लाइव टीवी

इस शख्‍स को दोस्‍तों ने दी ऐसी सलाह, आज हर महीने कमा रहा है करोड़ों

News18Hindi
Updated: October 6, 2019, 9:54 AM IST
इस शख्‍स को दोस्‍तों ने दी ऐसी सलाह, आज हर महीने कमा रहा है करोड़ों
रविन्द्रन जॉब के छुट्टियों में कभी-कभी अपने कुछ करीबी दोस्तों को पढ़ाया करते थे. इन सभी दोस्‍तों ने कैट एग्‍जाम में सफलता हासिल की

रविन्द्रन जॉब के छुट्टियों में कभी-कभी अपने कुछ करीबी दोस्तों को पढ़ाया करते थे. इन सभी दोस्‍तों ने कैट (CAT) एग्‍जाम में सफलता हासिल की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2019, 9:54 AM IST
  • Share this:
कहते हैं कि कब कौन सा आइडिया (Idea) आपको शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचा दे कुछ पता नहीं चलता. ऐसा ही कुछ हुआ है एक शख्‍स के साथ, जिन्‍होंने अपने दोस्‍तों के एक आइडिया पर नौकरी छोड़कर कोचिंग क्‍लास (Coaching Class) शुरू की. उसी क्‍लास ने आज उन्‍होंने सातवें आसमान पर पहुंचा दिया है. महज 2 लाख रुपये से कोचिंग शुरू करने वाला ये शख्‍स आज करोड़ों रुपये कमा रहा है. इस शख्‍स का नाम है बायजू रविंद्रन. बायजू ने कैसे पाया ये सबकुछ आइए जानते हैं.

बायजू रविंद्रन केरल से ताल्‍लुक रखते हैं. उनकी शुरुआती एजुकेशन अझीकोड से शुरू हुई है. दरअसल उनके माता-पिता दोनों ही माता-पिता दोनों ही मलयालम मीडियम स्कूल में शिक्षक थे और उसी स्कूल से रविंद्रन ने पढ़ाई शुरू की. पढ़ाई के अलावा रविंद्रन को स्पोर्ट्स में दिलचस्‍पी थी. वे अलग-अलग स्‍पोर्ट्स खेला करते थे.

इंजीनियरिंग की पढ़ाई
बायजू पढ़ने में होनहार थे और आगे भी वे बेहतर रहे. उन्‍होंने कालीकट यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग पूरी की. डिग्री के बाद एक कंपनी में नौकरी शुरू की. बायजू एक अच्‍छे पैकेज पर काम कर रहे थे लेकिन एक दिन की घटना ने उनकी जिंदगी बदल दी.

दोस्‍तों ने दी सलाह
रविन्द्रन जॉब के छुट्टियों में कभी-कभी अपने कुछ करीबी दोस्तों को पढ़ाया करते थे. इन सभी दोस्तों ने सफलतापूर्वक कैट की परीक्षा पास कर ली. इसके बाद से तो इनके यहां पढ़ने वालों की लिस्‍ट लंबी होती चली गई है. इन्‍हीं दोस्‍तों में से एक दोस्त ने उन्‍हें कोचिंग क्‍लास शुरू करने की सलाह दी .

नौकरी छोड़ शुरू की कोचिंग
Loading...

रविन्द्रन ने दोस्‍तों की सलाह पर नौकरी छोड़कर कोचिंग खोलने का फैसला किया. रविन्द्रन ने नौकरी छोड़ एक शहर से दूसरे शहर कक्षाएं लेने के लिए रवाना होने लगे. कई शहरों में पहुंच कर वहां के छात्रों को पढ़ाना उनके लिए मुश्किल था. मनी भास्‍कर डॉट कॉम की खबर तभी उनके दिमाग में एक आइडिया सुझा. उन्‍होंने निर्णय लिया कि क्यूं न इंटरनेट के माध्यम से एक जगह बैठ कर ही हजारों छात्रों से रुबरु किया जाए.

इस तरह शुरू हुई ‘बायजू कंपनी’
रविंद्रन ने फिर साल 2011 में अपनी कंपनी शुरू की बायजू नाम से अपनी कंपनी शुरू की. कंपनी का फोकस CAT के अलावा चौथी से 12वीं क्लास के छात्रों को ऑनलाइन कोचिंग प्रोवाइड करने पर था. उनकी कोचिंग का तरीका इतना पॉपुलर था कि उनके छात्रों की संख्या बढ़ने लगी. 2015 में उन्होंने अपना फ्लैगशिप प्रोडक्ट BYJU;s- द लर्निंग ऐप लॉन्च किया. यह उनके लिए गेमचेंजर साबित हुआ. स्मार्टफोन की बढ़ती लोकप्रियता के बीच उनका यह ऐप भी पॉपुलर होता गया.

करोड़ों में होती है कमाई
ये कंपनी ऑनलाइल कंटेंट उपलब्ध करवाती है. कुछ कंटेंट तो फ्री हैं, लेकिन एडवांस लेवल के लिए फीस देनी होती है. मौजूदा समय में 40 लाख छात्र बायजू से जुड़े हैं. इसमें से 1.6 लाख पेड सब्सक्राइबर्स हैं. वहीं BYJU;s- द लर्निंग ऐप से कुल रेवेन्यू का 90 फीसदी हिस्सा आ रहा है. इस तरह से 2 लाख रुपये के निवेश से कंपनी का रेवेन्यू करोड़ों में आ रहा है.

ये भी पढ़ें:  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 6:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...