फाइनल ईयर एग्जाम मामले में सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी को जारी की नोटिस, देना होगा 3 दिन में जवाब

फाइनल ईयर एग्जाम मामले में सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी को जारी की नोटिस, देना होगा 3 दिन में जवाब
सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसीको नोटिस जारी की है.

जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली बेंच ने इस मामले की सुनवाई की. अलग अलग यूनिवर्सिटीज़ के 31 छात्रों ने यूजीसी के सर्कुलर को कैंसिल करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था.

  • Share this:
नई दिल्ली. कॉलेजों में फाईनल ईयर की परीक्षा (Final Year Exam in Universities) कैंसिल करने के मामले में आज सुनवाई करते हुई सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी को नोटिस जारी करके जवाब मांगा है. साथ ही अगली सुनवाई को शुक्रवार तक के लिए टाल दिया गया है. बता दें कि कई यूनिवर्सिटीज़ के 31 छात्रों ने कोविड-19 महामारी के दौरान छात्रों की सुरक्षा के मद्देनज़र सुप्रीम कोर्ट में याचिका (Petition in Supreme Court) डाली गई था ताकि परीक्षा को कैंसिल कर दिया जाए. UGC ने नोटिफिकेशन जारी कर कहा है कि सभी कॉलेज के फाइनल ईयर के एग्जाम 30 सितम्बर तक पूरे किए जाए. सुप्रीम कोर्ट ने इस पर UGC से राय मांगी है. सॉलिसिटर जेनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को बताया कि वह बुधवार तक हलफनामा दाखिल कर देंगे.

क्या थी छात्रों की मांग
इस याचिका में छात्रों ने परीक्षा को कैंसिल करने और इंटरनल असेसमेंट या पिछले परफॉर्मेंस के आधार पर रिजल्ट घोषित करने की बात कही थी. 13 राज्यों से फाइल की गई इस याचिका में रिक्वेस्ट किया गया है कि छात्रों की मार्कशीट 31 जुलाई के पहले पहले जारी कर दी जानी चाहिए. इन छात्रों में से एक छात्र कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया था. इसलिए उसने सीबीएसई मॉडल को अपनाए जाने की मांग की. छात्र का कहना था कि जो लोग इंटरनल असेसमेंट के आधार पर जारी किए गए रिजल्ट से संतुष्ट न हों उनके लिए बाद में परीक्षा करवाई जा सकती है. याचिका में कहा गया था कि छात्रों के हित में परीक्षा को कैंसिल किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें
MP Board MPBSE 12th Result 2020: MP बोर्ड 12वीं के रिजल्ट से जुड़ी 10 बातें


Uttarakhand Board Result: 10th,12th रिजल्ट की तारीख हुई तय, जानें पूरी डिटेल


यूजीसी ने यूनिवर्सिटीज़ से किया था संपर्क
यूजीसी का कहना है कि परीक्षा करवाने को लेकर 818 यूनिवर्सिटीज़ को संपर्क किया गया था जिनमें 603 यूनिवर्सिटीज़ या तो परीक्षा करवा चुकी हैं या तो परीक्षा करवाने की योजना बना रही हैं. जबकि 209 विश्वविद्यालय पहले से ही परीक्षा करवा चुके हैं और 309 अगस्त या सितंबर में परीक्षा करवाने की योजना बना रहे हैं. यूजीसी ने कहा कि इनमें से 35 ऐसी यूनिवर्सिटीज़ भी हैं जिनका इस साल पहला बैच फाइनल ईयर की परीक्षा के योग्य होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading