• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • UPSC Preparation Tips: IAS की कोचिंग से पहले इन बातों पर दें ध्यान

UPSC Preparation Tips: IAS की कोचिंग से पहले इन बातों पर दें ध्यान

UPSC Tips: यूपीएससी की तैयारी के दौरान अपनाएं ये तरीके

UPSC Preparation Tips: सिविल सर्विसेज (Civil Services) की तैयारी करने वाले स्टूडेन्ट्स के लिए कोचिंग इंस्टीट्यूट (Coaching Institute) चुनने से पहले कुछ बातों पर खास ध्यान देने की जरूरत है. एक सही इंस्टीट्यूट का चुनाव आपमें सिविल सर्विसेज में चयन (Selection) की राह को आसान बना देता है.

  • Share this:
    UPSC Preparation Tips: एक सही मार्गदर्शक (Guide) मिलने से किसी भी स्टूडेंट (Students) के लिए सफलता (Success) पाना काफी आसान हो जाता है. ऐसे में सिविल सर्विसेज (Civil Services) की तैयारी करने वाले स्टूडेन्ट्स के लिए कोचिंग इंस्टीट्यूट (Coaching Institute) चुनने से पहले कुछ बातों पर खास ध्यान देने की जरूरत है. एक सही इंस्टीट्यूट का चुनाव आपमें सिविल सर्विसेज में चयन की राह को आसान बना देता है. आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं वेदांता आईएएस एकेडमी (Vedanta IAS Academy) की प्रमुख अर्चना यादव कपूर (Archana Yadav Kapoor) से.

    1. अच्छा कोचिंग कई बातों पर देता है ध्यान:
    एक अच्छा आईएएस कोचिंग संस्थान कई बातों को ध्यान में रखता है. इनमें कोचिंग के पैटर्न (Pattern), सिलेबस (Syllabus) बुक्स, सटीक तकनीक, और सही मार्गदर्शन जैसी बातें काफी महत्वपूर्ण हैं. इसलिए कोचिंग इंस्टीट्यूट का चयन करने से पहले इन बातों को सही ढंग से खंगालना (Analysis) जरूरी है.

    2. सिलेबस सबसे महत्वपूर्ण:
    अर्चना के मुताबिक आज हर शहर हर राज्य में कोचिंग इंस्टीट्यूट खुल रहे हैं. सभी अपने एडवरटाइजिंग और चकाचौंध के जरिए स्टूडेंट्स को अपनी तरफ खींचने में लगे हुए हैं. ऐसे में स्टूडेंट्स के लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि कौन सा इंस्टीट्यूट सबसे अच्छा स्टडी मैटेरियल (Study Material) और सटीक सिलेबस उपलब्ध कराएगा. इस जानकारी के लिए स्टूडेन्ट्स इंटरनेट (Internet) की मदद भी ले सकते हैं.

    3. जो नया दे, वो ही बेहतर:
    अर्चना बताती हैं कि बहुत से इंस्टीट्यूट आज भी पुराने और घिसे-पीटे तरीकों और सिलेबस के आधार पर सिविल सर्विसेज की तैयारी करा रहे हैं. जाहिर सी बात है कि उनका रिजल्ट भी घिसा-पिटा ही होगा. ऐसे में स्टूडेन्ट्स के लिए ऐसे इंस्टीट्यूट का चयन करना जरूरी है जो नए ढंग और मौजूदा दौर की जरूरत के सिलेबस के तहत कोचिंग कराता हो. इससे स्टूडेंट्स की सफलता की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं.

    4. विशेषज्ञों की पड़ताल कर लें:
    अर्चना यादव कपूर कहती हैं कि किसी भी कोचिंग इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेने से पहले उसके एक्सपर्ट्स की पड़ताल जरूर करनी चाहिए कि उसका पास्ट कोचिंग ट्रैक रिकॉर्ड क्या रहा है. उसके अंतर्गत कितने स्टूडेन्ट्स सिविल सर्विसेज में सफल हुए हैं. इसके बाद ही स्टूडेंट को कोचिंग इंस्टीट्यूट का चयन करना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज