UPSEE counselling 2020: 19 अक्टूबर से शुरू होगी काउंसिलिंग, जानें शिड्यूल और रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस

यूपीएसईई की काउंसिलिंग 19 अक्टूबर से शुरू होगी.
यूपीएसईई की काउंसिलिंग 19 अक्टूबर से शुरू होगी.

UPSEE counselling 2020: यूपीएसईई काउंसिलिंग की प्रक्रिया 19 अक्टूबर से शुरू होगी. अगर सीटें रिक्त रह जाती हैं तो काउसिलिंग की प्रक्रिया कुल 6 चरणों में संपन्न की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2020, 10:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. डॉ. अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी, एकेटीयू (Dr. A.P.J. Abdul Kalam Technical University, AKTU) ने यूपीएसईई काउंसिलिंग की तारीख घोषित कर दी है. सभी कोर्सेज के लिए पहले राउंड की रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 19 अक्टूबर से शुरू होगी और 22 अक्टूबर तक खत्म हो जाएगी. इसके लिए स्लाइडिंग राउंड सहित 6 राउंड की काउंसिलिंग की प्रक्रिया पूरी की जाएगी. जिन कैंडीडेट्स ने परीक्षा पास की है उनकी काउंसिलिंग ऑनलाइन मोड में का जाएगी. कैंडीडेट्स आधिकारिक वेबसाइट - upsee.nic.in - पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

रजिस्ट्रेशन के बाद कैंडीडेट्स को अपने डॉक्युमेंट्स का वेरिफिकेशन भी करवाना होगा और अपनी प्राथमिकता वाले कॉलेजों का सेलेक्शन करना होगा. यूपीएसईई का रिजल्ट जारी हो चुका है. इस बार यूपीएसईई में बीटेक में मुरादाबाद के संयम सक्सेना ने प्रदेश में टॉप किया है. वाराणसी के आकाश सिंह दूसरे स्थान पर और प्रयागराज के अजय कुमार ठाकुर तीसरे स्थान पर रहे हैं. बीफार्म पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षा में मुजफ्फरनगर की रिद्धि सिंघल प्रथम स्थान पर मुजफ्फरनगर के ही विशेष धनराज राठी दूसरे स्थान जबकि गोरखपुर की ऐश्वर्या गणेश तृतीय स्थान पर रहीं. बी.आर्क पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षा में दिल्ली की आयुषी पटवारी प्रथम स्थान परबरेली की जैशानी उपाध्याय दूसरे पर जबकि मेरठ की पाविनी अरोड़ा तृतीय स्थान पर रहीं.

एकेटीयू से संबद्ध कॉलेज आर्थिक रूप से पिछड़े छात्रों के लिए पांच पर्सेंट का कोटा भी ऑफर कर रहे हैं. सीटें मेरिट के आधार पर उपलब्ध कराई जाएंगी और इसके लिए ट्यूशन फीस भी चार्ज की जाएगी.



UPSEE Counselling 2020: काउंसलिंग के लिए ऐसे करें आवेदन
- सबसे पहले आवेदन कर के डॉक्यूमेंट्स अपलोड करें और फीस का भुगतान करें

- डॉक्यूमेंट्स वेरिफाई होने के बाद उम्मीदवारों को एक ओटीपी दिया जाएगा. बता दें कि पसंद भरने के लिए लॉग इन करने के लिए OTP का उपयोग करना पड़ता है.

- कॉलेज और कोर्स चुनें. लॉग इन करने के बाद उम्मीदवारों को अपनी पसंद का कोर्स और कॉलेज चुनना होगा.

- इसके बाद उम्मीदवारों को सीट अलॉट की जाएगी.

- उम्मीदवारों को अलॉट की गई सीट को कंफर्म करना होगा.

फ्रीज: यदि उम्मीदवार सीट को कंफर्म करना चाहते हैं.
फ्लोट: यदि उम्मीदवार अगले काउंसलिंग राउंड में सीट को अपग्रेड करना चाहता है.
वापसी: यदि उम्मीदवार आगे के काउंसलिंग राउंड में भाग नहीं लेना चाहते हैं.

- अंत में उम्मीदवारों को अपने एडमिशन को कंफर्म करने के लिए कॉलेज में रिपोर्ट करना होगा. रिपोर्ट करने की तारीख के बारे में उम्मीदवारों को जानकारी दे दी जाएगी.

काउंसिलिंग से संबंधित पूरा नोटिफिकेशन यहां पढ़ें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज