Home /News /chhattisgarh /

पंद्रह करोड़ चार साल से  हैं खाते में,  शुरू भी नहीं हुआ पेयजल के लिए  काम

पंद्रह करोड़ चार साल से  हैं खाते में,  शुरू भी नहीं हुआ पेयजल के लिए  काम

जांजगीर नगर पालिका के खाते में चार साल से 15 करोड़ रुपये में जमा हैं, इसके बावजूद नगर पालिका पेय जल आपूर्ति को लेकर जरा भी गंभीर नहीं है. चम्पा के हसदेव नदी से जिला मुख्यालय में पानी लाने की महत्वकांक्षी योजना की के काम की अभी तक शुरुआत भी नहीं हो सकी है.इस दौरान नगर पालिका में पाँच मुख्‍य नगरपालिका अधिकारी (सीएमओ) बदल चुके हैं लेकिन किसी ने भी इस योजना को लेकर जरा भी गंभीरता नहीं दिखाई है

अधिक पढ़ें ...
    जांजगीर नगर पालिका के खाते में चार साल से 15 करोड़ रुपये में जमा हैं, इसके बावजूद नगर पालिका पेय जल आपूर्ति को लेकर जरा भी गंभीर नहीं है. चम्पा के हसदेव नदी से जिला मुख्यालय में पानी लाने की महत्वकांक्षी योजना की के काम की अभी तक शुरुआत भी नहीं हो सकी है.

    इस दौरान नगर पालिका में पाँच मुख्‍य नगरपालिका अधिकारी (सीएमओ) बदल चुके हैं लेकिन किसी ने भी इस योजना को लेकर जरा भी गंभीरता नहीं दिखाई है.

    जांजगीर नगर पालिका के सीएमओ दिनेश कोसरिया यह तो मानते हैं कि हसदेव नदी में इंटकवेल बना कर जांजगीर जिला मुख्यालय में पानी लाने की योजना है जिसके लिए राज्य शासन में पंद्रह करोड़ रुपये पालिका के खाते में भेज चुकी हैं लेकिन कार्य कब तक प्रारम्भ होगा इसके सवाल के जवाब में चुप्पी साध ले रहे हैं.

    पालिका के नेता प्रतिपक्ष विवेक सिसोदिया के मुताबिक पालिका और पीएचई विभाग तय नहीं कर पा रहा है कि यह काम कौन एजेंसी करेगी. नेता प्रतिपक्ष हसदेव से पानी लाने की इस महत्वकांक्षी योजना के पूरा होने पर सवालिया निशान लगाते हुए पालिका पर लापरवाही और भ्रष्‍टाचार का आरोप लगा रहे है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर