यूपी बोर्ड ने कॉमर्स स्ट्रीम में पेश किया NCERT सिलेबस, इस कोर्स से 2022 में होंगे 12वीं के पेपर

राज्य भर के बोर्ड से जुड़े 28,000 से अधिक स्कूलों में 12वीं के कॉमर्स के छात्रों के लिए ये सिलेबस लागू होगा.
राज्य भर के बोर्ड से जुड़े 28,000 से अधिक स्कूलों में 12वीं के कॉमर्स के छात्रों के लिए ये सिलेबस लागू होगा.

2022 में NCRT के सिलेबस पर आधारित 12वीं की परीक्षाएं होंगी. ये जानकारी यूपी बोर्ड के अधिकारियों ने दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 1:46 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत के पांच महीने बाद, यूपी बोर्ड ने 11वीं कक्षा के छात्रों के लिए कॉमर्स स्ट्रीम के लिए एनसीईआरटी-आधारित सिलेबस शुरू किया है. इस फैसले का यह भी मतलब है कि राज्य भर के बोर्ड से जुड़े 28,000 से अधिक स्कूलों में 12वीं के कॉमर्स के छात्रों के लिए NCERT आधारित कोर्स अगले सत्र से शुरू किया जाएगा.

2022 में NCRT के सिलेबस से 12वीं की परीक्षाएं
परिणामस्वरूप, 2022 में NCRT के सिलेबस पर आधारित 12वीं की परीक्षाएं होंगी. ये जानकारी यूपी बोर्ड के अधिकारियों ने दी. बोर्ड ने पहले ही आर्ट्स और साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) की सिलेबस-आधारित किताबरें इंट्रोड्यूस कर दी हैं.

18 सितंबर को आदेश
यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने कहा कि विशेष सचिव (माध्यमिक शिक्षा) (Special secretary, secondary education) आर्यका अखौरी ने 18 सितंबर को एक आदेश के माध्यम से राज्य माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के साथ-साथ यूपी बोर्ड को इस बदलाव से अवगत कराया.



उन्होंने कहा कि अप्रूवल 28 अगस्त 2020 को यूपी बोर्ड द्वारा प्रस्तुत एक प्रस्ताव के जवाब में आया था.

ये भी पढ़ें-
दिल्ली HC का सरकार को निर्देश, DU प्रोफेसरों की पेंडिंग सैलरी का करे रिव्यू
ई-रिक्शा ड्राइवर का बेटा लंदन के ballet school के लिए ‘क्राउडफंड’ से जुटा रहा फीस

यूपी में स्कूल फिर से खोले जाने को लेकर अपडेट
इसके अलावा उत्तर प्रदेश में खोले जाने से जुड़ी बात करें तो,  21 सितंबर को स्कूल (School) नहीं खुलेंगे. कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने यह फैसला लिया है. उधर बेसिक शिक्षा विभाग ने भी स्कूलों को खोलने के लिए बड़ा निर्णय लिया है. इसके तहत फ़िलहाल ऑनलाइन ही पढ़ाई होगी. इसके लिए एक टाइम टेबल बनाया गया है जिसे स्कूलों के साथ साथ छात्रों को भी दिया जाएगा. टाइम टेबल के हिसाब से ही शिक्षक ऑनलाइन क्लासेज लेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज