बड़ी खबर: 6 जुलाई से खुलेंगे यूपी के स्कूल, यहां जानिए पूरी डिटेल

बड़ी खबर: 6 जुलाई से खुलेंगे यूपी के स्कूल, यहां जानिए पूरी डिटेल
यूपी में स्कूलों को खोलने की योजना बन गई है.

School Opening Date: यूपी (UP) में स्कूलों को खोलने के निर्देश दे दिए गए हैं. साथ ही फीस को लेकर पेरेंट्स के लिए भी निर्देश जारी किए गए हैं. स्कूलों को पूरी तरह से सैनिटाइज़ किया जाएगा ताकि स्वास्थ्य को किसी भी प्रकार का नुकसान न हो.

  • Share this:
नई दिल्ली. पूरे देश में फैले कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के बीच स्कूल कॉलेज बंद हैं. केंद्र सरकार और राज्य सरकारें भी लगातार इस बात पर विचार कर रही हैं कि कैसे स्कूलों को खोला जाए और पहले की तरह से ही स्थिति को नॉर्मल किया जाए. लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है. हाल ही में 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने वाली सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा को भी सरकार को टालना पड़ा. कुछ छात्रों के पेरेंट्स ने इस मामले में आपत्ति थी. उनका कहना था कि परीक्षा लेने से छात्रों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है.

यूपी में उठाया बड़ा कदम
लेकिन इसी कड़ी में यूपी में एक बड़ा फैसला लिया गया है. लाइव हिंदुस्तान के मुताबिक उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी शिक्षा बोर्ड के माध्यमिक विद्यालयों में ऑनलाइन शिक्षण और नए सत्र के प्रवेश के लिए प्रधानाचार्यों, शिक्षकों और शिक्षणेतर कर्मियों को 6 जुलाई से बुलाने की अनुमति दे दी है. इसे लेकर अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला ने आदेश जारी कर दिए हैं. विद्यालय संचालक सिर्फ ऑनलाइन क्लास और दाखिले के लिए शिक्षकों और कर्मचारियों को बुला सकेंगे. फिलहाल छात्र-छात्राओं को नहीं बुलाया जाएगा. सरकार का निर्देश है कि किसी भी हालत में सभी विद्यालय 15 जुलाई तक ऑनलाइन क्लास शुरू कर दें.

स्कूलों को किया जाएगा सैनिटाइज़
लाइव हिंदुस्तान के मुताबिक माध्यमिक शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने इस बारे में जारी आदेश में कहा है कि अनलॉक-2 में सत्र नियमित करने और छात्रों के व्यापक हित में माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों आदि को 6 जुलाई से बुलाये जाने की अनुमति दी गई है. कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए विद्यालय भवन, फर्नीचर आदि को रोज पूर्णत: सैनिटाइज करना होगा. प्रवेश से पहले थर्मल स्कैनिंग की जाए. तापमान सामान्य से अधिक होने पर विद्यालय में प्रवेश न दिया जाए तथा इसकी सूचना सीएमओ को दी जाए.



स्कूल फीस को लेकर भी निर्देश जारी
स्कूल की फीस को लेकर भी सरकार ने निर्देश जारी किया है. सरकार का निर्देश है कि नियमित वेतन भोगी सरकारी, सार्वजनिक उपक्रम में कार्यरत अभिभावक अपनी मासिक स्कूल फीस जमा करें. इसके अलावा इनकम टैक्स जमा करने वालों को भी मासिक स्कूल फीस जमा करने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही जो अभिभावक फीस देने में सक्षम हों, वे भी फीस जमा करें.



असमर्थ अभिभावकों को फीस से राहत
जो पेरेंट्स फीस देने में सक्षम नहीं हैं उनको इससे छूट दी गई है. हालांकि, उन्हें फीस जमा न कर पाने के बारे में अप्लीकेशन देना होगा और इसकी वजह भी बतानी होगी. इसके बावजूद अगर कोई अभिभावक फीस नहींं जमा कर पाता तो भी न तो छात्र को ऑनलाइन पढ़ाई से वंचित किया जाएगा और न ही स्कूल से नाम काटा जाएगा.

ये भी पढ़ेंः

UPPSC से बड़ी खबर, 2018 PCS मेंस में सफल कैंडिडेट्स के इंटरव्यू की तारीख जारी
मिज़ोरम स्कूलों का 2020-21 सत्र के लिए खुलना स्थगित, जानें 12वीं की रिजल्ट डेट

बता दें कि कुछ दिन पहले अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा से मुलाकात की थी. उनका कहना था कि कुछ पेरेंट्स शासनादेशों का हवाला देकर फीस नहीं जमा कर रहे हैं जिसकी वजह से उनके लिए टीचर्स की सैलरी देना मुश्किल हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading