स्टूडेंट्स ध्यान दें : दसवीं के एग्जाम के लिए तारीख घोषित, 8 जून से होंगे शुरू, हर पेपर के बीच दो दिनों का अंतराल

मणिपुर बोर्ड के दसवीं के नतीजे हाल ही में जारी​ किए गए थे.
मणिपुर बोर्ड के दसवीं के नतीजे हाल ही में जारी​ किए गए थे.

राज्य के शिक्षा मंत्री (State Education Minister) ने साफ किया है कि हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार एग्जाम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का ध्यान रखा जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के बीच देश के अलग-अलग राज्यों में शिक्षा व्यवस्था को वापस पटरी पर लाने की कोशिशें लगातार जारी हैं. इस कड़ी में मानव संसाधन विकास मंत्री (Human Resource Development Minister) रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने हाल ही में सीबीएसई (CBSE) की दसवीं और बारहवीं के बचे हुए पेपर आयोजित करने के लिए तारीखों का ऐलान किया था. अब तेलंगाना हाईकोर्ट (Telangana High Court) के आदेश के बाद इस राज्य में भी दसवीं के एग्जाम आयोजित करने के लिए शेड्यूल जारी कर दिया गया है.

8 जून से 5 जुलाई तक होंगे पेपर
दरअसल, तेलंगाना हाईकोर्ट (Telangana High Court) ने जून के पहले हफ्ते के बाद एग्जाम कराने के लिए हरी झंडी दिखा दी थी, जिसके बाद तेलंगाना बोर्ड प्रबंधन ने परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया. इसके तहत दसवीं क्लास की परीक्षाएं 8 जून से शुरू होंगी और 5 जुलाई को खत्म होंगी. पेपर सुबह 9:30 बजे से दोपहर 12:15 बजे तक आयोजित किया जाएगा.

हर पेपर के बीच में दो दिन का अंतराल
शिक्षा मंत्री पी. सबिता इंदिरा रेड्डी ने ये भी ऐलान किया कि तेलंगाना हाईकोर्ट के सुझाव के तहत हर पेपर के बीच में दो दिन का अंतराल रखा गया है. सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का पालन करने के लिए 2005 एग्जाम सेंटर बनाए जाएंगे. ये सेंटर पहले स्थापित किए गए 2530 सेंटर्स से अलग होंगे.



एग्जाम के दौरान इन बातों का रखा जाएगा ध्यान
हर एग्जाम सेंटर को पूरी तरह सेनिटाइज किया जाएगा.
स्टूडेंट्स को मास्क उपलब्ध कराया जाएगा.
एग्जाम सेंटर्स में प्रवेश से पहले हर छात्र की थर्मल स्केनिंग की जाएगी.
ऐसे छात्र जिन्हें बुखार, सर्दी या खांसी होगी, उन्हें परीक्षा देने के लिए अलग कमरे मुहैया कराए जाएंगे.
एग्जाम हॉल में एक सीट पर एक छात्र ही बैठेगा.
स्टूडेंट्स अपने-अपने स्कूल से अपने एग्जाम सेंटर्स के बारे में पता कर सकेंगे.
तेलंगाना स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन बच्चों को एग्जाम सेंटर्स तक पहुंचाने के लिए विशेष बसें चलाएगा.

सबिता इंदिरा रेड्डी ने बताया कि एग्जाम सेंटर्स पर इनविजिलेटर्स के तौर पर 26,422 टीचर्स की सेवाएं ली जाएंगी. उनके लिए ग्लव्स और मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

लॉकडाउन के चलते संघर्ष कर रहे छात्र,मुख्यमंत्री से एग्जाम रद्द करने की अपील

बड़ी बात : कोरोना वायरस के बीच इस राज्य में खुलेंगे स्कूल, सरकार का अहम फैसला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज