लाइव टीवी

UPPSC पेपर: कॉपी में रखे थे 500-2000 रुपये के नोट, आयोग ने किया ब्लैक-लिस्ट

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 6:42 AM IST
UPPSC पेपर: कॉपी में रखे थे 500-2000 रुपये के नोट, आयोग ने किया ब्लैक-लिस्ट
आयोग ने इन कैंडीडेट्स को 15 नवंबर 2019 से आयोग की सभी परीक्षाओं से 1 साल के लिए ब्लैक-लिस्ट किया है.

कार्रवाई में चारों प्रतियोगी छात्रों का किसी भी परीक्षा में एक साल तक शामिल होने का रास्ता बंद कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 6:42 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (Uttar Pradesh Public Service Commission- UPPSC) ने सम्मिलित अवर अभियंता परीक्षा (Combined Engineer Exam 2013) के लिए अप्लाई करने वाले चार कैंडिडेट्स की एप्लीकेशन रिजेक्ट कर दी गई है. इन चार कैंडिडेट्स को आयोग ने एक साल के लिए ब्लैक-लिस्ट भी कर दिया है. आरोप है कि इन कैंडिडेट्स ने आंसर शीट्स में 500 से 2000 रुपये तक के नोट रखे थे.

यूपीपीएससी ने इन कैंडिडेट्स की जानकारी 'संघ लोक सेवा आयोग' और 'कर्मचारी चयन आयोग' समेत सभी चयन बोर्ड को देकर यूपी के किसी भी बोर्ड में भर्ती का रास्ता बंद कर दिया है. जिन चार कैंडिडेट्स को ब्लैक लिस्ट किया गया है उनमें महोबा के संजय कुमार पाठक, आगरा के हरिशंकर बघेल, अयोध्या के अंशु कुमार पांडेय और गाजीपुर के कमलेश सिंह यादव हैं. आयोग ने इन्हें 15 नवंबर 2019 से आयोग की सभी परीक्षाओं से 1 साल के लिए ब्लैक-लिस्ट किया है.

आयोग ने करीब डेढ़ साल बाद ऐसा सख्त कदम उठाया है. कार्रवाई में चारों प्रतियोगी छात्रों का किसी भी परीक्षा में एक साल तक शामिल होने का रास्ता बंद कर दिया है. आयोग की इस कार्रवाई से छात्रों का प्रतियोगी करियर समाप्त हो सकता है. अन्य आयोगों को ऐसी सूचना इसलिए दी जाती है ताकि ब्लैक लिस्ट छात्र दूसरे आयोगों की परीक्षाओं में भी शामिल न हो सके और कड़ा संदेश जाए.

ये भी पढ़ें-

RRB Recruitment Group D 2019: 103769 वैकेंसी के लिए एप्लीकेशन स्टेटस जारी
सैनिक स्कूल सोसाइटी: गर्ल्स स्टूडेंट्स के लिए खुली एप्लीकेशन विंडो, देखें लिंक
HPCL Recruitment Alert 2019: टेक्निशियन पदों के लिए 72 वैकेंसी, सैलरी 40000

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 6:42 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर