UP Board Result 2020: इस कॉलेज के छात्रों ने फिर किया इंटर-हाईस्कूल में टॉप, पिछले साल भी यहीं से मिली थी 12वीं की टॉपर

UP Board Result 2020: इस कॉलेज के छात्रों ने फिर किया इंटर-हाईस्कूल में टॉप, पिछले साल भी यहीं से मिली थी 12वीं की टॉपर
यूपी बोर्ड ने परीक्षा का परिणाम जारी कर द‍िया है.

बड़ौत, यूपी के एक छोटे से गांव में चलने वाले एक स्कूल ने इंटर-हाईस्कूल की परीक्षा में यूपी को दिए दो-दो टॉपर.

  • Share this:
नई द‍िल्‍ली: बड़ौत, बागपत का श्रीराम शिक्षा मंदिर इंटर कॉलेज एक बार फिर से सुर्खियों में है. इस कॉलेज के छात्र अनुराग मलिक को इंटर की परीक्षा में 97 फीसद नंबर मिले हैं. अनुराग ने यूपी बोर्ड इंटर की परीक्षा में टॉप किया है. यह कोई पहला मौका नहीं है जब इस कॉलेज के छात्र ने इंटर टॉप किया है. हाईस्कूल की परीक्षा टॉप करने वाली छात्रा रिया जैन भी इसी कॉलेज की है. बीते वर्ष तनु ने इसी कॉलेज से इंटर टॉप किया था. एक ही कॉलेज के दो बच्चों द्वारा यूपी बोर्ड की दोनों परीक्षा टॉप करना एक कॉलेज के लिए बड़ी बात है. इंटर में छठे नंबर पर आई छात्रा भी इसी कॉलेज से हैं.

दो साल से लगातार यूपी को टॉपर दे रहा है यह कॉलेज

जो लोग ये सोचते हैं कि अच्छी एसी बिल्डिंग, महंगी फीस और चमक-दमक वाली यूनीफॉर्म पहनने वाले बच्चे ही एग्जाम में टॉप करते हैं तो ये सोचना गलत है. बड़ौत, यूपी के एक छोटे से गांव में चलने वाले एक स्कूल ने इंटर की परीक्षा में यूपी को दो टॉपर दिए हैं.

खास बात ये है कि पिछले वर्ष बागपत ज़िले में टॉप करने वाले छात्र भी गांव के ही कॉलेज से थे. गांव में चलने वाला ये कॉलेज है श्रीराम शिक्षा मंदिर इंटर कॉलेज. कॉलेज तक पहुंचने के लिए मुख्य सड़क से करीब 15 किमी चलना पड़ता है.



कॉलेज के प्रिंसीपल राजेश तोमर बताते हैं क‍ि इंटर और यूपी में यूपी टॉप करने वाले अनुराग और रिया जैन हमारे ही कॉलेज से हैं. हर वर्ष हमारे कॉलेज से लड़के-लड़कियां बागपत ज़िले में टॉप करते हैं. इंटर का टॉपर अनुराग मलिक ने हाईस्कूल में 92 प्रतिशत नम्बर हासिल कर बागपत टॉप किया था. बहुत सारे छात्र 84 प्रतिशत से अधिक नम्बर लाते हैं.

ये भी पढ़ें
दिलचस्प: 99 साल का है यूपी बोर्ड, दुनिया में इसलिए सबसे खास,जानिए 5 बड़ी बातें
CBSE ने बोर्ड परीक्षा को लेकर जारी किया नोटिफिकेशन, जानें क्या है अपडेट


बीते वर्ष इंटर की टॉपर तनु के 97.80 प्रतिशत नम्बर आए थे तो युवराज के 94.60 प्रतिशत नम्बर आए थे. युवराज ने 500 में से 473 नम्बर हासिल किए हैं. वहीं तनु ने 500 में से 489 नम्बर हासिल किए हैं. बच्चों की पढ़ाई अच्छे से हो, रटने के बजाए वो सीखें इसके लिए टीचरों पर बहुत ज्यादा ध्यान देते हैं. हम महीने में एक बार बच्चों का टेस्ट लें या नहीं, लेकिन टीचरों की समीक्षा जरूरत होती है.

दूसरा ये कि हम मौका पड़ने पर कॉलेज में कोई न कोई कार्यक्रम कराते हैं और किसी सफल हस्ती को बुलाते हैं. वो हस्ती बच्चों के सामने पढ़ाई और लक्ष्य से संबंधित अपने अनुभव रखती है. इससे बच्चों को लक्ष्य चुनने और उसे हासिल करने की प्रेरणा मिलती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज