• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • Telangana: SSC छात्रों के लिए स्कूलों में होगा काउंसलिंग सेशन

Telangana: SSC छात्रों के लिए स्कूलों में होगा काउंसलिंग सेशन

फाइल फोटो

फाइल फोटो

स्कूल मैनेजमेंट ने अधिकांश छात्रों के अभिभावकों को एसएमएस और व्हाट्सएप के जरिए काउंसलिंग सेशन की जानकारी दे दी है, हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि इस सेशन का कोई खास प्रभाव नहीं होगा.

  • Share this:
    तेलंगाना एजुकेशन विभाग ने शुक्रवार को हाईस्कूल परीक्षा 2019 में शामिल छात्रों की काउंसलिंग करने जा रहा है. इस काउंसलिंग प्रोग्राम में छात्रों के साथ-साथ उनके अभिभावक भी हिस्सा लेंगे. हालांकि प्राइवेट स्कूलों के लिए यह एक कठिन कार्य है, विशेष रूप से तब जबकि स्कूलों में होने वाली पीटीएम में अभिभावक संख्या काफी कम दर्ज की जाती है.  वहीं विशेषज्ञों और स्कूल प्रबंधन ने सरकार की इस पहल की सराहना की है, लेकिन उनका यह भी करना है कि बहुत देर हो चुकी है.

    साथ ही यह भी अशंका व्यक्त की जा रही है कि काउंसलिंग का सेशन बहुत अच्छा नहीं होगा. क्योंकि अधिकांश छात्रों ने मेडिकल और इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन के लिए एमपीसी या बीईपीसी में प्रवेश ले चुके हैं. काउंसलिंग को लेकर तेलंगाना स्कूल प्रबंधन एसोसिएशन के महासचिव एस मधुसूदन रेड्डी का कहना है कि अभिभावकों को करियर विकल्पों की जानकारी देना अच्छा विकल्प नहीं है.

    उनका कहना है कि एसएससी की परीक्षा के दौरान ही बहुत से छात्रों ने कॉररपोरेट कॉलेजों में एडमिशन ले लिया है, ऐसे छात्रों को कैसे करियर काउंसिलिंग दी जा सकती है.  मधुसूदन रेड्डी का सुझाव है कि छात्रों और अभिभावकों की करियर काउंसलिंग रिजल्ट आने के पहले और बाद दोनों ही समय दी जानी चाहिए. हालांकि इसके लिए स्कूलों को सूचित कर दिया गया है. छुट्टियों में शहर से बाहर गए अभिभावकों को स्कूल प्रबंधन ने एसएमएस या व्हाट्सएप भेजा दिया गया है, लेकिन इससे बहुत अच्छे परिणाम की उम्मीद नहीं है.

    वहीं एक निजी शिक्षिका स्मिता सर्वारकर का कहना है कि अभिभावकों के साथ-साथ 10वीं के टीचर्स और काउंसलर को उपस्थित रहने के लिए सूचित कर दिया गया है. लेकिन उनका ऐसा विश्वास है कि 50 प्रतिशत अभिभावकों पर कोई विशेष प्रभाव नहीं होगा. क्योंकि पीटीएम को लेकर अधिकांश अभिभावकों में कोई खास उत्साह नहीं होता है.

    ये भी पढ़ें: तेलंगाना में विवादों में घिरा बोर्ड रिजल्ट, सात दिन में 20 बच्चों ने की आत्महत्या

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन