UGC की गाइडलाइंस : परीक्षा और रिजल्ट के बारे में दी बड़ी अपडेट, जानें अपने हर सवाल का जवाब

UGC की गाइडलाइंस : परीक्षा और रिजल्ट के बारे में दी बड़ी अपडेट, जानें अपने हर सवाल का जवाब
यूजीसी की गाइडलाइंस के अनुसार, परीक्षा से दस दिन पहले छात्रों को जानकारी दे दी जाएगी.

बता दें कि सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं के नतीजे भी इंटरनल टेस्ट के आधार पर घोषित करने की मांग की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 3:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लागू किए गए लॉकडाउन (Lockdown) से उपजे हालात के बीच शैक्षिक कैलेंडर को गति देते हुए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने अपनी गाइडलाइंस (Guidelines) जारी कर दी हैं. इसके तहत देश की सभी यूनिवर्सिटीज और उच्च शिक्षण संस्थानों में एग्जाम और एकेडमिक कैलेंडर के दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. यूजीसी की समिति की सिफारिशों के आधार पर तैयार गाइडलाइंस को मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने जारी किया. आइए जानते हैं इससे जुड़े सारे सवालों के जवाब.

1. यूजी और पीजी प्रोग्राम के डिग्री प्रोग्राम के आखिरी वर्ष के छात्रों की परीक्षा जुलाई में होगी. नतीजे अगस्त में आएंगे.

2. अगर कोरोना वायरस से उपजे हालात नहीं सुधरते हैं तो दूसरे वर्ष के छात्रों को पूर्व सेमेस्टर के 50 फीसदी अंक और इंटरनल असेस्मेंट के 50 फीसदी अंक के आधार पर ग्रेड मिलेंगे.



3. कोरोना वायरस का असर जिन शहरों में कम या खत्म हो गया है, वहां जुलाई में पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों की परीक्षा आयोजित की जाएगी.
4. हर यूनिवर्सिटी में कोविड19 सेल बनाई जाएगी, जिसका काम एकेडमिक कैलेंडर और एग्जामिनेशन से संबंधित मुद्दों का समाधान करना होगा.

5. विश्वविद्यालयों को अपने एकेडमिक कैलेंडर के आधार पर जल्द से जल्द ऑनलाइन, ऑफलाइन या पेपर-पेन आधारित परीक्षा आयोजित करानी होगी.

6. विश्वविद्यालय पांच की बजाय  छह दिन खुलेंगे. जिन छात्रों को ग्रेड देकर प्रमोट किया जाएगा, वे हालात ठीक होने के बाद जब संस्थान खुलेंगे तो दोबारा सेमेस्टर परीक्षा दे सकते हैं.

7. परीक्षा का समय तीन घंटे की बजाय दो घंटे का होगा. परीक्षा की सूचना कम से कम दस दिन पहले देनी होगी.

8. लॉकडाउन अवधि में सभी छात्रों व शोध छात्रों की हाजिरी उपस्थित मानी जाएगी.

9. एक जून से 30 जून  तक गर्मियों की छुटिट्यां रहेगी.

10. आखिरी वर्ष या सेमेस्टर की परीक्षा एक से 15 जुलाई तक चलेगी और रिजल्ट 31 जुलाई को आएगा. जबकि पहले और दूसरे वर्ष की परीक्षा 16 जुलाई से 31 जुलाई तक और रिजल्ट 14 अगस्त  को जारी होगा.

11. यूजीसी गाइडलाइन के तहत संस्थान काम करेंगे, लेकिन वे अपने फैसले लेने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र हैं। वे इन गाइडलाइन में बदलाव कर सकते हैं।

एकेडमिक सत्र 2020—2021
1. एडमिशन प्रक्रिया 1 अगस्त से लेकर 31 अगस्त तक के बीच पूरी की जाएगी.

2. 30 सितंबर तक प्रवेश परीक्षा से विभिन्न डिग्री प्रोग्राम  में  दाखिले से संबंधित सभी दस्तावेजों की जांच कर सीट अलॉट हो जाएगी.

3. सेकेंड और थर्ड ईयर के स्टूडेंट्स के लिए 1 अगस्त 2020 से क्लास शुरू होंगी जबकि फ्रेश बैच के लिए एक सितंबर 2020 से.

4. आड सेमेस्टर एक जनवरी से 25 जनवरी 2021 और ईवन सेमेस्टर 27 जनवरी से 25 मई 2021 तक आयोजित होगा.

5. 2020-21 एकेडमिक सत्र की वार्षिक परीक्षा अगले साल 26 मई से 25 जून के बीच आयोजित की जाएंगी.

6. एक जुलाई से 30 जुलाई 2021 तक गर्मियों की छुटिटयों के चलते संस्थान बंद रहेंगे. जबकि दो अगस्त 2021 से अकेडमिक सत्र 2021-22 शुरू होगा.

छह महीने का अतिरिक्त समय मिलेगा पीएचडी, एमफिल स्कॉलर्स को
गाइडलाइंस के मुताबिक, थीसिस जमा करने के लिए पीएचडी, एमफिल स्कॉलर्स को डिग्री पूरी करने और छह महीने का अतिरिक्त समय मिलेगा.

75 फीसदी पाठयक्रम कक्षा तो 25 ऑनलाइन
पढ़ाई का 75 फीसदी पाठ्यक्रम कक्षा में उपस्थित होकर पूरा कराया जा सकता है, लेकिन 25 फीसदी पाठ्यक्रम शनिवार या रविवार को घर बैठे ऑनलाइन क्लास में पूरा करना होगा.

CBSE Board Exam: परीक्षा से लेकर नतीजे तक की डेट...ये दस बातें जरूरी है जानना

UP Board Result: 20 से 25 मई के बीच आ सकता है रिजल्ट,4 मई से कॉपियों की चेकिंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज