यूपी में फर्जी TET मार्कशीट पर नौकरी कर रहे थे तीन टीचर, नौकरी से किया बर्खास्त

News18Hindi
Updated: August 18, 2019, 5:20 AM IST
यूपी में फर्जी TET मार्कशीट पर नौकरी कर रहे थे तीन टीचर, नौकरी से किया बर्खास्त
बर्खास्तगी की कार्रवाई जारी है

बर्खास्त किए गए तीनों शिक्षकों (Teachers) की सेवा समाप्त कर दी गई है. उनके खिलाफ केस (FIR) दर्ज करने के लिए बीएसए ने एसपी को पत्र भेजा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2019, 5:20 AM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग में हुई 72 और 16 हजार शिक्षकों (Teachers) की भर्ती में लगातार फर्जीवाड़े सामने आ रहे हैं. लगातार शिकायतों के बाद जांच करने पर आरोपों की पुष्टि हो रही है और बर्खास्तगी की कार्रवाई जारी है. हाल ही में निचलौल, सिसवा व बृजमनगंज जिले में तीन शिक्षकों को नौकरी से निकाला गया. नौकरी कर रहे तीन शिक्षकों को खराब रिकॉर्ड के आधार पर बर्खास्त किया गया. इस कार्रवाई से शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है.

जिन तीन शिक्षकों को निकाला उनमें निचलौल के सुनील कुमार, बृजमनगंज के प्रधानाध्यापक अखिलेश तिवारी और सिसवा की सहायक अध्यापिका प्रियंका सिंह शामिल हैं. ये तीनों फर्जी TET मार्कशीट पर नौकरी कर रहे थे. सुनील कुमार निचलौल क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय द्वितीय में सहायक अध्यापक थे. उन्हें फर्जी टीईटी के अलावा Fake academic record के चलते भी निकाला गया.

अखिलेश तिवारी बृजमनगंज के प्राथमिक विद्यालय में बतौर प्रधानाध्यापक काम कर रहे थे. उनका भी टीईटी सर्टिफिकेट 2011 फर्जी निकला. सिसवा के प्राथमिक विद्यालय सबया दक्षिण टोला में प्रियंका सिंह अध्यापिका थी. इनका भी टीईटी 2013 का सर्टिफिकेट जांच में फर्जी निकला.

तीनों शिक्षक बर्खास्त

बर्खास्त किए गए तीनों शिक्षकों की सेवा समाप्त कर दी गई है. उनके खिलाफ केस दर्ज करने के लिए बीएसए ने एसपी को पत्र भेजा है. इन तीनों की बर्खास्तगी से डीएम व अन्य विभागीय उच्चाधिकारियों को भी अवगत करा दिया गया है.

शिक्षकों को बर्खास्त करने वाले बीएसए जगदीश शुक्ल को Fake record के आधार पर भर्ती प्रक्रिया में चुने इन शिक्षकों के खिलाफ शिकायत मिली थी. जांच-पड़ताल के बाद सेवा समाप्त की गई है.

कहां हैं ये तीनों जगह जहां बर्खास्तगी हुई है-
Loading...

निचलौल- उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले का एक कस्बा. नेपाल की सीमा यहां से 13 कि.मी. की दूरी पर है.
सिसवा- नेपाल और बिहार बार्डर पर स्थित महराजगंज जिले का सबसे प्रमुख रेलवे स्टेशन है सिसवा.
बृजमनगंज- पश्चिमी महराजगंज जिले के एक बिंदु पर स्थित, सिद्धार्थनगर जिले की सीमा है.

ये भी पढ़ें-
10वीं-12वीं पास के लिए 2859 सरकारी नौकरी, आज है आखिरी तारीख
Success Story: UPSC में 7 साल में हासिल की सफलता, 5वें अटेम्प्ट में मिली 326वीं रैंक
Latest Update: आज जारी नहीं होगा SBI PO Main Result 2019
बिहार में इंस्पेक्टर, कॉन्स्टेबल पदों पर होगी 29 हजार भर्ती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराजगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2019, 5:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...