Jobs & Career: 12वीं बाद करें ये 5 जॉब ओरिएंटेड शॉर्ट टर्म कोर्सेज, मिलेंगे सुनहरे अवसर

Jobs & Career: 5 जॉब ओरिएंटेड शॉर्ट टर्म कोर्सेज के बारे में जानिए

Jobs & Career: 12वीं करने के बाद युवाओं को जॉब ओरिएंटेड शॉर्ट टर्म कोर्सेज करना चाहिए जिससे जल्द से जल्द उन्हें नौकरी के अवसर मिलने लगे आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही कोर्सेज के बारे में

  • Share this:
    आजकल 12वीं करने के बाद अच्छी हायर एजुकेशन (Higher Education) हासिल करना हर किसी के बस की बात नहीं होती. इसका प्रमुख कारण हायर एजुकेशन का महंगा होना और इसकी अवधि लंबा होना है. वैसे भी आजकल के ज्यादातर छात्र चाहते हैं कि वे 12वीं के बाद जल्द से जल्द खुद से अर्निंग (Earning) शुरू कर दें ताकि वे अपने पेरेंट्स का आर्थिक बोझ (Financial Burden) कुछ कम कर सकें. इसके लिए वे कम अवधि वाले यानि शॉर्ट टर्म जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज (Short Term Job Oriented Course) की तलाश में रहते हैं. आजकल बहुत सारे प्राइवेट इंस्टिट्यूट्स (Institution) इस तरह के ऑनलाइन (Online) और ऑफलाइन (Offline) कोर्सेज चलाते हैं. चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ कोर्सेज के बारे में:

    सभी स्ट्रीम्स के छात्र कर सकते हैं:
    12वीं के बाद जहां हायर एजुकेशन में जाने के लिए छात्रों को अपनी 12वीं की स्ट्रीम (Stream) के साथ चलने की बंदिश रहती है, वहीं शॉर्ट टर्म कोर्सेज के साथ ऐसी कोई बाध्यता (Boundation) नहीं होती. किसी एक शॉर्ट टर्म कोर्स को अपनी रुचि के मुताबिक आर्ट्स (Arts) स्ट्रीम के छात्र भी कर सकते हैं और कॉमर्स (Commerce) और साइंस (Science) स्ट्रीम के छात्र भी.

    चुन सकते हैं मनपसंद अवधि के कोर्स:
    सबसे बड़ी बात यह है कि 12वीं के बाद हायर एजुकेशन में जाने वाले छात्रों के लिए कोई भी डिग्री (Degree) कोर्स कम से कम 3 साल की अवधि का होता है, जबकि शॉर्ट टर्म कोर्सेज के साथ ऐसा नहीं है. इस मामले में छात्र अपनी सहूलियत के आधार पर 3 महीने, 6 महीने, 9 महीने और एक साल की अवधि तक के शॉर्ट टर्म कोर्सेज चुन सकते हैं.

    ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों विकल्प उपलब्ध:
    शॉर्ट टर्म जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज की सबसे बड़ी खासियत ये है कि किसी भी अवधि के ये कोर्स अब ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों फॉरमेट में उपलब्ध हैं. आपको थ्योरी पार्ट ज्यादातर ऑनलाइन फॉरमेट में ही पढ़ाया जाएगा. हालांकि कुछ कोर्सेज का प्रैक्टिकल (Practical) पार्ट भी ऑनलाइन ट्यूटोरियल्स के जरिए आप घर बैठे सीख सकते हैं, लेकिन जिन कोर्सेज में प्रैक्टिकल ऑफलाइन करना जरूरी है, उसके लिए आपको प्रैक्टिकल सेशन में जाना जरूरी होगा.

    ये हैं कुछ उपयोगी जॉब ओरिएंटेड शॉर्ट टर्म कोर्स:
    1. डिजिटल मार्केटिंग डिप्लोमा (Diploma in Digital Marketing):
    कौन कर सकता है आवेदन- 12वीं पास और ग्रेजुएट्स
    कितनी अवधि का कोर्स- 3 से 12 महीने
    क्या हैं कैरियर की संभावनाएं- एग्जीक्यूटिव, मैनेजर, स्पेशलिस्ट और मार्केटर के तौर पर निकलती हैं भर्तियां, खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं.

    2. होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा (Diploma in Hotel Management):
    कौन कर सकता है आवेदन- 12वीं पास
    कितनी अवधि का कोर्स- 6 महीने से एक साल
    क्या हैं कैरियर की संभावनाएं- शेफ, रिसेप्शनिस्ट, रूम सर्विस स्टाफ और मैनेजर पदों पर निकलती हैं भर्तियां

    3. डिप्लोमा इन मल्टीमीडिया (Diploma in Multimedia):
    कौन कर सकता है आवेदन- 10वीं और 12वीं पास
    कितनी अवधि का कोर्स- 6 महीने से एक साल, 2 साल का एडवांस डिप्लोमा
    क्या हैं कैरियर की संभावनाएं- एनिमेटर, ग्राफ़िक डिज़ाइनर, ब्रांड मैनेजर और प्रमोशन मैनेजर के पदों पर निकलती हैं भर्तियां.

    4. डिप्लोमा इन फोटोग्राफी (Diploma in Photography):
    कौन कर सकता है आवेदन- 12वीं पास और ऐसा कोई भी व्यक्ति जिसे फोटोग्राफी का पैशन हो.
    कितनी अवधि का कोर्स- 6 महीने से शुरू होकर अलग-अलग स्पेशलाइजेशन तक.
    क्या हैं कैरियर की संभावनाएं- फोटोग्राफर, फैशन फोटोग्राफर, वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर, न्यूज़ फोटोग्राफर, खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं.

    5. डिप्लोमा इन वेब डिजाइनिंग (Diploma in Web Designing):
    कौन कर सकता है आवेदन- 12वीं पास से लेकर ग्रेजुएट तक सभी
    कितनी अवधि का कोर्स- 3 महीने से 9 महीने तक
    क्या हैं कैरियर की संभावनाएं- वेब डिज़ाइनर, डिजाइनिंग एग्जीक्यूटिव और डिजाइनिंग मैनेजर पदों पर भर्तियां निकलती हैं. डेली बेसिस पर फ्रीलान्स काम करने की भी बेहतर संभावनाएं हैं.