UPSC CSE 2019: Main Exam में बैठने जा रहे उम्‍मीदवारों के लिये UPSC ने जारी किए जरूरी निर्देश

अगर आप UPSC परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो आप इन बातों का ध्‍यान जरूर रखें. क्‍योंकि पूरी कोशिश करने के बावजूद कुछ परीक्षार्थ‍ियों को परीक्षा से बाहर होना पड़ता है.

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 12:40 PM IST
UPSC CSE 2019: Main Exam में बैठने जा रहे उम्‍मीदवारों के लिये UPSC ने जारी किए जरूरी निर्देश
upsc
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 12:40 PM IST
UPSC CSE 2019: सिविल सेवा परीक्षा (CSE) का दूसरा चरण 20 सितंबर 2019 से शुरू होगा. इसके जरिये यूपीएससी, भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS) और भारतीय राजस्व सेवाओं (IRS)के साथ ही विभिन्न अन्य केंद्रीय सेवाओं जैसे कि भारतीय रेलवे सेवा के लिए उम्मीदवारों का चयन करता है. यह भी पढ़ें: IAS Interview में दहेज पर पूछा ये सवाल, दिया ऐसा ट्रिकी जवाब

दूसरे चरण की परीक्षा में भाग लेने जा उम्‍मीदवारों के लिये संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने जरूरी निर्देश जारी किया है. इस निर्देश में यह दिया गया है कि परीक्षा में उम्‍मीदवार क्‍या करें और क्‍या नहीं. UPSC ने इसके लिये 21 पन्‍नों का PDF अपनी आधिकारिक वेसबाइट पर जारी किया गया है. इसमें यह बताया गया है कि उम्‍मीदवार किस तरह ' IAS Mains Exam' में कुछ सामान्‍य सी गलतियों और चूक से बच सकते हैं.

उम्‍मीदवार परीक्षा में इन गलतियों से बचें:



l. यूपीएससी परीक्षा में भाग लेने वाले परीक्षार्थी अक्‍सर ये गलती करते हैं कि अपने क्‍वेश्‍चन कम आंसर बुकलेट (QCAB) पर कोई शुभ अंक या मंत्र लिख देते हैं. जैसे कि कुछ उम्‍मीदवार क्रॉस का चिन्‍ह बना देते हैं या 786 संख्‍या लिख देते हैं. कुछ लोग हरे राम, हरे कृष्‍ण लिखते हैं तो कुछ ओम लिखते हैं. निर्देश में यह स्‍पष्‍ट तौर से लिखा गया है कि QCAB पर जो भी लिखें, वह उत्‍तर से ही संबंधित हो.



2. उम्‍मीदवारों को यह भी निर्देश दिया जाता है कि QCAB में ऐसा कुछ ना लिखें, जिससे उनकी पहचान का खुलासा हो. इसमें उनका नाम, रोल नंबर और हस्‍ताक्षर शामिल है. दरअसल, परीक्षार्थी की आंसर शीट की पहचान सीरियल नंबर और रोल नंबर से की जाती है, जो एक अलग पेज पर दी गई होती है. कुछ उम्‍मीदवार, पत्र-लेख में अपना नाम लिख देते हैं.
Loading...





3. परीक्षार्थी को यह सलाह दी जाती है कि वह अलग-अलग भाषाओं में उत्‍तर ना दें. उत्‍तर देने के लिये किसी एक भाषा का ही इस्‍तेमाल करें.



4. अगर आप कुछ उत्‍तर कलम से और कुछ पेंसिल से लिखकर देते हैं तो यह भी स्‍वीकार्य नहीं है.



5. उम्‍मीदवार को यह भी निर्देश है कि वह सीधे तौर पर या अप्रत्‍यक्ष रूप से कॉपी जांचने वाले को अपील नहीं कर सकता. कुछ उम्‍मीदवार अपनी QCAB कॉपी में यह लिख देते हैं कि सर यह मेरा पहला अटेम्‍प है. प्‍लीज मुझे पास कर दीजिएगा.



6. उम्‍मीदवार जो भी लिखें, वह स्‍पष्‍ट होना चाहिए. यानी उनकी राइटिंग अच्‍छी होनी चाहिए.



7. उम्‍मीदवारों को प्रश्‍नों के उत्‍तर उनके क्रम के अनुसार ही देने होंगे. किसी दूसरे प्रश्‍न का उत्‍तर किसी दूसरे प्रश्‍न में नहीं लिख सकते. इसे भी स्‍वीकार नहीं किया जाएगा.



8. परीक्षार्थ‍ियों को यह सलाह दी जाती है कि वह कॉपी पर कोई भी गैर जरूरी स्‍केच, फोटो या ग्राफ ना बनाएं.

ये है सही तरीका: 

फॉर्म ऐसे भरें.





ल‍िखे गए उत्‍तर को यदि कैंसल करना है तो यह है सही तरीका: 



अगर आप UPSC परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो आप इन बातों का ध्‍यान जरूर रखें. क्‍योंकि पूरी कोशिश करने के बावजूद कुछ परीक्षार्थ‍ियों को पेनाल्‍टी देनी पड़ती है. वहीं कुछ उम्‍मीदवारों को उनकी छोटी सी गलती के कारण परीक्षा से बाहर होना पड़ता है.

आप यूपीएससी का पूरा निर्देश डाउनलोड करने के लिये यहां क्‍ल‍िक करें.

यह भी पढ़ें:

PCS-J-2018: यूपी की टॉपर आकांक्षा तिवारी ने बताया सफलता का मंत्र

NOIDA Metro Rail में 199 वैकेंसी, सैलरी 25 से 35 हजार तक, पढ़ें पूरी डिटेल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 12:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...