हिंदू धर्म का किया गलत चित्रण, आपत्ति के बाद ब्रिटेन के स्कूल ने मांगी माफी, वेबसाइट से हटाई वर्कबुक

हिंदू समूहों ने सोशल मीडिया पर इस मामले पर गुस्सा जाहिर किया और पाठ के उस हिस्से को उजागर किया जिसमें ‘महाभारत’ का जिक्र था और ‘धर्म की रक्षा के लिए’ युद्ध को उचित ठहराया गया था.
हिंदू समूहों ने सोशल मीडिया पर इस मामले पर गुस्सा जाहिर किया और पाठ के उस हिस्से को उजागर किया जिसमें ‘महाभारत’ का जिक्र था और ‘धर्म की रक्षा के लिए’ युद्ध को उचित ठहराया गया था.

हिंदू समूहों ने सोशल मीडिया पर इस मामले पर गुस्सा जाहिर किया और पाठ के उस हिस्से को उजागर किया जिसमें ‘महाभारत’ का जिक्र था और ‘धर्म की रक्षा के लिए’ युद्ध को उचित ठहराया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2020, 9:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हिंदू धर्म पर एक अध्याय के अंदर आतंकवाद का जिक्र किए जाने के कारण कई अभिभावकों और ब्रिटेन के हिंदू संगठनों के विरोध के बाद इंग्लैंड के एक स्कूल ने माफी मांगी है और अपनी वेबसाइट से उस स्कूल वर्कबुक को हटा दिया है.

स्कूल ने कहा, उस वर्कबुक को बार से खरीदा गया था
इंग्लैंड के वेस्ट मिडलैंड्स क्षेत्र के सोलीहूल में लांगले स्कूल (Langley School in Solihull, in the West Midlands region of England) ने बुधवार को कहा कि कुछ वर्षों पहले ‘जीसीएसई रिलिजियस स्टडीज : रिलीजन, पीएस एंड कंफ्लीक्ट वर्कबुक’ को बाहर से खरीदा गया था और इसे अब हटा दिया गया है.

स्कूल के कर्मचारियों ने इसे नहीं बनाया
लांगले स्कूल ने बयान में कहा, दुर्भाग्य से कई वर्ष पहले इस दस्तावेज को बाहर से खरीदा गया था और हमारे स्कूल में हमारे कर्मचारियों ने इसे नहीं बनाया था. हम आपको आश्वस्त कर सकते हैं कि इसका इस्तेमाल स्कूल में नहीं किया गया.



स्कूल ने कहा, किसी भी तरह से दुख पहुंचने पर हम क्षमाप्रार्थी हैं
इसने कहा, ‘सामग्री को तुरंत हमारी वेबसाइट से हटा दिया गया है. किसी भी तरह से दुख पहुंचने पर हम क्षमाप्रार्थी हैं.’यह वर्कबुक जीसीएसई वर्ष 10-11 चरण के विद्यार्थियों के लिए धार्मिक अध्ययन मॉड्यूल के तहत था, जिसपर स्टांप था जिससे स्पष्ट होता है कि इसे इंग्लैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड के लिये परीक्षा प्राधिकरण एक्यूए की आधिकारिक मंजूरी प्राप्त थी. यह वर्कबुक तकरीबन 15 साल के विद्यार्थियों के लिये था.

ये भी पढ़ें-
JEE एडवांस टॉपर चिराग फालोर ने क्यों चुना IIT की बजाय MIT, जानिए उनका जवाब
SSC ने बिहार विधानसभा चुनाव की वजह से बदला SSC JE, Steno, CGL परीक्षाओं का शेड्यूल, करें चेक

 हिंदू समूहों ने सोशल मीडिया पर गुस्सा जाहिर किया
क्षुब्ध अभिभावकों और हिंदू समूहों ने सोशल मीडिया पर इस मामले पर गुस्सा जाहिर किया और पाठ के उस हिस्से को उजागर किया जिसमें ‘महाभारत’ का जिक्र था और ‘धर्म की रक्षा के लिए’ युद्ध को उचित ठहराया गया था. स्कूल की वेबसाइट https://www.langley.solihull.sch.uk/.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज