान बोर्ड टॉपर्स की लिस्ट जारी नहीं करता है. दरअसल, साल 2018 के बाद से ही राजस्थान बोर्ड ने टॉपर्स लिस्ट जारी करनी बंद कर दी. वास्तव में बोर्ड रिजल्ट जारी होने के बाद छात्रों ने उनकी आपत्तियां आमंत्रित करता है यानी कि अगर कोई छात्र अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं है तो वह अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकता है. बाद में उसकी चेकिंग करके संशोधित रिजल्ट जारी किया जाता है. हालांकि, उसके बाद भी राजस्थान बोर्ड टॉपर का नाम घोषित नहीं करता बल्कि सीधा टॉपर को गोल्ड मेडल दिया जाता है.

राजस्थान बोर्ड रिजल्ट से जुड़ी खबरें सबसे पहले पाने के लिए यहां रजिस्टर करें-

आईएएस बनना चाहते हैं विश्वेंद्र
विश्वेंद्र सिंह इंदौलिया की मार्कशीट
विश्वेंद्र सिंह इंदौलिया की मार्कशीट




तो इसलिए इससे पहले साल 2018 में ही टॉपर के नाम की घोषणा हुई थी. उस साल भरतपुर के विश्वेंद्र सिंह इंदौलिया ने 12वीं साइंस में टॉप किया था. रूपवास उपखण्ड के गांव बसेरी के 15 वर्षीय विश्वेन्द्र ने सर्वाधिक 99.40 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे. इस सफलता के बाद विश्वेंद्र ने कहा था कि उसका सपना साकार हुआ है. वह अपने आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा करने में जुटेगा. विश्वेंद्र का यह भी कहना था कि वह आईआईटी में प्रवेश लेकर उसके बाद आईएएस बनने का अपना सपना पूरा करेंगे.

ये भी पढेंः
Rajasthan Board Result: 12वीं साइंस का रिजल्ट आज आएगा, देखें rajresults.nic.in
RBSE 12th Science Result: राजस्थान बोर्ड 12वीं का रिजल्ट इन वेबसाइट्स पर देखें


इस साल परीक्षा कैंसिल करने के लिए दायर हुई थी याचिका
बता दें कि राजस्थान बोर्ड की परीक्षा को कैंसिल करने के लिए कुछ पैरेंट्स ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाली थी. जिसे सुप्रीम कोर्ट ने कैंसिल कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट में जे एएम खानविल्कर की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की एक विशेष पीठ ने माता-पिता द्वारा राजस्थान सरकार की निर्धारित 10वीं कक्षा 12वीं कक्षा के लिए राज्य बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के फैसले के खिलाफ एक आवश्यक याचिका पर सुनवाई की थी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि राजस्थान HC के आदेश को एक महीने पहले चुनौती दिया गया था और तब से परीक्षा केंद्रों में कोविड-19 पोज‍िट‍िव मामले नहीं आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading