लाइव टीवी

रोबोट लेंगे अब कर्मियों की जगह, बैंकों से कटेंगी इतनी नौकरियां

News18Hindi
Updated: October 3, 2019, 11:07 AM IST
रोबोट लेंगे अब कर्मियों की जगह, बैंकों से कटेंगी इतनी नौकरियां
200,000 नौकरियों में होगी कटौती

बैंक ऑफिस, बैंक ब्रांच, कॉल सेंटर और कॉरपोरेट कर्मचारियों से जुड़े, तकनीक प्रभावित इंप्लॉइज की नौकरी में तीन से पांच फीसदी तक कटौती की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 3, 2019, 11:07 AM IST
  • Share this:
रिपोर्ट: अमेरिकी की बैंकिंग इंडस्ट्री के इतिहास में टेक्नोलॉजिकल इफिशिएंसी के कारण सबसे बड़ी कमी आएगी. वेल्स फारगो एंड कंपनी ने एक रिपोर्ट में कहा, अगले दशक में अनुमानित 200,000 नौकरियों में कटौती होगी.

देश की फाइनेंस फर्म्स सालाना 150 बिलियन डॉलर टेक (tech) पर खर्च कर रही हैं, ये खर्चा किसी भी अन्य उद्योग की तुलना में ज्यादा है. वेल्स फारगो एंड कंपनी के सिक्योरिटीज़ एलएलसी के एक सीनियर एनालिस्ट माइक मेयो ने कहा, सभी बैंक खर्चों में से आधे के लिए कर्मचारी मुआवजे के साथ कम लागत कम की जाएगी.

इकोनॉमिक टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक  बैंक ऑफिस, बैंक ब्रांच, कॉल सेंटर और कॉरपोरेट कर्मचारियों पर अध्ययन के मुातबिक इन क्षेत्रों से जुड़े तकनीक प्रभावित इंप्लॉइज की नौकरी में तीन से पांच फीसदी तक कटौती की जाएगी.

जिन नौकरियों में कटौती की जाएगी, कंलसल्टिंग फर्म्स ग्लोबल फाइनेंसिंग सर्विस को लीड करने वाले पार्टनर मिशेल तांग ने वेल्स फर्गो की रिपोर्ट के लिए किए गए एक इंटरव्यू में कहा, इस तरह नौकरियों में कटौती होना एक बड़ा बदलाव होगा. उन्होंने कहा हम पहले से ही इसके संकेत चैटबॉट के जरिेए देख रहे हैं. चैटबॉट के जरिेए बात करने वाले लोग यह भी नहीं जानते हैं कि वे ए.आई. इंजन के साथ चैट कर रहे हैं, वे सिर्फ सवाल पूछते और जवाब देते हैं.

ये भी पढ़ें-
CBSE Board Exam 2020: इस तारीख से शुरू हो सकती हैं 10वीं और 12वीं की परीक्षा
RRB: Paramedical Recruitment 2019 के लिए सेलेक्टेड कैंडीडेट्स की लिस्ट जारी
Loading...

Government Jobs Alert: रेलवे ने इन पदों पर निकाली बंपर वैकेंसी, जानें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 2, 2019, 6:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...