लाइव टीवी

अब घर बैठे करें JEE-NEET-AIIMS की तैयारी, तुरंत डाउनलोड करें ये ऐप

आईएएनएस
Updated: September 27, 2018, 3:13 PM IST
अब घर बैठे करें JEE-NEET-AIIMS की तैयारी, तुरंत डाउनलोड करें ये ऐप
सांकेतिक तस्वीर

अब प्रवेश परीक्षा की तैयारी के सेग्मेंट में सेल्फस्टडी ने 'सेल्फस्टडी रिविजन कम टेस्ट पैकेज' नाम का नया ऐप लांच किया है. इसका उद्देश्य छात्रों को तनाव और मोटी-मोटी किताबों और नोट्स को पढ़ने से आजादी दिलाना है

  • Share this:
एड-टेक कंपनी सेल्फस्टडी ने JEE, NEET और AIIMS की प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए 'रिवीजन कम टेस्ट पैकेज' ऐप लांच किया है. सेल्फस्टडी ने एक बयान में कहा कि उसके सेल्फस्टडी ऐप को बहुत थोड़े समय में 1 लाख से ज्यादा छात्रों ने डाउनलोड कर लिया है.

ये भी पढ़ें- UGC NET और JEE Mains का एग्जाम देने वाले हैं तो यहां करें फ्री कोचिंग

अब प्रवेश परीक्षा की तैयारी के सेग्मेंट में सेल्फस्टडी ने 'सेल्फस्टडी रिविजन कम टेस्ट पैकेज' नाम का नया ऐप लांच किया है. कंपनी का उद्देश्य छात्रों को तनाव और मोटी-मोटी किताबों और नोट्स को पढ़ने से आजादी दिलाना है. रिवीजन पैकेज के कंटेंट को आईआईटी और एनईईटी बैकग्राउंड के विशेषज्ञों के लगातार प्रयासों और कड़ी मेहनत से विकसित किया गया है.

ये भी पढ़ें- UGC-NEET-CBSE की परीक्षाओं और स्कूलों में एडमिशन के लिए AADHAAR जरूरी नहीं: SC

कंपनी ने बताया कि इस पैकेज में 250 से ज्यादा इंफोग्राफिक्स, कॉन्सेप्टस और फार्मुले के रिवीजन के लिए फ्लैशचार्ट, प्रैक्टिस के लिए 150 से ज्यादा टेस्ट शामिल है और यह सब 12 महीनों के लिए 1999 रुपये की कीमत पर उपलब्ध है.

ये भी पढ़ें- JEE Mains 2019 और UGC NET 2018 के रजिस्ट्रेशन के लिए आधार जरूरी नहीं

सेल्फस्टडी के सह-संस्थापक प्रसेनजीत सिंह ने बताया, "NEET एग्जाम की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए सेल्फस्टडी के रिवीजन कम टेस्ट पैकेज के साथ परीक्षा की तैयारी करना कभी इतना आसान नहीं रहा. इससे पहले छात्रों को अपने महत्वपूर्ण नोट्स तैयार करने और प्रैक्टिस के लिए अच्छे सवाल की तलाश में काफी समय बर्बाद करना पड़ता था. अब उनका वह समय बचेगा और छात्र अपना ज्यादा से ज्यादा समय पढ़ाई में लगा सकेंगे. इससे NEET 2019 में छात्रों के सिलेक्शन का चांस निश्चित रूप से कई गुना बढ़ गया है."ये भी पढ़ें- NTA ने जारी किया एग्जाम शिड्यूल, जानें किस दिन होगी NET-NEET-JEE की परीक्षा

उन्होंने बताया कि इसमें हर टेस्ट में पूछे गए सवालों का डिटेल सोल्यूशन और विस्तृत विश्लेषण दिया गया है, ताकि कोई छात्र अपने मजबूत प्वॉइंट्स और कमजोरियों को अच्छी तरह समझ सके. इससे छात्रों को यह भी पता चलता है कि वह किन विषयों में पिछड़ रहे हैं. किसी भी टेस्ट को कुछ समय के बाद दोबारा दिया जा सकता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 27, 2018, 2:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर