लाइव टीवी

शादियों में काम करने के बहाने करते थे घर की रेकी, फिर उड़ा देते थे लाखों की ज्वेलरी

Santosh Kumar Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: October 16, 2019, 9:05 AM IST
शादियों में काम करने के बहाने करते थे घर की रेकी, फिर उड़ा देते थे लाखों की ज्वेलरी
पुलिस ने चोरों को गिरफ्तार कर चोरी की गई सोने चांदी के जेवर बरामद कर लिए हैं. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

बालोद (Balod) की गुंडरदेही पुलिस (Gundardehi) ने इस मामले में तीन शातिर अंतरराज्यीय गिरोह के चोरों को पकड़ने का दावा किया है.

  • Share this:
बालोद. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बालोद (Balod) जिले की ​पुलिस (Police) ने चोरों के एक अंतरराज्यीय गिरोह के सदस्यों को पकड़ने का दावा किया है. पुलिस (Police) का दावा है कि गिरोह (Gang) के सदस्य शादी-ब्‍याह में काम करने के लिए जाते थे और इसी दौरान वे घरों की रेकी करते थे. इसके बाद मौका पाते ही लाखों रुपयों का सामान लेकर फरार हो जाते थे. बालोद जिले के विभिन्न इलाकों समेत इस गिरोह के सदस्यों ने दूसरे जिलों और राज्यों में भी चोरी की वारदात को अंजाम दिया था.

बालोद (Balod) की गुंडरदेही पुलिस (Gundardehi) ने इस मामले में तीन शातिर अंतरराज्यीय गिरोह के चोरों को पकड़ने का दावा किया है. कुछ दिन पहले गुंडरदेही थाना क्षेत्र के ग्राम खप्परवाड़ा में एक सूने मकान में 1 लाख रुपये से अधिक के सोने चांदी के जेवर की चोरी की गई थी. इसी मामले में जांच के दौरान पुलिस ने भिलाई के जामुल स्थित एक मकान से आरोपी चोरों को गिरफ्तार किया है.

ये है मास्टर माइंड
बालोद के डीएसपी दिनेश सिन्हा ने बताया कि पूरे मामले में जामुल से शिवा मानिकपुरी, अजीत रजक और अनीश कुरैशी को गिरफ्तार किया है. आरोपी देश के कई राज्यों में चोरी की घटना को अंजाम दे चुके हैं. जहां ये चोर शादियों में काम करने के लिए जाते थे और उन घरों को चिह्नांकित करते थे. अनीस कुरैशी इस गिरोह का मास्टर माइंड था. आरोपी ने अपना मध्यप्रदेश के अनुपपुर का पहचान पत्र भी बदल डाला है. पुलिस ने चोरों को गिरफ्तार कर चोरी की गई सोने चांदी के जेवर बरामद कर लिए हैं. तीनों चोरों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज कर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट चुकी है.

ये भी पढ़ें:
'छत्तीसगढ़ के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को सलाखों के पीछे भेजने की तैयारी' 

छत्तीसगढ़ में न तो सत्ता और न ही संगठन का विस्तार कर रही है कांग्रेस, सता रहा किस बात का डर?  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बालोद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 8:42 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर