तेलंगाना इंटर सेकंड ईयर की क्लास 17 अगस्त से दूरदर्शन पर शुरू, हर छात्र तक पहुंचने के लिए ये है तैयारी

तेलंगाना इंटर सेकंड ईयर की क्लास 17 अगस्त से दूरदर्शन पर शुरू, हर छात्र तक पहुंचने के लिए ये है तैयारी
TSBIE की कोशिश है वे प्रत्येक छात्र तक पहुँचें.

लॉकडाउन चरणों में, बोर्ड ने सिलेबस के ई-कंटेंट को विकसित करना शुरू कर दिया. विषय विशेषज्ञों को content pullers के रूप में चुना, ताकि उन विषयों की पहचान की जा सके जिन्हें ई-कंटेंट में बदला जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 8:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तेलंगाना स्टेट बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन (Telangana State Board of Intermediate Education, TSBIE) ने तेलंगाना इंटर सेकंड ईयर की ऑनलाइन क्लास 17 अगस्त से शुरू करने का फैसला किया है. तेलंगाना इंटर सेकंड ईयर की ऑनलाइन क्लास दूरदर्शन Doordarshan (DD)- Yadagiri के जरिए आयोजित की जाएंगी.

दूरदर्शन के अलावा और भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर
Doordarshan (DD)- Yadagiri के अलावा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर भी आयोजित की जाएंगी. कक्षाओं शुरू करने के लिए अंतिम चरण (last phase) बोर्ड द्वारा शुरू किया जा रहा है,

सिलेबस का ई-कंटेंट विकसित 
लॉकडाउन चरणों में, बोर्ड ने सिलेबस के ई-कंटेंट को विकसित करना शुरू कर दिया. विषय विशेषज्ञों को content pullers के रूप में चुना, ताकि उन विषयों की पहचान की जा सके जिन्हें ई-कंटेंट में बदला जा सकता है.



लगभग 40 प्रतिशत पाठ्यक्रम ई-सामग्री में तबदील
TSBIE के सचिव उमर जलील ने टीओआई से कहा, हम पहले ही लगभग 40 प्रतिशत पाठ्यक्रम को ई-सामग्री में बदल चुके हैं. जिसे अब फरवरी तक डीडी-यादगिरी और टी-सैट के माध्यम से प्रसारित किया जाएगा. छात्रों के पास सीखने के लिए सुबह में छह घंटे और दोपहर में तीन घंटे के स्लॉट होंगे.

दूरदर्शन, टी-सैट, यूट्यूब चैनलों पर लाइव
दूरदर्शन और टी-सैट के अलावा, इस ई-कंटेंट को उन यूट्यूब चैनलों पर लाइव स्ट्रीम किया जाएगा, जो छात्रों के लिए उपलब्ध हैं. TSBIE ने उन सभी तरीकों की अपनाने की कोशिश की है जिनके माध्यम से वे प्रत्येक छात्र तक पहुँच सकते हैं.

छात्र सेवा केंद्रों का इंतजाम
उन छात्रों के लिए जिनके पास टेलीविजन, स्मार्टफोन या इंटरनेट तक पहुंच नहीं है, बोर्ड ने छात्र सेवा केंद्रों (student service centers) के रूप में 405 सरकारी कॉलेजों की व्यवस्था की है. इन केंद्रों में, शिक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि ऐसे छात्रों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जाए.

ये भी पढ़ें-
UPSC एग्जाम क्रैक करने के फॉर्मूले का हुआ खुलासा, IPS से जानें मास्टरप्लान
स्वतंत्रता दिवस 2020: राष्ट्रीय ध्वज, राष्ट्रगान के बारे में 12 रोचक तथ्य

शिक्षकों की उपस्थिति 50 प्रतिशत जरूरी
17 अगस्त से शिक्षकों की उपस्थिति को 50 प्रतिशत तक अनिवार्य कर दिया गया है. कक्षा 6 से 10 तक के सरकारी स्कूलों में 20 अगस्त से डिजिटल कक्षाएं होंगी. कक्षा 3 से 5 के लिए डिजिटल कक्षाएं 1 सितंबर, 2020 से शुरू होंगी. कक्षा 6 से 10 डिजिटल कक्षाएं टी-सैट के माध्यम से संचालित की जाएंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading