अर्जुंदा नगर पंचायत अध्यक्ष दुकानों में आगजनी के आरोप में गिरफ्तार

बालोद जिले के अर्जुंदा नगर पंचायत के अध्यक्ष और भाजपा नेता हरीश चंद्राकर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. 27 मार्च की दरमियानी रात को अर्जुन्दा नगर के 8 दुकानों में आगजनी हुई थी, जिसमें लाखों का सामान जलकर खाक हुआ था. इसी मामले में नगर पंचायत अध्यक्ष आरोपी हैं, जो फरार चल रहे थे.

Santosh Kumar Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: May 17, 2018, 11:19 PM IST
अर्जुंदा नगर पंचायत अध्यक्ष दुकानों में आगजनी के आरोप में गिरफ्तार
अर्जुंदा नगर पंचायत अध्यक्ष पुलिस हिरासत में
Santosh Kumar Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: May 17, 2018, 11:19 PM IST
बालोद जिले के अर्जुंदा नगर पंचायत के अध्यक्ष और भाजपा नेता हरीश चंद्राकर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. नगर पंचायत अध्यक्ष को गिरफ्तार कर गुंडरदेही न्यायालय में पेश किया गया. न्यायालय ने जमानत अर्जी खारिज कर आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा. 27 मार्च की दरमियानी रात को अर्जुन्दा नगर के 8 दुकानों में आगजनी हुई थी, जिसमें लाखों का सामान जलकर खाक हुआ था. मामले की जांच के बाद पता चला कि अर्जुन नगर पंचायत के अध्यक्ष हरीश चंद्राकर ने जानबूझकर इन दुकानों को आग लगाया था.

इसके बाद 5 अप्रैल को जांच के बाद अर्जुन्दा थाने में हरीश चंद्राकर के खिलाफ आईपीसी की धारा 436 के तहत मामला दर्ज किया गया. मामला दर्ज होने के बाद से ही नगर पंचायत अध्यक्ष हरीश चंद्राकर फरार चल रहे थे. पुलिस लगातार उनकी खोजबीन कर रही थी. गुरुवार 17 मई को पुलिस को सूचना मिली कि हरीश चंद्राकर दुर्ग में है. पुलिस ने दुर्ग में दबिश देकर उन्हें गिरफ्तार किया और आदालत में पेश कर उसे जेल भेज दिया. इस घटना के बाद से अर्जुन्दा नगर में अध्यक्ष हरीश चन्द्राकर के खिलाफ काफी आक्रोश थ.गिरफ्तारी को लेकर लगातार मांग की जा रही थी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर