लाइव टीवी

प्रिसिंपल ने स्टूडेंट के नाम लिखा ऐसा लेटर, हुआ वायरल

News18Hindi
Updated: October 21, 2019, 12:07 PM IST
प्रिसिंपल ने स्टूडेंट के नाम लिखा ऐसा लेटर, हुआ वायरल
स्टूडेंट का दांत गुम होने पर दुखी हुए प्रिसिंपल, लेटर में जताया अफसोस

प्रिंसिपल ने लेटर में लिखा, 'हमें बेहद अफसोस है कि लाख जतन के बावजूद हम अपने एक स्‍टूडेंट्स का दांत ढूंढ नहीं पाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2019, 12:07 PM IST
  • Share this:
इंटरनेट की दुनिया में कब कौन ‘हीरो’ बन जाए पता नहीं चलता. यहां हर दिन एक नया शख्‍स 'बादशाह' होता है. सोशल मीडिया के संसार में आज एक प्रिंसिपल बतौर हीरो बनकर उभरे हैं. इनका नाम  है कर्ट एंगेली. विस्कॉन्सिन के गिललेट एलिमेंटरी स्कूल के प्रिसिंपल कर्ट एंगेली का एक स्टूडेंट्स को लिखा हुआ लेटर वायरल हो रहा है. ये लेटर एक फेसबुक यूजर ने जेना कार्लसन ने फेसबुक पर शेयर किया है. कुछ ही वक्‍त में पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. आखिर ऐसा क्‍या था इस लेटर में आइए जानते हैं.

दरअसल कर्ट एंगेली ने टीथ फेरी को संबोधित करते हुए लिखा है, ‘हमें बहुत अफसोस है कि हम अपने एक स्‍टूडेंट्स का दांत ढूंढ नहीं पाए. प्रिसिंपल ने अपने लेटर में आगे लिखा हां मैं देख सकता हूं कि जब सुबह आए थे, उस वक्‍त आपके दांतों के बीच में गैप नहीं था लेकिन अभी ये गैप साफ महसूस किया जा सकता है. वहीं मैं तो ये बात खासतौर पर समझ सकता हूं, क्‍योंकि शौकिया तो मैं एक डेंटिस्‍ट  ही हूं. प्रिंंसिपल ने साथ ही अपना दर्द भी साझा किया है, उन्‍होंने लिखा है कि मैं तो 1987 से अपना दांत ढूंढ रहा हूं. मेरी तो अक्‍ल का दांत तब से गुम है. मुझे नहीं मिल रहा है. उन्‍होंने स्‍टूडेंट्स से अनुरोध किया कि कृपया इस ऑफिशियिल लेटर को स्‍वीकार करें और अगर कोई समस्‍या हो तो स्‍टूडेंट  उनसे सीधे संपर्क कर सकते है.

बता दें कि प्रिंंसिपल खेलने के दौरान स्‍टूडेंट का दांत टूट कर कहीं गुम जाने से काफी दुखी थे. उन्‍होंने दांत ढूंढने की बहुत कोशिश भी की लेकिन जब नहीं मिला तो उन्‍होंने फिर स्‍टूडेंट को पत्र लिखकर अफसोस जताया है.

ये भी पढ़ें: 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सरकारी नौकरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 11:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...