बिहार में स्कूल की छात्राएं एक दिन के लिए बनीं DM और SP, लिए कई फैसले

बिहार में स्कूल की छात्राएं एक दिन के लिए बनीं DM और SP, लिए कई फैसले
स्कूली छात्राओं की प्रशासन चलाने की क्षमता को देखने के लिए डीएम ऑफिस में लोगों का तांता लग गया.

बिहार में सीतामढ़ी जिले के डिस्ट्रिक्ट कलेक्ट्रोरेट ऑफिस में स्कूल की लड़कियों ने डीएम (डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट) की कुर्सी पर बैठकर ताबड़तोड़ ऑर्डर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 7, 2020, 12:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस आठ मार्च को है इसके मद्देनजर बिहार में सीतामढ़ी जिले के डिस्ट्रिक्ट कलेक्ट्रोरेट ऑफिस में चार दिवसीय कार्यक्रम 'मीट द कलेक्टर' के अंतर्गत छात्राओं को एक दिन के लिए वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की जिम्मेदारी सौंपी गई है. सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने स्कूली छात्रों को सशक्त बनाने और प्रेरित करने के लिए यह सुझाव दिया था.

बिहार में सीतामढ़ी जिले के डिस्ट्रिक्ट कलेक्ट्रोरेट ऑफिस में स्कूल की लड़कियों ने डीएम (डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट) की कुर्सी पर बैठकर ताबड़तोड़ ऑर्डर दिया. इन स्कूली छात्राओं की प्रशासन चलाने की क्षमता को देखने के लिए डीएम ऑफिस में लोगों का तांता लग गया.

म्यूनिसिपल मिडल स्कूल की 7वीं कक्षा की छात्रा सुंदरम प्रिया ने कस्बे में लंबित विकास कार्यों के बारे में जाना.13 साल की प्रिया ने अधीनस्थ अधिकारियों को लंबित कार्यों को जल्द पूरा करने का आदेश दिया.
इस मौके पर पर जिले की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने बताया कि मैंने औपचारिक तौर पर पहले प्रिया को पूरे स्टाफ से मिलवाया और उसके बाद उसे अपने चैंबर में ले गईं. यहां उसने कार्यभार संभाला. उसने पूरे विश्वास के साथ और बिना किसी हिचकिचाहट के मीडियाकर्मियों से बातचीत की. उसने सड़कों की खस्ता हालत को लेकर चिंता जाहिर की.



थाना प्रभारी को लगाई फटकार


सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (एसपी) की कुर्सी पर बैठकर गवर्नमेंट मिडल स्कूल की कक्षा 6 की छात्रा प्रभा कुमारी ने रिगा पुलिस स्टेशन के एसएचओ को डांट लगाई. कई सारा गड़बड़ियों को लेकर प्रभा कुमारी ने एसएचओ को चेतावनी भी दी.

डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने कहा कि इस कार्यक्रम का मकसद छात्राओं को यह बताना था कि स्थानीय प्रशासन और कानून व्यवस्था को चलाने में डीएम व एसपी की क्या भूमिका होती है. इस दौरान उन्हें किस तरह की चुनौतियों का समना करना पड़ता है. दिन के आखिर में इन लड़कियों को इस यादगार दिन के अनुभव पर एक निबंध लिखने के लिए भी कहा गया.

ये भी पढ़ें- मेरठ की इस स्कूल ने 6वीं की परीक्षा में पूछा कोरोना वायरस से जुड़ा ये सवाल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading