• Home
  • »
  • News
  • »
  • chandigarh
  • »
  • अब हरियाणा सरकार बेचेगी सस्ती दाल !

अब हरियाणा सरकार बेचेगी सस्ती दाल !

दालों की कीमत को नियंत्रण में लाने के लिए मनोहर सरकार ने कवायद तेज कर दी है. हरियाणा सरकार अब थोक विक्रेताओं के साथ मिलकर प्रदेश भर में सस्ती दरों पर दालें बेचेगी. दरअसल, लोगों को सस्ती दाल मिले इसके लिए खाद्य आपूर्ति विभाग ने एक फार्मूला तैयार किया है.

दालों की कीमत को नियंत्रण में लाने के लिए मनोहर सरकार ने कवायद तेज कर दी है. हरियाणा सरकार अब थोक विक्रेताओं के साथ मिलकर प्रदेश भर में सस्ती दरों पर दालें बेचेगी. दरअसल, लोगों को सस्ती दाल मिले इसके लिए खाद्य आपूर्ति विभाग ने एक फार्मूला तैयार किया है.

दालों की कीमत को नियंत्रण में लाने के लिए मनोहर सरकार ने कवायद तेज कर दी है. हरियाणा सरकार अब थोक विक्रेताओं के साथ मिलकर प्रदेश भर में सस्ती दरों पर दालें बेचेगी. दरअसल, लोगों को सस्ती दाल मिले इसके लिए खाद्य आपूर्ति विभाग ने एक फार्मूला तैयार किया है.

  • Share this:
दालों की कीमत को नियंत्रण में लाने के लिए मनोहर सरकार ने कवायद तेज कर दी है. हरियाणा सरकार अब थोक विक्रेताओं के साथ मिलकर प्रदेश भर में सस्ती दरों पर दालें बेचेगी. दरअसल, लोगों को सस्ती दाल मिले इसके लिए खाद्य आपूर्ति विभाग ने एक फार्मूला तैयार किया है.

इसके तहत थोक विक्रेताओं के साथ मिलकर सरकार दाल बेचने का काम करेगी. खास बात है कि ऐसे विक्रेताओं को मार्किट फीस में छूट दी जाएगी. विभाग का मानना है कि इससे दो फायदे होंगे. एक तो ये कि थोक विक्रेता डायरेक्ट सेल करेगा तो दूसरा परचून विक्रेताओं को जाने वाले मार्जन बचेगा. दूसरा मार्केट फीस में छूट मिलने से भी दाल सस्ती मिलेगी.

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एसएस प्रसाद के मुताबिक थोक विक्रेताओं से बातचीत के बाद ही ये फैसला लिया गया है. सरकार के मुताबिक इस फैसले के बाद हरियाणा में परचून में चना दाल 58 रुपए, मूंग दाल 95 से 100 रुपए, मसूर 75 से 80 रुपए, और उड़द दाल 120 से 125 रुपए से अधिक में नहीं बेची जाएगी.

इसके साथ ही हरियाणा में थोक विक्रेता दालों का 250 क्विंटल से ज्यादा का स्टॉक नहीं ऱख सकते. वही परचून विक्रेता 25 क्विंटल तक का स्टॉक रख सकेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज