Home /News /career /

UGC के साथ AICTE की जगह भी लेगा HECI, अगले महीने कैबिनेट के सामने पेश होगा विधेयक

UGC के साथ AICTE की जगह भी लेगा HECI, अगले महीने कैबिनेट के सामने पेश होगा विधेयक

महाराष्‍ट्र बोर्ड ने शुरू की साल 2020 की बोर्ड परीक्षाओं के ल‍िये एप्‍ल‍िकेशन फाॅर्म भरने की प्रक्रिया.

महाराष्‍ट्र बोर्ड ने शुरू की साल 2020 की बोर्ड परीक्षाओं के ल‍िये एप्‍ल‍िकेशन फाॅर्म भरने की प्रक्रिया.

अगले महीने अगर यह बिल पास हो जाता है तो UGC और AICTE की जगह एक ही आयोग- हायर एजुकेशन कमिशन ऑफ इंडिया काम करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली: मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय, एचआरडी जल्‍द ही यूजीसी (UGC) के स्‍थान पर प्रस्तावित उच्च शिक्षा आयोग (HECI) को लाने की तैयारी कर रहा है. मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार उच्च शिक्षा आयोग (HECI) ना केवल यूजीसी के बदले आएगा, बल्‍क‍ि यह अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) को भी रिप्‍लेस करेगा. इस संबंध में एक विधेयक अगले महीने मंत्रिमंडल के समक्ष रखा जाएगा.

    मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों ने इस बारें में जानकारी देते हुए कहा क‍ि ‘भारतीय उच्च शिक्षा आयोग’ गठित करने के प्रस्ताव वाला विधेयक अगले महीने विचार के लिये कैबिनेट के समक्ष रखा जायेगा, जिसमें विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद को आयोग के दायरे में लाने का प्रावधान किया गया है.

    मंत्रालय ने पिछले वर्ष विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग, यूजीसी अधिनियम को निरस्त करके विश्‍ववि‍द्यालय अनुदान आयोग को विस्थापित करने एवं भारतीय उच्च शिक्षा आयोग (HECI) की स्थापना करने की घोषणा की थी. मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इसे टिप्पणियों और सुझावों के लिये सार्वजनिक किया है और विभिन्‍न पक्षकारों से राय मांगी गई है. भारतीय उच्च शिक्षा आयोग का उद्देश्य उच्च शिक्षा की गुणवत्ता और शिक्षा के स्तर को सुधारना है.

    मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया क‍ि भारतीय उच्च शिक्षा आयोग एकल नियामक के रूप में काम करेगा और यूजीसी को निरस्त करने एवं एआईसीटीई को अपने दायरे में लायेगा. यह विधेयक राज्यों के साथ व्यापक विचार विमर्श के बाद तैयार किया गया है. इसे अक्तूब में कैबिनेट के समक्ष लाया जायेगा. मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि भारतीय उच्च शिक्षा आयोग विधेयक यूजीसी और एआईसीटीई की जगह, एकल नियामक के रूप में भारतीय उच्च शिक्षा आयोग विधेयक को राज्यों के साथ परामर्श के बाद मंत्रिमडंल की सहमति के लिए तैयार किया गया. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जुलाई में संसद में बताया था कि एचईसीआई अकादमिक मानदंड को बनाये रखने, गुणवत्ता को बेहतर बनाने, अच्छा प्रदर्शन करने वाली संस्थाओं तथा ज्ञान एवं नवोन्मेष को बढ़ावा देने में मदद करेगा.

    गौरतलब है कि यूजीसी देशभर में विश्‍वविद्यालयों के नियमन का कार्य करता है जबकि एआईसीटीई इंजीनियरिंग, फार्मेसी, प्रबंधन एवं अन्य तकनीकी शिक्षा प्रदान करने वाले कालेजों के नियमन का कार्य करता है.

    यह भी पढ़ें:

    CBSE CTET December 2019: CTET दिसंबर 2019 परीक्षा के लिये आवेदन की आखिरी तारीख
    IAS Success Story: जो लोग कहें- कब तक करोगे तैयारी, ऐसे लोगों से बना लें दूरी
    Tamil Nadu TEU B.Sc B.Ed Results 2019: रिजल्‍ट घोषित, tnteu.ac.in पर करें चेक

    Tags: HRD ministry

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर