लाइव टीवी
Elec-widget

Success Story: इंजीनियर की नौकरी छोड़कर बना IAS, ऐसे पाई 13वीं रैंक

News18Hindi
Updated: November 30, 2019, 6:26 AM IST
Success Story: इंजीनियर की नौकरी छोड़कर बना IAS, ऐसे पाई 13वीं रैंक
IAS वर्णित नेगी.

वर्णित छत्तीसगढ़ के जशपुर से हैं. वहीं से प्राइमरी एजुकेशन ली. इसके बाद बिलासपुर में डीएवी पब्लिक स्कूल से 10वीं तक की पढ़ाई की. 11वीं और 12वीं कोटा राजस्थान से की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2019, 6:26 AM IST
  • Share this:
Success Story: आज की सक्सेस स्टोरी में मिलिए 2018 में यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा में 13वीं रैंक हासिल कर IAS बने वर्णित नेगी से. आईएएस की तैयारी करने से पहले भी वर्णित पॉवर ग्रिड कार्पोरेशन में बतौर इंजीनियर कार्यरत थे. वर्णित ने अच्छी खासी नौकरी छोड़कर आईएएस की तैयारी शुरू की.

वर्णित छत्तीसगढ़ के जशपुर से हैं. वहीं से प्राइमरी एजुकेशन ली. इसके बाद बिलासपुर में डीएवी पब्लिक स्कूल से 10वीं तक की पढ़ाई की. 11वीं और 12वीं कोटा राजस्थान से की. इसके बाद एनआईटी से सिविल इंजीनियरिंग कर पॉवर ग्रिड कार्पोरेशन में इंजीनियर की नौकरी हासिल की. नौकरी भी कर रहे थे और आईएएस बनने का ख्वाब भी मन ही मन पल रहा था. फिर हिम्मत कर मार्च 2016 में नौकरी से इस्तीफा देकर तैयारी शुरू की.

पहले अटेंप्ट में वर्णित का मेन एग्जाम क्लीयर नहीं हुआ. दूसरी बार में 504वीं रैंक आई. इस रैंक के मुताबिक उन्हें असिस्टेंट सिक्योरिटी कमिश्नर रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स का पद दिया गया. लेकिन वे पद से संतुष्ट नहीं हुए. फिर से तैयारी की और तीसरे अटेंप्ट में 13वीं रैंक हासिल हुई. कामयाबी पा चुके वर्णित ने अपना तजुर्बे से ऐसी बहुत सी बातें बताईं जिन्हें तैयारी करने वाले कैंडीडेट्स टिप्स के तौर पर ले सकते हैं. जानें क्या हैं वे ज़रूरी बातें.

- यूपीएससी की तैयारी के लिए हमें सोशल मीडिया से बाहर आना होता है.

-तैयारी के दौरान लोगों से कटकर रहते हैं. फेमिली का मानसिक रूप से सहयोग सबसे ज्यादा जरूरी है.
-यूपीएससी की तैयारी में सिर्फ हार्डवर्क नहीं स्मार्ट हार्डवर्क चाहिए.
-स्मार्टली तैयारी के साथ धैर्य और निरंतरता भी जरूरी है.
Loading...

-तैयारी के दौरान मन के हिसाब से चलें. पढ़ाई का मन हो तो बहुत कुछ पढ़ा जा सकता है.
-कैंडिडेट्स याद रखें ये बहुत टफ कम्पटीशन है इसमें आईआईटी, मेडिकल और सीए के टॉपर्स आते हैं.

प्री और मेन्स की तैयारी में कुछ समानताएं तो कुछ विभिन्नताएं हैं. प्री में ऑप्शन होते हैं, परीक्षा के दौरान टॉपिक देखकर रीकॉल कर सकते हैं. जबकि मेन्स में सारे टॉपिक खुद रीकॉल करने पड़ते हैं. तैयारी साथ में हो सकती है लेकिन हमें स्मार्टली याद रखें किन टॉपिक्स को कैसे तैयार करना है.
(वर्णित नेगी के एक वीडियो इंटरव्यू के आधार पर)

ये भी पढ़ें-
SBI SO Recruitment 2019: इंटरव्‍यू शेड्यूल जारी, ऐसे चेक करें डेट्स
सफाई कर्मी के 549 पदों के लिए 7000 इंजीनियरों ने किया अप्लाई
IAS इंटरव्यू: जेब से निकले रूमाल पर पूछा What is That, पढ़ें कैंडिडेट का जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जशपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 6:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...