RRB JE Recruitment 2019: CBT 1 परिणाम को लेकर अभ्‍यर्थ‍ियों ने लगाया आरोप, रेलवे ने दी सफाई

News18Hindi
Updated: August 20, 2019, 7:31 PM IST
RRB JE Recruitment 2019: CBT 1 परिणाम को लेकर अभ्‍यर्थ‍ियों ने लगाया आरोप, रेलवे ने दी सफाई
आरआरबी के सीबीटी-1 र‍िजल्‍ट पर विवाद

RRB JE Recruitment 2019: CBT 1 परिणाम को लेकर अभ्‍यर्थ‍ियों ने रेलवे के सामने अपनी तीन मांगे रखी हैं. पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 20, 2019, 7:31 PM IST
  • Share this:
RRB JE recruitment 2019: रेलवे भर्ती बोर्ड जून‍ियर इंजीन‍ियर पदों पर भर्ती करने वाला है और इसकी चयन प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. रेलवे भर्ती बोर्ड ने RRB JE recruitment के तहत पहले चरण की परीक्षा यानी CBT 1 आयोजित की और 16 अगस्‍त 2019 को उसका परिणाम भी जारी कर द‍िया है. अब जल्‍द ही बोर्ड दूसरे चरण की परीक्षा भी आयोजित करने वाला है. लेक‍िन RRB JE CBT 1 परीक्षा के परिणामों को लेकर बोर्ड व‍िवादों के घेरे में आ गया है. परीक्षा देने वाले अभ्‍यर्थ‍ियों का दावा है क‍ि रेलवे भर्ती बोर्ड ने

दरअसल, अभ्‍यर्थ‍ियों का कहना है रेलवे भर्ती बोर्ड,आरआरबी ने RRB JE CBT 1 परीक्षा का अनुचित परिणाम जारी क‍िया है. ट्व‍िटर पर एक छात्र ने दावा क‍िया है क‍ि RRB JE CBT 1 परीक्षा स्‍क्रीनिंग नेचर का था, इसलिये RRB JE CBT 2 परीक्षा में उन सभी उम्‍मीदवारों को मौका म‍िलना चाह‍िए, ज‍िन्‍होंने न्‍यूनतम क्‍वालिफाइंग मार्क्‍स हासिल किए हैं.

RRB की मानें तो क्‍वालिफाई होने के ल‍िये 40 फीसदी अंक (सामान्‍य वर्ग के ल‍िये) अनिवार्य हैं. वहीं SC श्रेणी के ल‍िये 30 और ST के ल‍िये 25 फीसदी अंक जरूरी हैं. दूसरी ओर रेलवे ने कहा है क‍ि चुकी जूनियर इंजीनियर पद के ल‍िये बड़े स्‍तर पर आवेदन प्राप्‍त क‍िए गए. इसलिये CBT I परीक्षा क्‍वालिफाई करने वाले सभी लोगों को अगले दौर के लिए शॉर्टलिस्ट नहीं किया जा सकता है. रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा जारी आधिकारिक RRB JE notification 2019 में यह भी कहा गया है क‍ि अगले चरण की CBT परीक्षा के लिये सिर्फ 15X (1500) उम्‍मीदवारों सेलेक्‍ट किया गया है.

JE अभ्‍यर्थ‍ियों ने रेलवे भर्ती बोर्ड से ये तीन मांगे रखी हैं:

1. सीबीटी-1 सिर्फ स्‍क्रीनिंग नेचर का था और सबको न्‍यूनतम अंक पर कैटगरी वाइज पास किया जाए, जैसा कि नोटिफिकेशन में उल्‍लेख किया गया है.
2. अगर ALP में हुआ था तो JE में क्‍यों नहीं हो सकता. ALP और JE के नोटिफिकेशन में एक ही बात का उल्‍लेख है. अगर JE में नहीं कर सकते तो ALP में कैसे कर दिया. इस हिसाब से ALP की भी पूरी वैकेंसी कैंसिल की जाए.
3. NTPC और ALP CBT-2 का सिलेबस, लगभग एक जैसा ही है. आप उसमें 15 दिन दे सकते हैं CBT-2 के लिये, लेकिन JE CBT-1 और CBT-2 का सिलेबस पूरी तरह अलग है. CBT-2 के लिये कम से कम 1 महीने का गैप चाहिए.
Loading...

आरआरबी का दावा है कि सीबीटी 1 के माध्यम से, कुल 2,02,616 उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया गया है जो कि कुल रिक्तियों का 15 गुना है. रेलवे के एक अधिकारी ने indianexpress.com को बताया कि उन्होंने JE , JE IT, डिपो मैटेरियल सुपरिटेंडेंट (DMS) और केमिकल एंड मेटलर्जिंग असिस्टेंट (CMA) के कुल 13,538 पदों के लिए, आयोजित होने जा रही अगले दौर की परीक्षा के लिये शीर्ष 2 लाख उम्मीदवारों को चुना है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रेलवे से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 7:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...