कोविड-19 के चलते सात महीने से बंद स्कूल फिर खुले, जानें कहां कितने छात्र पहुंचे

वही छात्र स्कूल आ सकेंगे, जिनके अभिभावक लिखित सहमति देंगे. (फाइल फोटो)
वही छात्र स्कूल आ सकेंगे, जिनके अभिभावक लिखित सहमति देंगे. (फाइल फोटो)

सोमवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के ही स्कूल खुले. पहले दिन कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्र कम संख्या में स्कूलों में पहुंचे. इस दौरान कोविड-19 रोकथाम संबंधी सभी प्रोटोकॉल का पालन किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 7:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस संक्रमण के चलते बंद सरकारी स्कूल 19 अक्टूबर को सात महीने बाद फिर से खुल गए. नोएडा- ग्रेटर नोएडा में स्कूल खुलने पर पहले दिन छात्रों की संख्या कम रही. अभी स्कूलों में कक्षा नौ से कक्षा 12 तक के छात्र ही जा सकते हैं.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के ही स्कूल
हालांकि सोमवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के ही स्कूल खुले. अभी केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद के स्कूलों के खुलने में समय लग सकता है. पहले दिन कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्र कम संख्या में स्कूलों में पहुंचे. इस दौरान कोविड-19 रोकथाम संबंधी सभी प्रोटोकॉल का पालन किया गया.

नौ से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू 
जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. नीरज कुमार पांडे ने बताया कि जिले में आज से उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के स्कूलों की नौ से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू की गई हैं.



स्कूल भेजने के लिए अभिभावकों से सहमति पत्र लिए
उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं को स्कूल भेजने के लिए अभिभावकों से सहमति पत्र लिए गए हैं. अभिभावकों के सहमति पत्र देने के बाद ही छात्रों को स्कूल बुलाया गया है.

शिक्षा विभाग नियंत्रण कक्ष सभी स्कूलों पर नजर रखेगा
पांडे ने बताया कि कोविड-19 के मद्देनजर शिक्षा विभाग नियंत्रण कक्ष के माध्यम से सभी स्कूलों पर नजर रखेगा. इसके लिए 69 नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं जो स्कूलों में जाकर निरीक्षण करने के साथ-साथ कक्षाओं के फोटो खींचकर विभाग को अपनी रिपोर्ट देंगे.

ये भी पढ़ें-
UP Board Exam 2021: इस बार 55.74 लाख छात्र देंगे परीक्षा, 10th में 30, 12th में 25 लाख छात्रों ने कराया रजिस्ट्रेशन

दिशा-निर्देशों का पूरा पालन कराया जा रहा है
उन्होंने बताया कि स्कूलों में शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पूरा पालन कराया जा रहा है. जिला विद्यालय निरीक्षक ने कहा कि आज पहले दिन छात्रों की उपस्थिति करीब 60 प्रतिशत रही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज