यूपीपीएससी : सुप्रीम कोर्ट ने मुख्‍य परीक्षा पर रोक लगाने से किया इंकार

सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कुछ छात्रों ने कहा था कि प्रारंभिक परीक्षा में कुछ सवालों के उत्‍तर गलत थे इसलिए छात्रों की याचिका पर हाईकोर्ट के पुनर्मूल्‍यांकन के आदेश को लागू करने की बात कहीं थी.

News18Hindi
Updated: June 14, 2018, 12:14 PM IST
यूपीपीएससी : सुप्रीम कोर्ट ने मुख्‍य परीक्षा पर रोक लगाने से किया इंकार
सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया
News18Hindi
Updated: June 14, 2018, 12:14 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने यूपीपीएससी की मुख्‍य परीक्षा पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी है. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद यह साफ हो गया है कि अब मुख्‍य परीक्षा 18 जून को ही आयोजित की जाएगी. मंगलवार को कोर्ट ने इस मामले में दोनों पक्षों को सुनने के बाद फैसला 14 जून तक के लिए सुरक्षित रख लिया था. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा था कि अगर कोर्ट हर प्रतियोगी परीक्षा में दखल देता रहेगा तो परीक्षा की गरिमा खत्‍म हो जाएगी.

न्‍यायमूर्ति यूयू ललित और न्‍यायमूर्ति दीपक गुप्‍ता की पीठ ने यूपीपीएससी की परीक्षा पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कुछ छात्रों ने कहा था कि प्रारंभिक परीक्षा में कुछ सवालों के उत्‍तर गलत थे इसलिए छात्रों की याचिका पर हाईकोर्ट के पुनर्मूल्‍यांकन के आदेश को लागू करने की बात कहीं थी.

दरअसल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने गलत उत्‍तर को लेकर डाली गई याचिका पर सुनवाई करते हुए पुनर्मूल्‍यांकन के आदेश दिए थे. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी थी. यूपीपीएससी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि 18 जून को होने वाली परीक्षा पर किसी भी प्रकार की रोक न लगाई जाए.

इसे भी पढ़ें :-

भर्ती में आरक्षण के मसले पर UPPSC ने बदली व्यवस्था

नौकरियों में धांधली मामले में यूपी सरकार और यूपीपीएससी आए आमने-साम
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर