UPSC Prelims 2018: यूपीएसई प्री एग्जाम पेपर Analysis, जानें क्या होगा Cut-off

UPSC Prelims 2018: इन मामलों में पिछले साल के पेपर से अलग रहा इस साल का क्वेश्चन पेपर, जानें क्या होगा इस साल का कट ऑफ

News18Hindi
Updated: June 4, 2018, 1:43 PM IST
UPSC Prelims 2018: यूपीएसई प्री एग्जाम पेपर Analysis, जानें क्या होगा Cut-off
UPSC Prelims 2018
News18Hindi
Updated: June 4, 2018, 1:43 PM IST
यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) ने 3 जून को सिविल सर्विसेज प्री एग्जाम या UPSC Prelims 2018 का आयोजन करवाया. करीब 3 लाख कैंडिडेट इस परीक्षा में शामिल हुए. सूत्रों के मुताबिक परीक्षा में शामिल कई कैंडिडेट्स ने बताया कि काफी हैरानी वाली बात है इस साल का पेपर अलग था. कई स्टूडेंट्स का कहना था कि पेपर थोड़ा कठिन था. रिपोर्ट्स के मुताबिक स्टूडेंट्स को कुछ जगहों पर पेपर कठिन लगा.

इन सवालों में हुए कठिनाई
पेपर का पैटर्न तो पिछले साल जैसा ही था लेकिन कई सालों से जिन टॉपिक्स पर सवाल नहीं पूछे जाते थे उन्हें इस साल पेपर में शामिल किया गया. जैसे लोकसभा, नेशनल सैंपल सर्वे ऑर्गनाइजेशन से इस साल सवाल पूछे गए थे. परीक्षा में शामिल एक छात्र के मुताबिक पहले पेपर में पिछले साल की अपेक्षा सरकारी स्कीम्स से काफी कम सवाल पूछे गए थे. इसके अलावा करेंट अफेयर्स से पूछे गए सवाल भी हालिया नहीं थे.

भोपाल के एक स्टूडेंट ने बताया कि इस साल का सी-सेट पेपर भी अलग था. इंग्लिश सेक्शन तो ठीक था मगर मैथ्स सेक्शन थोड़ कठिन था. पिछले साल एप्टीट्यूट टेस्ट को क्लीयर करना ज्यादा आसान था.

Delhi University, DU, DU Cut Off list, higher education, डीयू, दिल्ली विश्वविद्यालय



क्या हो सकता है Cut-off
इस साल UPSC Prelims exam 2018 की पेपर की कठिनाई देखते हुए ये कहा जा सकता है कि कट ऑफ जरूर कम होगा. जानकारी के लिए आपको बता दें कि यूपीएसई या सिविल सर्सिसेज एग्जाम 3 स्तरों पर होते हैं. इन्हें प्रिलिमिनेरी, मेन्स और इंटरव्यू स्टेज में बांटा जा सकता है. पिछले साल सामान्य वर्ग का कट-ऑफ 105.3 था.
Loading...

यहां क्लिक करके देखें क्वेश्चन पेपर

इस दिन होगा UPSC Mains Exam 2018
जो स्टूडेंट प्री में सफल होंगे उन्हें मेन्स के एग्जाम के लिए बुलाया जाएगा. ये परीक्षा 28 अक्टूबर को होगी. इस साल स्टूडेंट्स को पेपर 2 क्लीयर करने के लिए 66 नंबर लाने जरूरी हैं. इसके बाद पेपर 1 में मिले नंबरों के आधार पर मेन्स के लिए उम्मीदवारों का चुनाव किया जाएगा. मेन्स एग्जाम में शामिल होने के लिए उम्मीदवार को फिर से अप्लाई करना होगा.

ये भी पढ़ें-
इस कंपनी में पाना चाहते हैं नौकरी तो बायोडेटा की जगह, भेजें 'लव लेटर'
सैलरी के मामले में भारत की ये सिटी है बेस्ट, यहां लाखों कमाते हैं लोग
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...