Home /News /career /

अगले हफ्ते होगी कॉलेज-यूनीवर्सिटी में नए सत्र और परीक्षा की तारीख की घोषणा, यूजीसी ने भेजी रिपोर्ट

अगले हफ्ते होगी कॉलेज-यूनीवर्सिटी में नए सत्र और परीक्षा की तारीख की घोषणा, यूजीसी ने भेजी रिपोर्ट

अगले एकेडमिक सेशन की शुरुआत को लेकर यूजीसी ने दो समितियां बनाई थीं, जिन्होंने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. इन पर विचार करने के बाद अगले हफ्ते गाइडलाइन जारी की जाएगी.

अगले एकेडमिक सेशन की शुरुआत को लेकर यूजीसी ने दो समितियां बनाई थीं, जिन्होंने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. इन पर विचार करने के बाद अगले हफ्ते गाइडलाइन जारी की जाएगी.

अगले एकेडमिक सेशन की शुरुआत को लेकर यूजीसी ने दो समितियां बनाई थीं, जिन्होंने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. इन पर विचार करने के बाद अगले हफ्ते गाइडलाइन जारी की जाएगी.

    कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देश में पैदा हुए हालात को देखते हुए अगले एकेडमिक सेशन के संबंध में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग,यूजीसी (University Grants Commission, UGC) कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ को अगले हफ्ते गाइडलाइन जारी करेगा. इसके लिए यूजीसी ने दो समितियां बनाई थीं जिन्होंने अपनी रिपोर्ट शनिवार को सौप दी है.

    पहली समिति में हरियाणा यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर की अध्यक्षता में बनाई गई थी जो कि लॉकडाउन में यूनिवर्सिटीज में परीक्षा कराने के तरीकों और वैकल्पिक एकेडमिक कैलेंडर पर काम रही थी. दूसरी समिति ऑनलाइन शिक्षा का स्तर सुधारने के उपायों का सुझाव देगी. इस समिति की अध्यक्षता इग्नू के वीसी नागेश्वर राव कर रहे हैं.

    यूजीसी अब इस रिपोर्ट को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सामने पेश करेगी. मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के आधार पर ही यूजीसी इस सम्बन्ध में कोई गाइड लाइन कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों के लिए जारी करेगी.

    दोनों समितियों ने अपनी रिपोर्ट को सौंप दिया है. यूजीसी की मीटिंग में इन पर विचार किया जाएगा और बाद में यूजीसी इसको लेकर अगले हफ्ते गाइडलाइन जारी करेगी कि अगल सत्र कब से शुरू किया जाए. मीडियो रिपोर्ट्स के मुताबिक आयोग ने अगला सत्र सितंबर से शुरू करने की मानव संसाधन विकास मंत्रालय से सिफारिश की है.

    एबीपी की रिपोर्ट के मुताबिक विश्वविद्यालयों और विशेषज्ञों द्वारा जो सुझाव समिति को प्रदान किया गया है वह यह है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए जब तक देश में हालात सुधर नहीं जाते हैं तब तक किसी भी कीमत पर छात्रों को पढ़ने के लिए कक्षाओं में बुलाना अच्छा नहीं होगा क्योंकि इससे छात्रों के बीच फिजिकल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करने में समस्या उत्पन्न हो जाएगी.

    विश्वविद्यालयों और विशेषज्ञों ने समिति को यह भी सुझाव दिया कि जिन शहरों या जिन जिलों में कोरोना का कोई मरीज नहीं है वहां के छात्रों को लॉक डाउन खत्म होने के बाद आगामी प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए छूट दी जाय जिससे वे अगले सत्र में प्रवेश पाने के लिए अपनी तैयारी कर सकें.

    Tags: Corona, Corona epidemic

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर