लाइव टीवी

World Cancer Day 2020: आखिर 4 फरवरी को ही क्यों मनाया जाता है विश्व कैंसर दिवस, दुनिया इस बीमारी से क्यों है परेशान

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 2:47 PM IST
World Cancer Day 2020: आखिर 4 फरवरी को ही क्यों मनाया जाता है विश्व कैंसर दिवस, दुनिया इस बीमारी से क्यों है परेशान
दुनिया की सभी जानलेवा बीमारियों में कैंसर सबसे ख़तरनाक है.

World Cancer Day 2020: दुनिया की सभी जानलेवा बीमारियों में कैंसर सबसे ख़तरनाक है क्योंकि कई बार इसके लक्षणों का पता ही नहीं चलता. जब इस बीमारी का खुलासा होता है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है.यह पूरे शरीर में फैल चुका होता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 2:47 PM IST
  • Share this:
World Cancer Day 2020: आज दुनिया भर में कैंसर दिवस (World Cancer Day) मनाया जा रहा है. कैसर दुनिया की सभी जानलेवा बीमारियों में सबसे ख़तरनाक है क्योंकि कई बार इसके लक्षणों का पता ही नहीं चलता. जब इस बीमारी का खुलासा होता है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है. यह पूरे शरीर में फैल चुका होता है. आज यानी 4 फरवरी को दुनिया भर के देशों के प्रतिनिधि एकत्र होते हैं और कैंसर (Cancer) से लड़ने की योजना बनाते हैं. लोगों को कैंसर के प्रति जागरूक करने की योजना पर चर्चा होती है.

आकंड़ों की मानें तो साल 2018 में कैंसर की बीमारी की वजह से दुनियाभर में 96 लाख से ज़्यादा मौतें हुई हैं. औरतों में आम तौर पर ब्रेस्ट कैंसर के मामले ज्यादा सामने आते हैं. इसके अलावा ब्लड कैंसर, लिवर कैंसर और ओरल कैंसर भी कम खतरनाक नहीं हैं. आज विश्व कैंसर दिवस पर हम आपको इससे जुड़े कुछ तत्थ्यों के बारे में बता रहे हैं...

विश्व कैंसर दिवस की स्थापना अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ (यूआईसीसी) द्वारा की गई थी. यह एक अग्रणीय वैश्विक एनजीओ है. इसका लक्ष्य विश्व कैंसर घोषणा, 2008 के लक्ष्यों की प्राप्ति करना है. इसका प्राथमिक लक्ष्य 2020 तक कैंसर से होने वाली मौतों को कम करना है. अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ (यूआईसीसी) की स्थापना साल 1933 में हुई थी.

World Cancer Day 2020, World Cancer Day, February 4, world Illness, #IAmAndIWill, WCD2020, WHO, unesco, फरवरी, विश्व कैंसर दिवस, दुनिया, यूनेस्को भारत, विश्व स्वास्थ्य संगठन, कैंसर, जानलेवा बीमारी, कोरोना, कोरोना वायरस, Coronavirus, World Health Organization, Symptoms of Novel Coronavirus
आज यानी 4 फरवरी को दुनिया भर के देशों के प्रतिनिधि आज एकत्र होते हैं और कैंसर(Cancer) से लड़ने की योजना बनाते हैं.


विश्व कैंसर दिवस क्यों मनाया जाता है
कैंसर की पहचान या रोकथाम के उपाय और ख़तरों के बारे में आम लोगों को जागरूक करने के लिए विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है. लोगों को लगता है कि यह बीमारी छूने से फैलती है इसलिए कैंसर से पीड़ित व्यक्ति को समाज में घृणा और अछूत के रूप में देखा जाता है.

आम लोगों में कैंसर से संबंधित विभिन्न प्रकार के सामाजिक मिथक हैं जैसे कि कैंसर पीड़ित के साथ रहने या स्पर्श से उन्हें भी ये घातक बीमारी हो सकती है. इस तरह के मिथक को ख़त्म करने के लिए भी यह दिवस मनाया जाता है. साथ ही इसके होने के कारण, लक्षण और उपचार जैसी सभी वास्तविकता के बारे में सामान्य जागरुकता बनाने के लिए इसे मनाया जाता है.हर 8 मौतों में से 1 कैंसर की वजह से
विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो दुनिया में हर साल होने वाली छह मौतों में एक की वजह कैंसर है. ब्रेस्ट, सर्वाइकल, प्रोस्टेट, मुंह और बड़ी आंत के कैंसर के मामले सबसे ज्यादा सामने आते हैं. इंडियन कैंसर सोसाइटी के अनुसार, भारत में अगले 10 सालों में करीब डेढ़ करोड़ लोगों को कैंसर होने की आशंका है. कहा जा रहा है कि इसमें 50 फीसदी कैंसर लाइलाज होगा.

World Cancer Day 2020, World Cancer Day, February 4, world Illness, #IAmAndIWill, WCD2020, WHO, unesco, फरवरी, विश्व कैंसर दिवस, दुनिया, यूनेस्को भारत, विश्व स्वास्थ्य संगठन, कैंसर, जानलेवा बीमारी, कोरोना, कोरोना वायरस, Coronavirus, World Health Organization, Symptoms of Novel Coronavirus

आकंड़ों की मानें तो साल 2018 में कैंसर की बीमारी की वजह से दुनियाभर में 96 लाख से ज़्यादा मौतें हुई हैं.पहली बार कब मनाया गया कैंसर दिवस
पहली बार विश्व कैंसर दिवस साल 1933 में मनाया गया था. अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण संघ ने जिनेवा में पहली बार कैंसर दिवस मनाया था. 4 फरवरी, 2000 को विश्व कैंसर सम्मेलन का आयोजन किया गया था. इसमें यह निर्णय लिया गया कि हर साल 4 फरवरी को कैंसर के प्रति जागरूकता के प्रसार लिए इस दिवस को मनाया जाएगा. यह सम्मेलन पेरिस में हुआ था. एक रिपोर्ट के मुताबिक, उस समय लगभग एक करोड़, बीस लाख से ज्यादा लोग कैंसर से पीड़ित थे और हर साल करीब 7 लाख लोग कैंसर के कारण मौत के शिकार हो रहे थे.

कैसे मनाते हैं विश्व कैंसर दिवस
विश्व कैंसर दिवस यानी 4 फरवरी को इस घातक बीमारी की रोकथाम के लिए सरकारी और गैर-सरकारी संगठन दुनिया भर के देशों में कैंप लगाते हैं, व्याख्यानों और सेमिनारों का आयोजन करते हैं. इन आयोजनों में आम जनता को भी शामिल किया जाता है, ताकि उन्हें इस बीमारी के प्रति जागरूक किया जा सके. उन्हें अलग-अलग कैंसर के लक्षणों के बारे में भी बताया जाता है, ताकि शुरुआती लक्षणों को देखते ही इसका इलाज करवा कर कैंसर को दूर किया जा सके.

भारत में भी सरकारी और गैर-सरकारी संगठनों द्वारा कैंसर को लेकर कई तरह के आयोजन किए जाते हैं. भारत में कैंसर के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए नवंबर महीने की 7 तारीख को राष्ट्रीय स्तर पर कैंसर अवेयरनेस डे मनाया जाता है.

ये भी पढ़ें- ICAI CA फाउंडेशन, इंटरमीड‍िएट पर‍िणाम जारी, इस डायरेक्‍ट ल‍िंक पर चेक करें

UP: अब निजी मेडिकल कॉलेजों की फीस तय करेगी सरकार, समित ऐसे रखेगी निगरानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 2:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर