IAS Interview में दहेज पर पूछा ये सवाल, दिया ऐसा ट्रिकी जवाब

अगर आप IAS परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो हाल ही में IAS चुने गए सुमित से यह सीखना चाहिए कि प्रश्‍नों के उत्‍तर कैसे देने हैं.

News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 7:55 PM IST
IAS Interview में दहेज पर पूछा ये सवाल, दिया ऐसा ट्रिकी जवाब
सुमित ने 2017 में भी यूपीएससी परीक्षा में 493वीं रैंक हासिल की थी.
News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 7:55 PM IST
UPSC IAS Interview:  IAS बनने की राह आसान नहीं है. इसकी तैयारी एक मैराथन की तरह होती है, जिसमें आप एक पड़ाव पार करने के बाद दूसरे की तैयारी में जुट जाते हैं. जाहिर तौर पर इस कठ‍िनतम परीक्षा को क्‍वालिफाई करने वाले लोगों ने उतनी ही मेहनत की होगी. सुमित कुमार ने यूपीएससी 2018 की परीक्षा में ऑल ओवर इंडिया में 53वींं रैंक हासिल की. बिहार के जमुई जिले के सुमित का इंटरव्यू लगभग 25 मिनट चला. इस दौरान उनसे अलग-अलग टॉप‍िक्‍स पर सवाल पूछे गए. जानिए इंटरव्यू में उनसे कौन से से सवाल पूछे गए और उनका जवाब सुम‍ित ने क्‍या द‍िया.

दहेज पर पूछा सवाल:
इंटरव्यू के पूछे गए तमाम सवालों में से एक था- 'आप दहेज की समस्या से कैसे निपटेंगे.' इसके जवाब में उन्होंने कहा ये समस्या सामाजिक है. बच्चों को बचपन से ही सिखाना चाहिए कि पुरुष और महिलाएं, सब बराबर हैं. दोनों के समान अधिकार हैं.

ह‍िन्‍दू उत्‍तराध‍िकार पर प्रश्‍न:

उनसे हिन्दू उत्तराधिकार अधिनियनियम से जुड़ा सवाल पूछा गया, क्या महिलाओं को इस एक्ट के तहत विरासत में मिली संपत्ति पर महिलाओं का अधिकार है? जवाब दिया- महिलाओं को इस एक्ट के तहत विरासत में मिली संपत्ति का अधिकार है.

वर्क प्रोफाइल:
अब IAS बन चुके सुमित से वर्क प्रोफाइल के बारे में भी सवाल किया गया. जिसके जवाब में उन्होंने बताया कि डिफेंस एस्टेट सर्विसेस में किस तरह काम किया जाता है.
Loading...

TED Talks कैसे करता है प्रभाव‍ित:
सुमित को TED Talks वीडियो देखने का शौक है. इस पर उनसे पूछा गया TED Talks की वीडियो कैसे लोगों के जीवन को प्रभावित करती हैं.



ज‍िस वीड‍ियो ने बदली सोच:
उसने एक ऐसे भारतीय का नाम पूछा गया जिनके वीडियो ने प्रभाव छोड़ा हो. जवाब में सुमित ने अरुणाचलम मुरुगनाथम का उदाहरण दिया. अरुणाचलम ने किफायती सैनेटरी पैड्स बनाकर लाखों-करोड़ों महिलाओं की जिंदगी बदल दी. अक्षय कुमार की फिल्म पैडमैन उन्हीं की जिंदगी पर आधारित है. उन्होंने कर्नाटक की आईपीएस डी. रूपा मॉडगिल का उदाहरण भी दिया. रूपा मॉडगिल ने एक पुरुष प्रधान पुलिस के माहौल में बेहतर काम कर अपना प्रभाव छोड़ा.

बता दें कि सुमित ने 2017 में भी यूपीएससी परीक्षा में 493वीं रैंक हासिल की. तब 275 में से 140 अंक हासिल किए थे. उन्हें डिफेंस एस्टेट सर्विस कैडर मिला था. पर सुमित को IAS ही बनना था. फिर 2018 में उन्होंने 179 नंबर पाए, बेहतर मार्क्स की वजह से वे 53वीं रैंक हासिल कर पाए.

इससे पहले सुमित ने आईआईटी कानपुर से इंजीनियरिंग की. जिसके बाद प्रतिष्ठित कंपनी पीडब्ल्यूसी (प्राइसवॉटरहाउस कूपर्स) में दो साल काम किया. इसके बाद जॉब जॉब छोड़कर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की. उन्होंने 2016 में यूपीएससी की ओर से कराया जाने वाले सीएपीएफ एग्जाम में 50वीं रैंक हासिल की. असिस्टेंट कमांडेंट के ज्वॉइनिंग लेटर से पहले यूपीएससी में 493वीं रैंक का रिजल्ट आ गया.

ये भी पढ़ें-
NOIDA Metro Rail में 199 वैकेंसी, सैलरी 25 से 35 हजार तक, पढ़ें पूरी डिटेल
SAIL recruitment 2019: स्टील ऑथोरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड में निकली 205 वैकेंसी
सरकारी नौकरी: Assistant Lineman के लिए 3500 वैकेंसी, pspcl.in पर करें अप्लाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 3:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...