NEET Result 2020: नीट कैंडीडेट ने किया कोर्ट का रुख, 600 अंक पाने की थी उम्मीद मिले जीरो

नीट रिजल्ट को लेकर छात्रा ने कोर्ट का रुख किया है.
नीट रिजल्ट को लेकर छात्रा ने कोर्ट का रुख किया है.

NEET Result 2020: कोर्ट ने एनटीए से यह बात साफ करने को कहा है कि क्या उस छात्रा की ओएमआर शीट अपलोड की गई थी या नहीं. कोर्ट ने कहा कि जिसे 600 अंक आने की उम्मीद हो उसके जीरों अंक कैसे आ सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 5:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नीट का रिजल्ट घोषित होने के कुछ दिन बाद ही रिजल्ट में अनियमिततता होने की की खबरें सामने आ रही हैं. महाराष्ट्र के एक छात्र को शून्य अंक आने के बाद उसने बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर बेंच का रुख किया है. उसने टेस्ट असेसमेंट में विसंगति होने का आरोप लगाया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक छात्रा का कहना है कि उसे 720 अंकों में से 600 अंक आने की उम्मीद थी लेकिन स्कोर कार्ड में जीरों अंक देखकर वो स्तब्ध रह गई. 12वीं में छात्रा के 81.85 प्रतिशत अंक रहे हैं. खास बात है कि एनटीए ने उसकी ओएमआर शीट को अपलोड नहीं किया और स्कोर कार्ड में उसके जीरो अंक आए हैं. छात्रा का कहना है कि ऑनलाइन इवैल्युएशन सिस्टम में जरूर कोई खामी है.

कोर्ट ने एनटीए से यह बात साफ करने को कहा है कि क्या उस छात्रा की ओएमआर शीट अपलोड की गई थी या नहीं. कोर्ट ने कहा कि जिसे 600 अंक आने की उम्मीद हो उसके जीरों अंक कैसे आ सकते हैं. इस तरह का यह पहला मामला नहीं है. हिदुस्तान टाइम्स के मुताबिक अकोला के भी एक छात्र ने इसी तरह के मुद्दे के साथ कोर्ट का रुख किया है. छात्र की सहायता करने वाले एक एक्टिवस्ट ने कहा कि एनटीए द्वारा जारी किए गए प्रोविजनल आंसर-की और छात्र के स्कैन किए हुए मार्कशीट के अनुसार उसे 720 में से 720 अंक आने चाहिए थे लेकिन उसे कुल 212 अंक ही आए जो कि संभव नहीं है.



ये भी पढ़ेंः
SSC JE Admit Card 2020: हाल टिकट हुआ जारी, ssc.nic.in पर करें चेक

CSIR-UGC NET Exam 2020: यूजीसी नेट के लिए सेंटर बदलने की आज है आखिरी तारीख, ये है तरीका

इसी तरह का एक केस और भी मीडिया में सामने आया जिसमें छात्र एसटी कैटेगरी का टॉपर था लेकिन कम अंक दिए गए थे जब उसके शीट की दोबार जांच की गई तो पता चला कि उसके ज्यादा मार्क्स थे. बता दें कि नीट परीक्षा पूरे देश में 13 सितंबर को आयोजित की गई थी, जबकि दूसरे चरण की नीट परीक्षा 14 अक्टूबर को आयोजित की गई थी. नीट का रिजल्ट 16 अक्टूबर को जारी किया गया. तब से लेकर अब तक तमाम कैंडीडेट्स ने अपने ओएमआर शीट की स्कैन कॉपी के साथ एनटीए को अप्रोच किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज