लाइव टीवी

बड़ी खबर: देश के इन हिस्सों में स्कूल खोलने की तैयारी, जानिए आपका राज्य है या नहीं

News18Hindi
Updated: May 19, 2020, 11:50 AM IST
बड़ी खबर: देश के इन हिस्सों में स्कूल खोलने की तैयारी, जानिए आपका राज्य है या नहीं
कुछ राज्यों ने स्कूल खोलने का फैसला लिया है.

केंद्र सरकार स्कूलों को खोलने पर विचार कर रही है. इस योजना के तहत सप्ताह के 6 दिन क्लासेज चलाने, ऑड-ईवन तरीके से छात्रों को पढ़ाने और सुबह व शाम की शिफ्ट किए जाने की योजना पर विचार किया जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्लीः लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) में देश में नए गाइडलाइन्स (Guidelines) की शुरुआत हो गई है. ऐसे में अभी भी स्कूल, कॉलेजों व शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने की बात कही गई है. हालांकि, इस बीच कुछ राज्यों ने फैसला किया है कि वे स्कूलों को खोलेंगे. इस दौरान टीचर्स और प्रशासनिक स्टाफ को काम के लिए आना होगा.

सरकार बना रही योजना
हालांकि, केंद्र सरकार स्कूलों को खोलने पर विचार कर रही है. इस योजना के तहत सप्ताह के 6 दिन क्लासेज चलाने, ऑड-ईवन तरीके से छात्रों को पढ़ाने और सुबह व शाम की शिफ्ट किए जाने की योजना पर विचार किया जा रहा है. लेकिन फिलहाल लॉकडाउन 4.0 के तहत अभी तो स्कूलों को बंद ही रखने का फैसला लिया गया है. लेकिन माना जा रहा है कि 31 मई को लॉकडाउन के चौथे चरण के खत्म होने के बाद जून मध्य से सभी ऐहतियाती उपाय अपनाने के बाद स्कूलों को खोल दिया जाएगा.

हरियाणाः टीचर्स और स्टाफ आएंगे स्कूल



इसी बीच हरियाणा ने फैसला लिया है कि सरकारी स्कूलों को अर्जेंट और प्रशासनिक कार्यों के लिए खोलने की अनुमति दी जाएगी. प्रशासनिक कार्यों के लिए सरकारी स्कूलों में एक क्लर्क, एक कंप्यूटर ऑपरेटर और चपरासी को स्कूल में आने की अनुमति होगी.



दुष्यंत चौटाला ने दिए थे संकेत
बता दें कि पिछले शनिवार को हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा था कि वे 17 मई के बाद स्कूलों को खोले जाने के पक्ष में हैं. इसके अलावा पिछले सप्ताह में एचआरडी मिनिस्टर रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा संबोधित किए गए एक वेबिनार में भी स्कूलों को दोबारा खोलने का मुद्दा गरम रहा. हालांकि, एचआरडी मिनिस्टर ने स्पष्ट किया कि स्थिति सामान्य होने के बाद ही स्कूलों को खोला जाएगा. यूजीसी और एनसीईआरटी स्कूल कॉलेजों को खोलने के लिए योजनाएं बना रहे हैं.

चंडीगढ़ः स्कूल खोलने का फैसला
संघ शासित प्रदेश चंडीगढ़ में भी ऐसा ही फैसला लिया गया है. चंडीगढ़ में भी लॉकडाउन के दौरान एक तिहाई टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ के साथ स्कूलों को खोला जाएगा. हालांकि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्पष्ट कर दिया है कि 31 मई अभी स्कूलों को नहीं खोला जाएगा.

दिल्ली: स्कूल प्रबंधन और पैरेंट्स से मांगे विचार
वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि लॉकडाउन 4.0 में दिल्ली के सभी स्कूल-कॉलेज और शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे. लेकिन 31 मई के बाद चौथा लॉकडाउन खत्म होने के बाद जून महीने में  हालांकि, इस दौरान लोगों को कुछ ढील दी जाएगी.

यूपीः जुलाई से स्कूल खोलने की तैयारी
यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री ने साफ कर दिया है कि जुलाई से स्कूलों को खोलने की योजना है, क्योंकि यह माना जा रहा है कि तब तक स्थिति सामान्य हो जाएगी. बता दें कि इस साल का बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जल्द से जल्द जारी करने के लिए यूपी के सभी जिलों में कॉपी की चेकिंग जारी है. इसलिए सुरक्षा को लेकर उचित कदम उठाते हुए सरकार आने वाले समय में स्कूलों को खोल सकती है.

झारखंड में इन शर्तों के साथ 1 जून से खुलेंगे सरकारी स्कूल
झारखंड में सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए सरकारी स्कूलों (Government Schools) में पढ़ाई शुरू होगी. एक जून से स्कूल खोले जाएंगे. शुरुआत 7वीं से ऊपर की कक्षाएं ही चलेंगी. सीमित संख्या में बच्चे और शिक्षक स्कूल आएंगे. यह प्रयोग सफल रहा, तो 15 जून से सभी कक्षाएं शुरू हो जाएंगी. कोरोना लॉकडाउन (Lockdown) के कारण राज्य में 17 मार्च से सभी स्कूल बंद हैं. राज्य भर में 35 हजार सरकारी स्कूल हैं, जिसमें 40 लाख बच्चे पढ़ते हैं.

राजस्थानः में भी जुलाई में खुल सकते हैं स्कूल
राजस्थान में भी स्कूलों को 1 जुलाई में खोलने की योजना है, लेकिन जहां तक टीचर्स की बात है तो उन्हें कुछ दिन पहले 26 या 27 जून को ही स्कूलों में अपनी ड्यूटी के लिए रिपोर्ट करना होगा. वहीं कोरोना वायरस (Coronavirus) से उपजे हालात के बीच मौजूदा एकेडमिक कैलेंडर में बदलाव किया जा सकता है. इसी तरह से देश के अन्य हिस्सों में भी स्कूलों को खोलने पर विचार किया जा रहा है.

केरलः जून से खुल सकते हैं स्कूल
केरल में 1 जून से स्कूलों को खोलने की योजना है.

स्कूल खुलने पर बदल जाएंगे नियमः
ऐसा माना जा रहा है कि दोबारा स्कूल खुलने पर बच्चों के बैठने का सिस्टम बदल जाएगा. साथ ही मेस और लाइब्रेरी के नियम भी बदल जाएंगे. सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए कैंटीन और हॉस्टल के नियमों को भी बदला जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र ने भी जारी की गाइडलाइंसः
वहीं, दुनियाभर में लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने के बाद स्कूलों को खोलने को लेकर संयुक्त राष्ट्र की संस्थाओं ने नई गाइडलाइंस जारी की हैं. इन दिशा-निर्देशों को तैयार करने का काम यूनेस्को, यूनिसेफ, विश्व बैंक और विश्व खाद्य कार्यक्रम ने किया है. गाइडलाइंस जारी करते हुए यूएन ने चिंता जताते हुए कहा गया है कि हाल के दशकों में बच्चों की शिक्षा तक पहुंच बढ़ाने में जो सफलता मिली है, वो स्कूल बंद होने के कारण बिल्कुल बेमानी हो सकती है या यूं कहें कि बर्बाद हो सकती है.

154 करोड़ बच्चों पर असरः
यूनेस्को के अनुसार, कोरोना वायरस के चलते शिक्षण संस्थानों को बंद करने का असर दुनियाभर में करीब 154 करोड़ छात्रों पर पड़ा है. यूनेस्को प्रतिनिधि ने पीटीआई को बताया, इन गाइडलाइंस का उद्देश्य स्कूल खोलने के फैसले को लेकर जरूरी सावधानियां बरतने के प्रति सरकारों को सतर्क करना है. बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के चलते अब तक करीब 1700 लोगों की जान जा चुकी है, वहीं लगभग 50 हजार लोग इस महामारी से संक्रमित हो चुके हैं.

UP Board: लखनऊ सहित रेड जोन के 19 जिलों में आज से शुरू होगा कॉपियों का मूल्यांकन
दिल्ली के स्कूलों पर बड़ी अपडेट, सीएम केजरीवाल ने किया ये ऐलान
CBSE Board Exam : सीबीएसई 10वीं-12वीं की डेटशीट के ऐलान के बाद जानिए कब आएंगे नतीजे!
DU 31 मई तक रहेगी बंद, कर्मचारियों से की गई ये खास अपील

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 19, 2020, 10:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading