Home /News /career /

Success Story : मिलें DU के नये वीसी से, 10 साल में प्रोफेसर से बने कुलपति

Success Story : मिलें DU के नये वीसी से, 10 साल में प्रोफेसर से बने कुलपति

Delhi University के नवन‍ियुक्‍त कुलपत‍ि प्रो.योगेश सिंह की सक्सेस स्टोरी (File Photo)

Delhi University के नवन‍ियुक्‍त कुलपत‍ि प्रो.योगेश सिंह की सक्सेस स्टोरी (File Photo)

Success Story : प्रोफेसर योगेश सिंह की दिल्‍ली यूनिवर्स‍िटी के कुलपति के रूप में नियुक्ति बीते सितंबर महीने में हुई थी. जिसके बाद उन्होंने 9 अक्‍टूबर को पदभार ग्रहण किया था। प्रो. योगेश सिंह 10 साल में प्रोफेसर से कुलपति तक का सफर तय कर चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. आप अपने काम के प्रति पूरी तरह समर्पित हैं तो जिंदगी में आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता. दिल्ली विश्वविद्यालय के नए कुलपति प्रो. योगेश सिंह इसका जीता जागता उदाहरण हैं. यहां तक का सफर उनके लिये आसान नहीं था, लेकिन उन्‍होंने अपने जज्‍बे को कभी कमजोर नहीं होने दिया. प्रो. योगेश सिंह की दिल्‍ली विवि के कुलपति के रूप में नियुक्‍त‍ि सितंबर 2021 में हुई थी. जिसके बाद उन्होंने कुलपति का पदभार 9 अक्‍टूबर को ग्रहण किया था. प्रो. सिंह ने 10 साल में प्रोफेसर से विश्वविद्यालय का कुलपति बनने तक का सफर तय कर लिया है आइए जानते हैं उनके संघर्ष भरे इस सफर के बारे में.

    कभी भी फोकस नहीं छोड़ा
    प्रो. योगेश सिंह पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहे. वे बताते हैं कि उनकी सफलता का सबसे बड़ा कारण यही है कि जिंदगी में जो भी किया, पूरी तरह फोकस होकर किया. प्रो. सिंह ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र स्थित एनआईटी से कंप्यूटर इंजीनियरिंग में पीएचडी किया है. इसके बाद महज 35 वर्ष की आयु में वे प्रोफेसर बन गए. प्रोफेसर से वाइस चांसलर के पद तक पहुंचाने में उन्हें सिर्फ 10 साल का समय लगा. योगेश सिंह पहली बार साल 2011 में गुजरात के बडौदा स्थित एमएस विश्वविद्यालय के कुलपति बने. तब उनकी उम्र 45 वर्ष थी.

    डीयू से पहले तीन विश्वविद्यालयों के रह चुके हैं कुलपति
    प्रो. योगेश सिंह डीयू से पहले, 3 विश्वविद्यालयों में कुलपति रह चुके हैं. ख़ास बात यह है कि इन तीनों ही यूनिवर्सिटी में उन्हें कुलपति के तौर पर दूसरा कार्यकाल भी दिया गया.  योगेश  गुजरात की एमएस यूनिवर्सिटी, दिल्ली की नेताजी सुभाष यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (NSUT) और दिल्ली की ही दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी में कुलपति रहे हैं. कुलपति के तौर पर दिल्ली यूनिवर्सिटी उनकी चौथी यूनिवर्सिटी है.

    अलीगढ़ के पाहसू से है नाता
    प्रो. योगेश सिंह का जन्म 13 अप्रैल 1966 को उत्तर प्रदेश स्थित अलीगढ़ के पाहसू क्षेत्र में हुआ. शुरुआती शिक्षा वहीं हासिल की. उनके पिता श्री निरंजन सिंह भी प्रोफेसर रहे हैं. उनके परिवार में 3 भाई, एक बहन, पत्नी और 2 बच्चे हैं. उनकी पत्नी हरियाणा सरकार में चीफ इंजीनियर हैं.

    ये भी पढ़ें
    Sarkari Naukri Result 2021: बिजली विभाग कर रहा असिस्टेंट अकाउंटेंट के पदों पर भर्तियां, जानें क्या मांगी गई है योग्यता
    Sarkari Naukri 2021: लोक सेवा आयोग ने निकाली असिस्टेंट इंजीनियर के पदों पर नौकरियां, जानें डिटेल

    Tags: Delhi University, Success Story

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर