लाइव टीवी

UP Board 12th result: इंटर में फेल होने वाले छात्रों के पास है एक और मौका, पढ़ें कम्पार्टमेंट से जुड़े ये नियम

Subhesh Sharma | News18Hindi
Updated: April 28, 2019, 10:34 AM IST
UP Board 12th result: इंटर में फेल होने वाले छात्रों के पास है एक और मौका, पढ़ें कम्पार्टमेंट से जुड़े ये नियम
UP Board 12th Result 2019: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ने शनिवार को के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित किए. नतीजे जारी होते ही कई छात्रों के हाथ सफलता लगी, तो कुछ इस बार कामयाब नहीं हो पाए

UP Board 12th Result 2019: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ने शनिवार को के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित किए. नतीजे जारी होते ही कई छात्रों के हाथ सफलता लगी, तो कुछ इस बार कामयाब नहीं हो पाए

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2019, 10:34 AM IST
  • Share this:
UP Board 12th Result 2019: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ने शनिवार को के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित किए. नतीजे जारी होते ही कई छात्रों के हाथ सफलता लगी, तो कुछ इस बार कामयाब नहीं हो पाए. ये बात वाकई परेशान करने वाली है कि हर साल यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट की परीक्षा में फेल होने वाले छात्रों की संख्या बढ़ रही है. UP board 12th result 2019 में 30 प्रतिशत छात्र फेल हुए हैं.

UP Board Result 2019: हाईस्कूल टॉपर ने कहा- मंजिल को पाने के लिए उसकी भूख भी जरूरी

लेकिन फेल होने वाले छात्रों के पास अभी एक मौका और है. एक या दो सब्जेक्ट्स में फेल होने वाले छात्रों को निराश होने की जरुरत नहीं है. क्योंकि उनके पास अभी कम्पार्टमेंट एग्जाम का मौका है. लेकिन जो छात्र दो से ज्यादा सब्जेक्ट्स में फेल हुए हैं, उन्हें एग्जाम फिर से देना होगा. लेकिन दो से ज्यादा सब्जेक्ट्स में फेल स्टूडेंट्स भी स्क्रूटनी के लिए अप्लाई कर सकते हैं. हालांकि इसमें कॉपी की रि-चैकिंग नहीं होती. सिर्फ पाए मार्क्स फिर से जोड़े जाते हैं.

12th में नंबर कम आने पर DU में एडमिशन न मिले तो इन यूनिवर्सिटी में करें ट्राई

12वीं में फेल होने वाले छात्र सप्लिमेंट्री/कम्पार्टमेंट के जरिए पास हो सकते हैं. इसमें 24 नंबर का ग्रेस मार्क सभी विषयों को मिलाकर मिलेगा.

सप्लिमेंट्री/ कम्पार्टमेंट के क्या हैं नियम

- इसके लिए छात्र या छात्रा को हिंदी विषय में पास होना जरुरी है.
Loading...

- सप्लिमेंट्री एग्जाम के नियम ठीक उसी तरह से है जैसा की बोर्ड एग्जाम में होता है. बोर्ड सप्लिमेंट्री परीक्षा की तिथि घोषित करता है, उसके बाद ऑनलाइन फॉर्म भरना होता है. इसके लिए छात्र को 350 रुपए फीस जमा करनी होगी.

UP Board Result 2019: जब यूपी के 150 स्कूलों में सभी छात्र हुए थे फेल

ये हैं स्क्रूटनी/री-चैकिंग के नियम

- कोई भी फेल या पास छात्र अगर अपने नंबरों से संतुष्ट नहीं है तो यह आप्शन अपना सकता है. वह सभी विषयों की स्क्रूटनी के लिए अप्लाई कर सकता है.

- इसके लिए प्रति विषय के लिए 100 रुपए का शुल्क ट्रेजरी में जमा करना होगा. लखनऊ में एसबीआई की ट्रेजरी ब्रांच में पूरा फॉर्म भरकर स्कूल से सत्यापित कराकर जमा कर सकते हैं. इसी तरह अन्य जिलों में भी एसबीआई की ट्रेजरी शाखा में छात्र फॉर्म और शुल्क जमा कर सकते हैं.

- रिजल्ट घोषित होने के 30 दिन के अंदर ही स्क्रूटनी के लिए अप्लाई किया जा सकता है. इसके लिए पूरा फॉर्म इलाहाबाद स्थित यूपी बोर्ड के कार्यालय में स्पीड पोस्ट के जरिए 30 दिन के भीतर जमा करवाना अनिवार्य है.

- स्क्रूटनी में सिर्फ टोटलिंग का प्रावधान है.

58,06,922 छात्रों ने दी थी बोर्ड परीक्षा

यूपी बोर्ड 2019 की 10वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से 28 फरवरी तक आयोजित की गई थी, जबकि कक्षा 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से शुरू हुईं और 2 मार्च को ख़त्म हुई थीं. परीक्षा में इस बार कुल 58,06,922 स्टूडेंट्स शामिल हुए थे. यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 8,354 केंद्रों पर आयोजित की गई थी. यूपी बोर्ड की सख्ती की वजह से बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स ने 10वीं की परीक्षा छोड़ दी थी. आपको बता दें कि पिछले साल यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं का रिजल्ट एक ही दिन 29 अप्रैल 2018 को जारी किया था.

करियर और जॉब्स से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 28, 2019, 9:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर