Study From Home: केरल के स्कूलों में कल से शुरू होंगी वर्चुअल कक्षाएं, स्टूडेंट घर बैठे करेंगे पढ़ाई

Study From Home: केरल के स्कूलों में कल से शुरू होंगी वर्चुअल कक्षाएं, स्टूडेंट घर बैठे करेंगे पढ़ाई
छात्रों की पढ़ाई ऑनलाइन करवाएंगे शिक्षक

कोरोना (corona)काल में लॉकडाउन (Lockdown) के कारण स्कूली छात्रों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसके लिए केरल सरकार (kerala Government) ने 1 जून से वर्चुअल क्लास (virtual classes) शुरू करने का फैसला लिया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. केरल सरकार (Government of Kerala) एक जून यानी की कल से स्कूली छात्रों के लिए वर्चुअल कक्षाएं (Virtual classes) शुरू करने जा रही है. सरकार ने लॉकडाउन (Lockdown) के चलते स्कूली छात्रों की पढ़ाई में कोई नुकसान न हो इसके चलते यह फैसला लिया है. डायरेक्टर ऑफ पब्लिक इंस्ट्रक्शन (DPI) के जीवन बाबू ने मीडिया को बताया कि क्लास 'फर्स्ट बेल' नाम से केरला इंफ्रास्ट्रक्चर एंड टेक्नोलॉजी फॉर एजुकेशन (KITE) -विक्टर्स चैनल के माध्यम से यह क्लास होगी.

उन्होंने कहा कि COVID-19 की स्थिति बहुत खतरनाक है, ऐसे में बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए सरकार ने यह प्रावधान किया है. स्कूल खोलने में इसके प्रसार बढ़ने की आशंका है. इसके चलते हम बच्चों की पढ़ाई के लिए वर्चुअल क्लास शुरू कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि कक्षाएं KITE विक्टर्स चैनल के माध्यम से होंगी. बाबू ने मीडियाकर्मियों को बताया कि KITE ने कक्षाओं के संचालन के लिए समय सारिणी भी बनाई है. इस चैनल पर कक्षा 11 के अलावा सभी कक्षाओं के लिए सत्र सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 8.30 से शाम 5.30 बजे तक आयोजित किए जाएंगे.

बाबू ने कहा कि हम नियमित रूप से स्कूल नहीं खोल सकते हैं. हम देश के दुनिया के साथ ही देश में स्वास्थ्य की स्थिति को देखते हुए स्कूलों को खोलने में असमर्थ हैं. हमारे छात्रों ने इन परिस्थितियों में भी दसवीं और बारहवीं की परीक्षाए दी हैं. उन्होंने कहा कि शिक्षण और अध्ययन की नई पद्धति छात्रों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए भी एक चुनौती होगी.



विभाग को इनकी चिंता थी



उन्होंने कहा कि विभाग उन छात्रों के एक वर्ग के बारे में चिंतित था, जिनके पास ऑनलाइन कक्षाओं के लिए सुविधाओं की कमी थी और उन्होंने उस श्रेणी के दो लाख से अधिक छात्रों की पहचान की थी. बाबू ने कहा कि हमने शिक्षकों को सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि ऑनलाइन कक्षाओं के लिए सभी छात्रों के पास टेलीविजन या स्मार्ट फोन या कंप्यूटर और इंटरनेट होना चाहिए. यदि नहीं, तो उनके लिए ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेने का विकल्प खोजना चाहिए.

ये भी पढ़ें- UGC-NET और JNUEE सहित अन्य कई परीक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन की तारीख बढ़ी
First published: May 31, 2020, 10:31 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading