कुत्ते की देखभाल के लिए स्टाफ भर्तीः विवाद के बाद IIT दिल्ली ने विज्ञापन रद्द किया, दी सफाई

कुत्ते की देखभाल के लिए स्टाफ भर्तीः विवाद के बाद IIT दिल्ली ने विज्ञापन रद्द किया, दी सफाई
26 अगस्त को आईआईटी दिल्ली ने डॉग हैंडलर के पद के लिए आवेदन आमंत्रित किये थे.

इस पद के अंतर्गत परिसर में मौजूद बड़ी संख्या में आवारा कुत्तों की देखभाल जिसमें चिकित्सा सुविधा मुहैया कराना जैसे टीका, दवा, खाना आदि करनी होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2020, 7:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) द्वारा कुत्ते की देखभाल के लिए कर्मी (डॉग हैंडलर) की भर्ती के लिए जारी विज्ञापन पर विवाद एवं सोशल मीडिया पर शुरू हुई चर्चा के बाद संस्थान को सफाई देनी पड़ी है और भर्ती रद्द कर दी गई है.

आईआईटी दिल्ली ने डॉग हैंडलर के पद के लिए आवेदन निकाला
उल्लेखनीय है कि 26 अगस्त को आईआईटी दिल्ली ने डॉग हैंडलर के पद के लिए आवेदन आमंत्रित किये थे और उम्मीदवार के लिए बीए/बीएससी/बीकॉम/बीटेक या समकक्ष शैक्षणिक अर्हता तय की गई थी जिसे लेकर सोशल मीडिया पर विवाद पैदा हो गया था.

आईआईटी दिल्ली की ओर से दी गई सफाई
इसपर संस्थान ने छह सितंबर को बयान जारी कर कहा, संविदा के आधार पर डॉग हैंडलर के पद के लिए 26 अगस्त 2020 को जारी विज्ञापन को लेकर आईआईटी दिल्ली न्यूनतम अर्हता को लेकर सफाई देना चाहता है. विज्ञापन में उल्लेखित न्यूतम अर्हता दरअसल गलती से अन्य पद के विज्ञापन के लिए थी जो इसमें छप गई.



भर्ती प्रक्रिया रद्द कर दी गई
आईआईटी दिल्ली ने कहा कि इस विज्ञापन के लिए न्यूनतम अर्हता पशु चिकित्सा (Minimum qualification veterinary) विज्ञान में स्नातक है और उच्च अधिकारियों के संज्ञान में गलती आने के बाद भर्ती प्रक्रिया रद्द कर दी गई है.

ये भी पढ़ें-
JEE के बाद 13 सितंबर को NEET के लिए NTA सैनिटाइजर्स, सोशल डिस्टेंसिंग के साथ तैयार
UP B.Ed Result 20Union Budget Management20 रिजल्ट जारी, पंकज कुमार ने किया टॉप देखें टॉप 10 की लिस्ट

नए सिरे से शुरू होगी भर्ती प्रक्रिया
संस्थान ने कहा, पूरी तरह से कॉन्ट्रेक्ट बेस्ड कंसलटेंटे की भर्ती उचित न्यूनतम अर्हता (appropriate minimum qualification) के साथ नये सिरे से शुरू की जाएगी. इस पद के अंतर्गत परिसर में मौजूद बड़ी संख्या में आवारा कुत्तों की देखभाल (चिकित्सा सुविधा मुहैया कराना जैसे टीका, दवा, खाना आदि) करनी होती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज