Happy Teachers Day 2019: क्या आप डॉ. सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन के बारे में ये 10 बातें जानते हैं 

News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 9:31 AM IST
Happy Teachers Day 2019: क्या आप डॉ. सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन के बारे में ये 10 बातें जानते हैं 
डॉ. सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन ने अपने जीवन के 40 साल अध्यापन को दिए थे.

Happy Teachers Day 2019: डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन (Sarvepalli Radhakrishnan) भारत रत्न से सम्मानित थे. उन्होंने 1954 में शिक्षकों को सम्मान देने के लिए अपने जन्मदिन को 'शिक्षक दिवस' के रूप में मनाने की बात कही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 5, 2019, 9:31 AM IST
  • Share this:
Happy Teachers Day 2019: हर साल देश में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है. ये दिन देश के दूसरे राष्ट्रपति (डॉ राजेन्द्र प्रसाद के बाद) सर्वपल्ली राधाकृष्णन को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है. दरअसल 5 सितंबर को ही सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन (Sarvepalli Radhakrishnan) का जन्मदिन होता है. शिक्षक दिवस की शुरुआत उन्हीं के सम्मान में 1962 में हुई थी.

सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन जब राष्ट्रपति पद पर थे, उस दौरान लोगों ने उनका जन्मदिन मनाने की इच्छा जताई. जिसके जवाब में उन्होंने कहा था सम्मान देना है तो शिक्षकों को दीजिए, जो देश का भविष्य संवारते हैं. तभी से 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाने की शुरुआत हुई. तभी से 5 सितंबर के दिन सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती को शिक्षक दिवस के तौर पर मनाने की परंपरा कायम है. इस दिन छात्र-छात्राएं शिक्षकों को सम्मानित करते हैं. जानिए राधाकृष्‍णन के बारे में और भी बातें.

सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन महान शिक्षक के साथ-साथ राजनीतिज्ञ एवं दार्शनिक भी थे. राधाकृष्णन के जन्मदिन को स्कूलों में शिक्षक दिवस के रूप में काफी उत्साह के साथ मनाया जाता है.

सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म दक्षिण भारत के तिरुत्तनि स्थान में हुआ था. ये जगह चेन्नई से 64 किमी उत्तर-पूर्व में है. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने राजनीति में आने से पहले उन्होंने अपने जीवन के 40 साल अध्यापन को दिए थे.



सर्वपल्ली राधाकृष्णन का मानना था कि बिना शिक्षा के इंसान कभी भी मंजिल तक नहीं पहुंच सकता. इंसान के जीवन में एक शिक्षक होना बहुत जरुरी है.डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत रत्न से सम्मानित थे. उन्होंने 1954 में शिक्षकों को सम्मान देने के लिए अपने जन्मदिन को 'शिक्षक दिवस' के रूप में मनाने की बात कही थी.

डॉ. राधाकृष्णन समूचे विश्व को एक विद्यालय मानते थे. उनका मानना था कि शिक्षा के द्वारा ही मानव मस्तिष्क का सदुपयोग किया जा सकता है. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने भारतीय दार्शनिक, राजनेता भारत के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति के रूप में काम किया.
Loading...

दुनिया में कब मनाया जाता है शिक्षक दिवस
भारत में 'शिक्षक दिवस' 5 सितंबर को मनाया जाता है, लेकिन विश्व के दूसरे देशों में इस मनाने कि तिथियां अलग-अलग हैं. यूनेस्‍को ने आधिकारिक रूप 1994 में 'शिक्षक दिवस' मनाने के लिए 5 अक्‍टूबर को चुना. इसलिए अब 100 से ज्‍यादा देशों में यह दिन 'शिक्षक दिवस' के रूप में मनाया जाता है.

ये भी पढ़ें-
JEE Main 2020 के सिलेबस में बदलाव, चेक करें टॉपिक्स
विदेश से लौट, बिना कोचिंग एग्‍जाम देकर बनी IAS अफसर
ग्राम रोज़गार सहायक के पद पर 1962 वैकेंसी,11 Sep लास्ट डेट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 9:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...