Home /News /career /

UP Board results 2020: जेल में बंद कैदियों ने किया कमाल, सामान्य परीक्षार्थियों से ज्यादा हुए पास

UP Board results 2020: जेल में बंद कैदियों ने किया कमाल, सामान्य परीक्षार्थियों से ज्यादा हुए पास

हाईस्कूल की परीक्षा में 17 जिलों में निरुद्ध दसवीं के कुल 114 बंदियों ने अपना पंजीकरण कराया था

हाईस्कूल की परीक्षा में 17 जिलों में निरुद्ध दसवीं के कुल 114 बंदियों ने अपना पंजीकरण कराया था

UP Board results 2020: 10वीं की परीक्षा में जहां 83 फीसदी सामान्य छात्र पास हुए हैं, वहीं कैदियों में यह आंकड़ा 92 फीसदी है. इसी तरह 12वीं के रिजल्ट में भी 83 फीसदी बंदियों ने परीक्षा पास की है.

लखनऊ. सुनने में थोड़ा अजीब लग रहा होगा, लेकिन यह सच है. यूपी बोर्ड की परीक्षा में घर में बैठकर तैयारी करने वाले जितने छात्र पास हुए हैं, उससे ज्यादा जेल (prison) में पढ़ाई कर परीक्षा देने वाले बंदी पास हुए हैं. दोनों के पासिंग परसेंट में बहुत अंतर है. बता दें कि 10वीं और 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए परीक्षार्थियों (Examinees) की तुलना में जेल में बंद कैदियों (Prisoners) की संख्या बहुत छोटी है लेकिन उनका पासिंग परसेंट सामान्य छात्रों से काफी अधिक रहा है. आपको  बता दें कि आज दोपहर बाद यूपी के डिप्टी सीएम डॉ. केपी मौर्या ने उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10वीं और 12वीं कक्षा का परिणाम (UP Board results 2020) जारी किया. 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थी अपना रिजल्ट यूपी बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट upresult.nic.in पर जाकर देख सकते हैं.

सामान्य विद्यार्थियों का हाईस्कूल में पासिंग प्रतिशत इस साल 83 फ़ीसदी रहा है, जबकि 12वीं में 74.6 फीसदी सामान्य विद्यार्थी पास हुए हैं. वहीं, जेल में बंद कैदियों का पासिंग प्रतिशत इन से 10 परसेंट ज्यादा रहा है. जेल के कैदियों का पासिंग प्रतिशत हाईस्कूल में जहां 92.47 फ़ीसदी रहा, वहीं 12वीं में यह 83.5 फ़ीसदी रहा है.

200 से ज्यादा कैदियों ने दी थी परीक्षा

हाईस्कूल की परीक्षा में 17 जिलों में निरुद्ध दसवीं के कुल 114 बंदियों ने अपना पंजीकरण कराया था,  जिसमें से 93 ने परीक्षा दी थी. इनमें से 86 हाईस्कूल की परीक्षा पास कर गए.  यानी पासिंग प्रतिशत 92.47 फ़ीसदी है. इसी तरह 22 जिलों के जेलों में निरुद्ध कुल 97 परीक्षार्थियों ने इंटरमीडिएट के लिए पंजीकरण कराया था. इसमें से 75 परीक्षा में शामिल हुए थे और 63 सफल हुए हैं. यानी पासिंग परसेंट 83.56 फीसदी है. गौरतलब है कि इस साल यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा में 56 लाख 11 हजार 72 परीक्षार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. इनमें से 4 लाख 80 हजार 591 परीक्षार्थी बोर्ड परीक्षा में शामिल नहीं हुए थे. 12वीं की परीक्षा जहां 15 दिनों में पूरी हुई, वहीं मैट्र‍िक परीक्षा महज 12 दिनों में समाप्‍त हो गई.

Tags: Lucknow news, UP Board Class 10th results, UP Board Class 12th results, UP Board Results, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर