लाइव टीवी
Elec-widget

वेस्ट बंगाल की रिटायर्ड प्रोफेसर ने एजुकेशन इंस्टिट्यूट्स को दान किए 97 लाख रुपये

News18Hindi
Updated: December 1, 2019, 4:58 PM IST
वेस्ट बंगाल की रिटायर्ड प्रोफेसर ने एजुकेशन इंस्टिट्यूट्स को दान किए 97 लाख रुपये
पहला दान 50,000 रुपये का किया था जो उन्होंने 2002 में विक्टोरिया संस्थान में किया था.

70 वर्षीय प्रोफेसर को पेंशन के रूप में प्रति माह 50,000 रुपये से अधिक मिलते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2019, 4:58 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल की एक सेवानिवृत्त प्रोफेसर ने दावा किया है कि उन्होंने 2002 से राज्य के शिक्षण संस्थानों को 97 लाख रुपये दान में दिए हैं. 70 वर्षीय प्रोफेसर को पेंशन के रूप में प्रति माह 50,000 रुपये से अधिक मिलते हैं.

चित्रलेखा मलिक कोलकाता के बागुइती इलाके में एक मामूली फ्लैट में रहती हैं. उन्होंने रविवार को ‘पीटीआई’ को बताया कि वह आर्थिक सहायता की आवश्यकता होने पर शोधकर्ताओं की मदद करना चाहती हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘97 लाख रुपये में से मैंने 50 लाख रुपये पिछले साल अपनी मातृसंस्था यादवपुर विश्वविद्यालय के अपने शोध मार्गदर्शक पंडित बिधुभूषण भट्टाचार्य की याद में दिया था.’’

शहर के राजा बाजार इलाके में स्थित विक्टोरिया संस्थान में संस्कृत की प्रोफेसर रहीं मलिक ने कहा कि उन्होंने अपने शोध मार्गदर्शक की पत्नी हेमवती भट्टाचार्य की याद में स्थापित छात्रों के लिए छात्रवृत्ति के मद में छह लाख रुपये दिए थे.

मलिक ने बताया कि उन्होंने अपना पहला दान 50,000 रुपये का किया था जो उन्होंने 2002 में विक्टोरिया संस्थान में राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (एनएएसी) के सदस्यों के दौरे से पहले बुनियादी ढांचा विकास के लिए दिया था.

उन्होंने अपने माता-पिता के नाम पर हावड़ा में इंडियन रिसर्च इंस्टीट्यूट फॉर इंटीग्रेटेड मेडिसिन (आईआरआईआईएम) के लिए 31 लाख रुपये की बड़ी राशि दानस्वरूप दी थी. मलिक ने बताया कि उन्होंने शेष रकम भी शिक्षा एवं गरीबों के कल्याण के लिए 2002 और 2018 के बीच विभिन्न संस्थानों को दी. (इनपुट- भाषा)

ये भी पढ़ें-
Loading...

अस्पताल में डॉक्टर एक हाथ पर लगा रहे थे इंजेक्शन और दूसरे हाथ में किताब थी
Sarkari Naukari: इस सरकारी विभाग में है नौकरी का मौका, 1.14 लाख होगी सैलरी
CBSE में कई पदों के लिए 357 वैकेंसी, आखिरी तारीख 16 दिसंबर, जानें डिटेल
नीट 2020: सुरक्षा के इंतज़ाम पुख़्ता, फर्जीवाड़े से डिग्री हासिल करना नामुमकिन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 4:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...