UGC NET 2020: एप्लीकेशन करेक्शन विंडो खुली, ugcnet.nta.ac.in पर बदलवा सकते हैं एग्जाम सेंटर

UGC NET 2020: एप्लीकेशन करेक्शन विंडो खुली, ugcnet.nta.ac.in पर बदलवा सकते हैं एग्जाम सेंटर
एप्लीकेशन विंडो बंद होने के बाद एडमिट कार्ड जारी कर दिए जाएंगे.

UGC NET 2020: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) ने करेक्शन विंडो (UGC Net Correction Window) खोलने का फैसला किया है. विंडो बंद होने के बाद एनटीए एडमिट कार्ड जारी कर देगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 1, 2020, 10:12 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Grant Commission) यानी एनटीए (NTA) ने यूजीसी नेट 2020 (UGC NET 2020)  की एप्लीकेशन करेक्शन विंडो को खोल दिया है. जो कैंडीडेट्स अपने एग्जाम सेंटर्स में बदलाव करना चाहते हैं, वो यूजीसी की आधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर जाकर ऐसा कर सकते हैं. बता दें कि यूजीसी नेट 2020 की परीक्षा इसी महीने दो चरणों में आयोजित की जाएगी. पहले चरण में 16 से 18 सितंबर तक एग्जाम होंगे, जबकि इसकेबाद 21 से 25 सितंबर तक परीक्षा आयोजित की जाएगी.

जारी होंगे एडमिट कार्ड
एक बार जब यूजीसी नेट एप्लीकेशन करेक्शन विंडो बंद हो जाएगी तो इसके बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए एडमिट कार्ड जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर देगा. यूजीसी परीक्षा में जो 81 विषय दिए गए हैं, कैंडीडेट्स उनमें से चुनकर ये तय कर सकते हैं कि उन्हें किसी विषय की परीक्षा में हिस्सा लेना है. ये एग्जाम यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त विभिन्न यूनिवर्सिटीज और कॉलेजों में असिसटेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फेलोशिप यानी जेआरएफ पोस्ट के लिए है.

UGC NET 2020: ऐसे करें करेक्शन
1. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर जाएं.


2. होम पेज के नीचे की ओर एप्लीकेशन करेक्शन विंडो के लिंक पर क्लिक करें.
3. दी गई जगह पर एप्लीकेशन नंबर, जन्मतिथि समेत अन्य विवरण भरें.
4. एप्लीकेशन में जो बदलाव करना चाहते हैं वो करें. एग्जाम सेंटर बदलने का विकल्प भी है.
5. करेक्शन करने के बाद फॉर्म सबमिट कर दें.

ये भी पढ़ें
अलविदा प्रणब मुखर्जी: आपको पता है कितने पढ़े लिखे थे हमारे पूर्व राष्ट्रपति
CBSE ने जारी किया 12वीं का रिवैल्युएशन रिजल्ट, cbseresults.nic.in पर करें चेक

ईमेल से किए गए करेक्शन मान्य नहीं होंगे
नेशनल ​टेस्टिंग एजेंसी ने साफ कर दिया है कि जिन कैंडीडेट्स ने ईमेल के जरिये करेक्शन की अपील की थी, उन्हें भी आधिकारिक वेबसाइट के जरिये ही करेक्शन करने होंगे. ईमेल के जरिये किए गए करेक्शन किसी हाल में मान्य नहीं होंगे और न ही स्वीकार किए जाएंगे. बता दें कि इस साल कोरोना वायरस की वजह से एग्जाम आयोजित करने में देरी हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज