होम /न्यूज /करियर /

jobs option: इन नौकरियों में है महिलाओं का दबदबा,ये सेक्टर माने जाते हैं बेस्ट

jobs option: इन नौकरियों में है महिलाओं का दबदबा,ये सेक्टर माने जाते हैं बेस्ट

कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जिनमें महिलाओं ने सबसे बेहतरीन काम किया.

कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जिनमें महिलाओं ने सबसे बेहतरीन काम किया.

jobs options for home makers: भारत में कई ऐसे सेक्टर हैं जिनमे पहले से ही महिलाएं नौकरी करना पसंद करती आई हैं. लेकिन अगर कोई महिला कैंडिडेट करियर के चुनाव को लेकर भ्रमित है तो ऐसे में कुछ फील्ड ऐसी हैं जो उनके लिए बना दी गई घर संभालने की जिम्मेदारी के साथ-साथ बेहतर मानी जाती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    हाइलाइट्स

    टीचिंग महिलाओं के लिए अब तक की सबसे बेस्ट जॉब मानी गयी है.
    यह नौकरी बाक़ी अन्य नौकरी की तुलना में आरामदायक होती है.
    यही वजह है की महिलाएं इस फील्ड में करियर बनाना पसंद करती आई हैं.
    jobs options for home makers: समय को देखते हुए कोई भी ऐसा फील्ड नहीं रह गया है जिसमें महिलाएं नहीं जा सकतीं. अंतरिक्ष, मिनिस्ट्री, डिफेन्स, सोशल वर्क , डिजास्टर मैनजेमेंट हर क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी देखने को मिल रही है.  इतने सारे विकल्प होने के बाद भी कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जो महिलाओं के लिए करियर के लिहाज से बेस्ट साबित हो सकते हैं. इन फील्ड में महिलाएं नौकरी के साथ पर्सनल लाइफ को भी टाइम दे सकती हैं. पैसे और सम्मान के मामले में भी ये सेक्टर काफी आगे हैं.
    एयरहोस्टेज
    एयर होस्टेस का पेशा महिलाओं को काफी आकर्षित करता है. पैसे के साथ शौहरत भी इस पेशे में भरपूर है. इस पेशे को ज्वाइन करने के लिए आकर्षक व्यक्तित्व के साथ कम्युनिकेशन स्किल भी काफी स्ट्रांग होनी चाहिए. इस सेक्टर में जाने के लिए आयु सीमा मात्र 19 से 25 के मध्य होनी चाहिए. एयरहोस्टेज की फील्ड ज्वाइन करने के लिए विशेष तरह का प्रशिक्षण दिया जाता है. इसके बाद  कैंडिडेट्स की एयर इंडिया, जेट एयरवेज, इंडियन एयरलाइन्स जैसी अन्य जगहों पर भर्तियां होती हैं. महिलाएं इस फील्ड की नौकरी को खूब एन्जॉय कर सकती हैं. इस जॉब में कैंडिडेट को कई देशों की यात्रा का करने का नए लोगों से मिलने का अवसर मिलता है . सैलरी शुरू से ही 30 से 40  हजार प्रतिमाह हो सकती है.
    पब्लिक रिलेशन
    वर्तमान समय में पब्लिक रिलेशन की नौकरी में महिलाओं की रूचि काफी बढ़ गयी है. ये क्षेत्र मॉस कम्युनिकेशन का एक हिस्सा है.इसमें मीडिया सेक्टर से बेहतर संपर्क होने चाहिए. इस पेशे को अपनाने के लिए कैंडिडेट में कन्वेन्स करने की क्षमता, क्रिएटिव सोच, तार्किक क्षमता, बोल्ड पर्सनालिटी व अच्छी कम्युनिकेशन स्किल्स जैसी कुछ विशेषतायें जरुर होनी चाहिए. इसमें बारहवीं या ग्रेजुएशन के बाद पी आर और पी आर एडवरटाइजिंग जैसे कोर्स ज्वाइन कर सकती हैं. इसमें नौकरी की कोई कमी नहीं है. इसमें प्राइवेट के अलावा सरकारी नौकरी ज्वाइन करने के मौके भी खूब हैं. कुछ साल की जॉब के बाद इसमें लाखों का  सालाना पैकेज मिलने लगता है.
    ह्यूमन रिसोर्सेज
    करियर के लिहाज से महिलाओं के लिए ह्यूमन रिसोर्सेज की नौकरी बेहतर ऑप्शन हो सकती है. हालाँकि इस नौकरी को महिलाएं पहले से ही काफी पसंद करती आयी हैं. कॉर्पोरेट सेक्टर को पसंद करने वाले लोग इसमें आ सकते हैं. इस करियर की बेहतर शुरुआत के लिए एचआर मैनजेमेंट में डिप्लोमा, बैचलर या फिर मास्टर कर सकते हैं. एचआर का काम नौकरी के लिए आवेदन करने वाले कैंडिडेट को शॉर्टलिस्ट करना, उनके करियर की समीक्षा करना, इंटरव्यू के लिए कॉल करना और उनका इंटरव्यू लेना, उन्हें ज्वाइन करवाना, वेतन निर्धारित करना और नौकरी के लिए प्रशिक्षित करना ये सारे काम करने होते हैं . सैलरी शुरआती दौर से ही 20  से 22 हजार रूपए के बीच हो सकती है.
    डॉक्टर
    डॉक्टर का पेशा भी महिलाओं के लिए बेहतर करियर विकल्प हो सकता है. यह प्रोफेशन मानव सेवा से जुड़ा है. इस नौकरी में अच्छी कमाई के साथ सम्मान और नाम भी खूब मिलता है. इस फील्ड में करियर बनाना चाहती हैं तो राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले Neet एग्जाम को क्वालीफाई करना होगा . इस प्रवेश परीक्षा को पास करने के बाद देश के टॉप मेडिकल संस्थान में दाखिला ले सकते हैं. नौकरी के बाद सैलरी सरकारी और प्राइवेट अलग अलग संस्थानों के हिसाब से मिलती है.  कैंडिडेट चाहें तो खुद की क्लिनिक खोलकर प्रैक्टिस भी शुरु कर सकते हैं.

    टीचिंग

    टीचिंग महिलाओं के लिए अब तक की सबसे बेस्ट जॉब मानी गयी है. यह नौकरी बाक़ी अन्य नौकरी की तुलना में कम घंटों की होती है. यही वजह है की महिलाएं इस फील्ड में करियर बनाना इसलिए पसंद करती आई हैं ताकि उनके सिर लाद दी गई घर संभालने की जिम्मेदारी निभाने का वक्त भी वे निकाल सकें. इस क्षेत्र में जाने के लिए प्राइमरी लेवल से लेकर उच्च माध्यमिक और स्नातकोत्तर स्तर पर अलग -अलग योग्यता मांगी जाती है.

    1.प्राथमिक स्तर पर जहां NTT और  DEL,ED  जैसी ट्रेनिंग मान्य है वहीं माध्यमिक स्तर के लिए बीएड और टीईटी को मान्यता दी जाती है. स्नातक एवम परास्नातक स्तर के टीचर बनने के लिए के लिए नेट यूजीसी जैसी परीक्षा पास होनी जरुरी है.
    2.सरकारी टीचर की सैलरी काफी अच्छी होती है. इनके लिए सैलरी राज्य सरकार और केंद्र सरकार के वेतमान के अनुसार अलग लग स्तर पर निर्धारित की गयी है. प्राइवेट टीचर की सैलरी की शुरआत भी योग्यता के आधार पर निर्भर करता है.

    इंटीरियर और फैशन डिजाइनिंग है बेस्ट ऑप्शन 
    महिलाओं के लिए ये दोनों करियर ही अच्छे माने जाते हैं. हालाँकि इनमें मेहनत बहुत है लेकिन कांटेक्ट अच्छे बनने पर पैसा भी बहुत है.इस फील्ड से सम्बंधित पढ़ाई के लिए बारहवीँ के बाद फैशन और इंटीरियर डिजाइनिंग में डिप्लोमा और ग्रेजुएशन कर सकते हैं. ग्रेजुएशन के बाद मास्टर डिग्री भी ली जा सकती है. राष्ट्रीय स्तर पर निफ्ड द्वारा प्रवेश परीक्षा भी आयोजित की जाती है जिसको पास करने का बाद काउंसलिंग के आधार पर दाखिला मिलता है. प्राइवेट में भी तय फीस भरकर दाखिला लिया जा सकता है.  नौकरी ज्वाइन करते हैं तो शुरआती सैलरी 20 से 30 हजार महीने तक मिल सकती है.

    ये भी पढ़ें-
    रखते हैं ये डिग्री, तो ISRO में इन पदों पर मिलेगी नौकरी, आवेदन शुरू
    सैनिक स्कूल में इन पदों पर अप्लाई करने के बचे हैं चंद दिन, जल्द करें आवेदन

    Tags: Career, Career Guidance

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर