Home /News /career /

Writing Tips: लिखने का शौक है तो इसी में बना लें करियर, इन टिप्स का रखें ध्यान

Writing Tips: लिखने का शौक है तो इसी में बना लें करियर, इन टिप्स का रखें ध्यान

लिखने का शौक दिला सकता है आपको काम और शोहरत.

लिखने का शौक दिला सकता है आपको काम और शोहरत.

Writing Tips: कई बार हमें लिखने का शौक तो खूब होता है लेकिन समझ में नहीं आता है कि किसी लेख की शुरुआत कहां से की जाए. अगर आप इसी में करियर बनाना चाहते हैं तो ये राइटिंग टिप्स आपके काम आ सकते हैं.

    नई दिल्ली (Writing Tips). कुछ लोगों को बचपन से ही लिखने का काफी शौक होता है. वे कभी भी किसी भी टॉपिक पर लिख सकते हैं (Writing Skills). हालांकि कई बार हमें लिखने का शौक तो खूब होता है लेकिन समझ में नहीं आता है कि किसी लेख की शुरुआत कहां से की जाए (Career In Writing). अगर आप इसी में करियर बनाना चाहते हैं तो ये राइटिंग टिप्स (Writing Tips) आपके काम आ सकते हैं.

    एक छोटा सा लेख भी पढ़ने में काफी मजेदार लग सकता है लेकिन उसे लिखने में काफी रिसर्च और मेहनत की जरूरत पड़ती है. राइटिंग में करियर (Career In Writing) बनाने में काफी अच्छा स्कोप है और इसमें कमाई के भी काफी अच्छे अवसर हैं. सबसे बड़ी बात है कि आपकी राइटिंग स्किल (Writing Skills) आपको काम और शोहरत, दोनों दिला सकती है.

    लिखने से पहले लगाएं दिमाग
    किसी भी लेख को लिखने से पहले अपनी टार्गेट ऑडियंस (Target Audience) को समझें. आप यह लेख किसके लिए लिख रहे हैं और इसका मीडियम क्या रहेगा. इमेजिनेशन ही एक ऐसी चीज है, जिससे आप हर तरह का सीन क्रिएट कर सकते हैं. इसलिए क्रिएटिव एंगल (Creative Writing) पर अपनी सोच को बिल्कुल फ्री कर दें.

    शब्दों पर करें फोकस
    किसी भी लेख में बार-बार एक ही शब्द रिपीट न करें. शब्दों या वाक्यों को रिपीट करने से रीडर्स बोर हो जाते हैं. इसलिए एक जैसे शब्दों का प्रयोग न करके उसके जैसे समान अर्थ वाले शब्दों का प्रयोग करें. बहुत कठिन शब्दों के बजाय आसान भाषा का इस्तेमाल करें. जहां जरूरत हो, वहां उदाहरण भी दें.

    यह भी पढ़ें:
    Ratan Tata Education: रतन टाटा ने स्टूडेंट लाइफ में रेस्तरां में की कई नौकरी, धोए बर्तन
    Tips: पढ़ाई करने के बाद भूल जाते हैं जरूरी टॉपिक? आपके खूब काम आएंगे ये टिप्स

    अनुभव और जानकारी का रखें ख्याल
    आप जिस टॉपिक पर लिख रहे हैं, अगर आपके पास उससे जुड़ा कोई पर्सनल एक्सपीरियंस है तो रीडर्स के साथ उसे शेयर करें. इससे वे टॉपिक और आपके भावों को बेहतर तरीके से समझ सकेंगे. साथ ही उन्हें गुमराह न करते हुए टॉपिक की पूरी जानकारी दें.

    जगह का पड़ेगा फर्क
    टॉपिक के हिसाब से उसे लिखने की जगह ढूंढें. ऐसा बिल्कुल भी जरूरी नहीं है कि आप ऑफिस या घर के कंफर्ट से ही अपना राइटिंग असाइनमेंट पूरा करें. आप चाहें तो छोटी वेकेशन प्लान कर सकते हैं या किसी कॉफी हाउस भी जा सकते हैं.

    Tags: Career Guidance, Job

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर