होम /न्यूज /करियर /UP PCS 2021: तीन बच्चों की मां हैं दीपा भाटी, PCS परीक्षा पास करके बनीं प्रिंसिपल

UP PCS 2021: तीन बच्चों की मां हैं दीपा भाटी, PCS परीक्षा पास करके बनीं प्रिंसिपल

UP PCS 2021: दीपा भाटी को उम्मीद है कि उनका बिहार लोक सेवा आयोग में भी चयन हो जाएगा

UP PCS 2021: दीपा भाटी को उम्मीद है कि उनका बिहार लोक सेवा आयोग में भी चयन हो जाएगा

UP PCS 2021, Deepa Bhati Rank: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने बुधवार को पीसीएस परीक्षा के परिणाम जारी किए थे. उसके बाद स ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली (UP PCS 2021, Deepa Bhati). मन में कुछ करने का जज्बा हो तो कठिन सफर भी आसान लगने लगता है. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस 2021 परीक्षा का परिणाम (UP PCS 2021 Result) घोषित कर दिया है. सरकारी नौकरी (Sarkari Naukri) की इस परीक्षा में सफल हुए उम्मीदवारों में कई नाम ऐसे हैं, जिन्होंने विषम परिस्थितियों से जूझते हुए अपनी मंज़िल हासिल की है.

यूपी पीसीएस 2021 परीक्षा में नोएडा की दीपा भाटी भी सफल हुई हैं (Deepa Bhati Rank). दीपा भाटी तीन बच्चों की मां हैं और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए उन्होंने सफलता हासिल की है. वह एक स्कूल में पढ़ाती भी हैं. उनके लिए यह सफर आसान नहीं रहा होगा (UPPSC Exam 2021). लेकिन उनकी सफलता ने दूसरों के लिए नया रास्ता खोल दिया है. जानिए दीपा भाटी की सक्सेस स्टोरी.

रिजल्ट देख घर में छाईं खुशियां
दीपा भाटी नोएडा के कोंडली बांगर गांव की रहने वाली हैं (Delhi NCR News). फिलहाल वह अपने परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा की एल्डिको ग्रीन मीडोज (Eldeco Green Meadows) सोसाइटी में रहती हैं. उन्होंने यूपी पीसीएस 2021 परीक्षा में 166वीं रैंक हासिल की है (Deepa Bhati Rank). रिजल्ट आने के बाद से उनके घर में खुशियों का माहौल है.

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

तीसरे प्रयास में हुईं सफल
दीपा भाटी अपने पहले प्रयास में कुछ नंबरों से चूक गई थीं. उस असफलता से वह घबराई नहीं और डबल मेहनत के साथ तैयारियों में जुट गईं. आखिरकार तीसरे प्रयास में उनकी मेहनत रंग लाई और वह सफल हो गईं. उन्होंने नोएडा के प्राइवेट स्कूलों में 7-8 साल पढ़ाया है. उसके साथ ही घर की जिम्मेदारियां भी निभाती थीं. राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्राचार्य के पद के लिए उनका चयन हुआ है.

परिवार के साथ से बनी बात
दीपा भाटी तीन बच्चों की मां हैं. उनकी सबसे बड़ी बेटी 12वीं में, छोटी बेटी नौवीं में और बेटा यूकेजी में पढ़ता है. उन्होंने बच्चों की जिम्मेदारी निभाने के साथ ही पढ़ाई को भी पूरी प्राथमिकता दी. इस पूरे सफर में उन्हें अपनी मां का काफी सहयोग मिला. मां जब बच्चों को देखती थीं, तभी वह बाहर के काम कर पाती थीं और पढ़ाई पर भी ध्यान दे पाती थीं.

ये भी पढ़ें:
1 नंबर से छूटी IFS की नौकरी, PCS परीक्षा में किया टॉप, जानें अतुल सिंह की सक्सेस स्टोरी
पीसीएस परीक्षा पास करने के बाद इन पदों पर मिलेगी नौकरी, आप भी जानें सब कुछ

Tags: PCS-J, Success Story, UPPSC, नोएडा, सरकारी नौकरी

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें